एक्टर से उद्यमी बनीं आशका गोराडिया ने खड़ा किया कॉस्मेटिक ब्रांड, 100 करोड़ के रेवेन्यू का है टारगेट

पूर्व-बियर्डो संस्थापक प्रियांक शाह और आशुतोष वलानी के साथ-साथ अभिनेता-उद्यमी आशका गोराडिया ने 2018 में अहमदाबाद में रेनी कॉस्मेटिक्स (Renee Cosmetics) की शुरुआत की, जिसमें फैब 5-इन -1 लिपस्टिक, बोल्ड 3डी आईलैशेस जैसे प्रोडक्ट शामिल हैं।
6 CLAPS
0

हाल के वर्षों में, इंटरनेट की बढ़ती पहुंच और भारत में वेस्टर्न कल्चर को अपनाने से कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स के लिए ऑनलाइन मार्केट की अच्छी खासी ग्रोथ हुई है। मॉर्डर इंटेलिजेंस एंड स्टेटिस्टा के आंकड़ों के अनुसार, डिजिटल वेव से प्रेरित होकर, कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स के लिए भारतीय बाजार 2020 से 2025 के बीच 4.23 प्रतिशत के सीएजीआर से बढ़कर 20 बिलियन डॉलर होने का अनुमान है।

इस पृष्ठभूमि को देखते हुए एक्टर से उद्यमी बनीं आशका गोराडिया ने अपने ब्रांड रेनी कॉस्मेटिक्स के तहत कॉस्मेटिक प्रोडक्ट बनाने और बेचने के अपने सपने को साकार किया। कॉस्मेटिक मैन्युफैक्चरिंग ब्रांड का दावा है कि यह 100 प्रतिशत पैराबेन-फ्री और क्रुएल्टी फ्री यानी इन्हें बनाने में किसी जानवरों को नुकसान नहीं पहुंचाया गया है। ये प्रोडक्ट्स एफडीए अप्रूव्ड हैं।

आशका ने YourStory को बताया,

"मेकअप सशक्तिकरण का एक रूप है, और अपने ब्रांड के माध्यम से, मैं महिलाओं की प्राकृतिक सुंदरता का जश्न मनाने वाले प्रोडक्ट बनाना चाहती थी। पूर्व बियर्डो संस्थापक प्रियांक शाह और आशुतोष वलानी के साथ, मैंने 2018 में अहमदाबाद में रेनी की शुरुआत की और फैब 5-इन -1 लिपस्टिक, बोल्ड 3डी आईलैशेस, आदि जैसे कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स को लॉन्च किया।"

गुजरात में रेनी के मैन्युफैक्चरिंग पार्टनर्स द्वारा बनाए गए प्रोडक्ट्स को इसकी वेबसाइट, साथ ही Nykaa, Amazon, Flipkart और सोशल मीडिया चैनलों पर बेचा जाता है। आशका ब्रांड की बिक्री के आंकड़ों का खुलासा नहीं करती हैं, लेकिन कहती हैं कि स्ट्रेटजी ने काम किया है, और रेनी जल्द ही छोटे मैन्युफैक्चरिंग एंटरप्राइज से 50 कर्मचारियों की एक टीम में विकसित हो गई।

उन्होंने कहा, "हमारा रेवेन्यू 30 गुना बढ़ गया है, और हम अब 100 करोड़ रुपये के एआरआर (एनुअल रिकरिंग रेवेन्यू) को टारगेट कर रहे हैं। हमने पिछले तीन महीनों में लगभग 75,000 उपभोक्ताओं को जोड़ा है।"

प्रियांक शाह, आशका गोराडिया और आशुतोष वलानी

ब्रांड के शुरुआती दिन

आशका गुजरात से हैं। वह 16 साल की थीं जब वह एक्टिंग में अपना कैरियर बनाने के लिए मुंबई चली गई थीं। उन्हें एक टेलीविजन एक्टर के रूप में सफलता मिली लेकिन हमेशा अपने कॉस्मेटिक ब्रांड को लॉन्च करने के सपने को साकार करने के बारे में सोचती रहती थीं।

वे कहती हैं, "मुझे अलग-अलग लुक और मेकअप के साथ खेलना और प्रयोग करना पसंद है। इसलिए मैंने हमेशा अपने खुद के ब्रांड के बारे सोचा था, और यह एक सपना था जो लंबे समय से चल रहा था। मैंने इसे अपने पास रखा और रेनी को केवल तभी शुरू किया जब मेरे दोस्तों और परिवार ने मुझे प्रोत्साहित किया।”

