राखी भेजने के लिए डाक विभाग के 'वाटरप्रूफ' डिजाइनर लिफाफे

By भाषा पीटीआई
July 19, 2020, Updated on : Sun Jul 19 2020 08:31:30 GMT+0000
राखी भेजने के लिए डाक विभाग के 'वाटरप्रूफ' डिजाइनर लिफाफे
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

लखनउ, डाक विभाग ने रक्षाबंधन के मौके पर राखी भेजने के लिए मात्र दस रुपये कीमत के 'वाटरप्रूफ' डिजाइनर लिफाफे तैयार किये हैं।


k

प्रतीकात्मक चित्र (साभार: shutterstock)


लखनउ मुख्यालय परिक्षेत्र के डाक सेवाओं के निदेशक कृष्ण कुमार यादव ने शनिवार को कहा,

'कोरोना संक्रमण के बीच भाई-बहन के प्यार का प्रतीक रक्षाबंधन पर्व तीन अगस्त को मनाया जायेगा और इसके लिए बहनों ने अभी से तैयारी शुरू कर दी है। ऐसे में बहनों द्वारा भाइयों की कलाइयों पर बँधने वाली राखी सुरक्षित रूप में एवं तीव्र गति से भेजी जा सके, इसके लिए डाक विभाग ने विशेष प्रबन्ध किये हैं।'

यादव ने कहा,

'इस हेतु जीपीओ और प्रधान डाकघरों में विशेष रुप से निर्मित रंगीन डिजाइनर वाटरप्रूफ राखी लिफाफों की ब्रिकी आरम्भ कर दी गई है।'

यादव ने कहा कि ये डिजानइर राखी लिफाफे वाटर प्रूफ तथा सुरक्षा की दृष्टि से मजबूत हैं, जिससे बारिश के मौसम में भी बहनों द्वारा भेजी गई राखियाँ सुदूर रहने वाले भाइयों तक सुरक्षित पहुँच सकें। राखी लिफाफों को चिपकाने हेतु इनमें विशेष स्टिकर का प्रयोग किया गया है जिससे इस हेतु गोंद की आवश्यकता नहीं होगी।


उन्होंने बताया कि इन राखी लिफाफों का मूल्य दस रुपये मात्र है जो डाक शुल्क के अतिरिक्त है। वाटरप्रूफ लिफाफे के बाएं हिस्से के ऊपरी भाग में भारतीय डाक के लोगो (निशान) के साथ अंग्रेजी में राखी लिफाफा और नीचे दाहिने तरफ 'हैप्पी राखी' लिखा गया है।


यादव ने कहा कि रंगीन और डिजाइनर होने की वजह से इन्हें अन्य डाकों से अलग करने में समय की बचत और पर्व के पूर्व वितरण कराने में भी सहूलियत होगी।


लखनऊ जीपीओ के चीफ पोस्टमास्टर आर एन यादव ने बताया कि जीपीओ से सभी प्रधान डाकघरों को बिक्री के लिए राखी लिफाफे भिजवाए जा रहे हैं।



Edited by रविकांत पारीक