अपने लिपस्टिक और आईलैश प्रोडक्ट के साथ शुरुआती सफलता को देखने के बाद, आशका ने कोहलीस्टिक आई रेंज, स्ट्रोब क्वीन हाइलाइटर्स, चेक मैट लिपस्टिक, ब्रश सेट, आइब्रो ग्रोथ रोल-ऑन, और मेकअप रिमूविंग बाम सहित अन्य में विविधता लाई।

वह कहती हैं, “प्रियांक और आशुतोष के समर्थन और अनुभव ने ब्रांड को वह दिशा दी जो मैं चाहती थी। वे एक नई कैटेगरी में जाकर उसका अनुभव करना चाहते थे और भारत की महिलाओं को कुछ देने के लिए, एक संतृप्त बाजार में प्रतिस्पर्धा कर रहे थे जिसे इनोवेशन की आवश्यकता थी।”

ब्रांड की शुरुआत 50 लाख रुपये के शुरुआती निवेश से हुई थी। सभी संस्थापकों की विशेषज्ञता और अनुभव को देखते हुए, एकत्रित संसाधन अपने सहयोगियों के विश्वास और भरोसे के साथ जुड़ते गए।

बाजार दृष्टिकोण और प्रतिस्पर्धा

रेनी प्रोडक्ट्स की औसत कीमत 500 रुपये से 550 रुपये के बीच है, और यह 18 से 35 वर्ष के बीच के टीयर I और II शहरों में महिलाओं को टारगेट करता है। आशका ने उन्हें "डिजिटली-फॉरवर्ड महिलाएं जो नए प्रोडक्ट्स के लिए ऑनलाइन खरीदारी का आनंद लेती हैं और जो नए ट्रेंड्स की तलाश में हैं" के रूप में वर्णित किया है।

रेनी कॉस्मेटिक्स प्रमुख कंपनियों की विशेषता वाले बाजार में प्रतिस्पर्धा कर रहा है, जिसमें कलरबार, लोटस हर्बल्स, लोरियल, और बहुत कुछ शामिल हैं। वह शुगर कॉस्मेटिक्स, Lakme, मेबेलिन और MyGlamm का नाम ब्रांड के कुछ प्रतियोगियों के रूप में रखती है।

वह कहती हैं, “हमारे प्रोडक्ट्स की यूएसपी एक हाई-क्वालिटी वाली डिलीवरी और पहले कभी न देखी गई हो ऐसी पैकेजिंग है जो लक्जरी होने का वादा करती है, और यह एक पॉकेट-फ्रेंडली कीमत पर दी जाती है। हमारे पास एक और फायदा यह है कि हम अपने ऑडियंस को हर तरह से जानते हैं। हम हमेशा बाजार की सुनते हैं, ट्रेंड्स पढ़ते हैं, और उसके अनुसार स्ट्रेटजी बनाते हैं।”

चुनौतियां और सबक

2020 में, ब्रांड ने मेकिंग इन इंडिया का महत्व समझा जब COVID-19 महामारी के कारण अंतर्राष्ट्रीय विक्रेताओं के साथ व्यापार बंद हो गया। वर्तमान में, रेनी एक ऐसे बाजार में अधिक आत्मनिर्भर बनने की योजना बना रहा है जहां बड़े, अंतर्राष्ट्रीय ब्रांड स्थापित हैं और बहुत अधिक खर्चा किया हुआ है।

आशका कहती हैं, “किसी भी अन्य व्यवसाय की तरह, हमने भी वे उतार-चढ़ाव देखे हैं जो एक महामारी के दौरान आए। लेकिन एक ऐसे बिजनेस होने के नाते जो महामारी में ग्रो हुआ है, हमने पिछले वर्ष में अपने समुदाय का विश्वास हासिल करने के महत्व को महसूस किया।"

एक युवा पीढ़ी के बीच इस तरह के कॉस्मेटिक प्रोडक्ट्स की एस्थेटिक अपील बढ़ रही है, और भारत को एशियाई क्षेत्र में कलर कॉस्मेटिक के लिए सबसे तेजी से विकसित देशों के रूप में देखा जाता है।

जैसा कि रेनी इस बाजार में आगे बढ़ने के लिए तैयार है और 100 करोड़ रुपये के एआरआर मार्क के बाद, अशाका प्रमुख प्रीमियम स्टोरों में एक मजबूत ऑफलाइन उपस्थिति स्थापित करना चाहती हैं।

Edited by Ranjana Tripathi

Latest

Updates from around the world