रेशमा का 'नाच बाजा डॉट कॉम' है भारत का पहला यूनिक ट्रांसजेंडर स्टार्टअप

  • +0
Share on
close
  • +0
Share on
close
Share on
close

इससे पहले शायद ही किसी ने कभी सोचा हो कि देश के ट्रांसजेंडर अपने यूनिक स्टार्टअप आइडिया, सुयोग्यता से मिसाल बन जाएंगे। बिहार की रेशमा, पुणे में वॉटर प्लांट चला रहीं ट्रांसजेंडर, देश की पहली ट्रांसजेंडर बैंकर मोनिका, प. बंगाल की सुमी दास, केरल की पहली ट्रांसजेंडर टीवी पत्रकार श्यालजा आदि कुछ ऐसे ही नाम हैं।

k

बैंगनी साड़ी में रेशमा प्रसाद


दो साल पहले बिहार के उद्योग विभाग ने पटना की ट्रांसजेंडर रेशमा प्रसाद के एनजीओ 'दोस्ताना सफर' को 'नाच बाजा डॉट कॉम' नाम से अपना स्टार्टअप चलाने के लिए 10 लाख रुपए का अनुदान दिया था। अब इस वेबसाइट के माध्यम से देशभर के लोग अपने यहां शादी-ब्याह, जन्मदिन, गोद भराई आदि घरेलू उत्सवों के लिए ट्रांसजेंडर समुदाय से सीधे संपर्क कर एप के जरिये ऑनलाइन बुकिंग कर लेते हैं। प्रोग्राम से मिलने वाली राशि में से सौ रुपए 'नाच बाजा डॉट कॉम' चलाने के लिए दे दिए जाते हैं। पिछले साल दिल्ली में आयोजित स्टार्टअप एक्सपो के 400 स्टॉलों के बीच रेशमा का स्टार्टअप भी निवेशकों को हैरत में डालता रहा। रेशमा का दावा है कि यह देश का पहला यूनिक ट्रांसजेंडर स्टार्टअप है। 


यूनिक बिजनेस मॉडल वाला रेशमा का 'नाच बाजा डॉट कॉम' ट्रांसजेंडर समुदाय को अपनी कलाओं के प्रदर्शन के माध्यम से सम्मानजनक जीवन में सहायक बन रहा है। वह इस स्टार्टअप के माध्यम से विदेशों तक अपने समुदाय के लोगों के साथ इस तरह के बिजनेस अनुभव साझा करना चाहती हैं। इस समय इससे बिहार, उत्तर प्रदेश, दिल्ली सहित दक्षिणी राज्यों के अच्छे शास्त्रीय गायक, नृत्यांगना से लेकर वाद्य यंत्र बजाने वाले हजारों कुशल ट्रांसजेंडर जुड़ चुके हैं। इसके माध्यम से उन्हे सैकड़ों उत्सवों तक सीधे पहुंच जाने का अवसर मिल रहा है।


यह भी एक यूनिक कोशिश मानी जा सकती है कि पुणे (महाराष्ट्र) में ट्रांसजेंडर ऐक्टिविस्ट लक्ष्मी नारायण के एक वॉटर प्लांट को पूरी तरह सिर्फ ट्रांसजेंडर संभाल रहे हैं। इसके पीछे भी ट्रांसजेंडरों को रोजगार से जोड़ने की परिकल्पना है। इन ट्रांसजेंडर्स में से ज्यादातर पहले भिक्षाटन से जीविका चलाती रही हैं। गत माह से अभी अपनी शुरुआत में यह प्लांट रोजाना दो सौ कैन मिनरल वाटर शहर की मल्टीनैशनल कंपनियों को सप्लाई कर रहा है। 





इसी तरह तिरुवनंतपुरम की पहली ऐसी ट्रांसजेंडर जारा शेख टैक्नोपार्क में यूएसटी ग्लोबल कंपनी के ह्यूमन रिसोर्स डिपार्टमेंट में बतौर सीनियर एसोसिएट काम कर रही हैं। सहोदरी फाउंडेशन चला रहीं कल्कि सुब्रमण्यम भारत की पहली ट्रांसजेंडर कारोबारी हैं। देश के टॉप हेयर डिजाइनर में शुमार सिल्विया रोजर्स के विभिन्न शहरों में 'सिल्विया' नाम से सैलून हैं। मित्र फाउंडेशन की हेड ट्रांसजेंडर छेत्री रूद्राणी दिल्ली में मॉडलिंग एजेंसी चला रही हैं। सेल्स टैक्स अफसर पिता भगवान ढोली बीएसएनएल की रिटायर्ड एम्प्लाई अनीमा रानी भौमिक की पुत्री एवं पटना यूनिवर्सिटी ग्रेजुएट, पटना लॉ कॉलेज से एलएलबी देश की पहली ट्रांसजेंडर बैंकर मोनिका दास पटना के हनुमान नगर स्थित सिंडिकेट बैंक में पिछले तीन वर्ष से क्लर्क का जॉब कर रही हैं। उनके दो भाई भी बैंक में नौकरी कर रहे हैं। 


इग्नू से ग्रेजुएट कर कूचबिहार (पश्चिम बंगाल) में जज बन चुकीं ट्रांसजेंडर सुमी दास को आज भला कौन नहीं जानता है। इग्नू से बीए (लिटरेचर) और तिरुवनंतपुरम से इलेक्ट्रॉनिक पत्रकारिता में डिप्लोमा केरल के 'कैराली' चैनल में कार्यरत देश की पहली ट्रांसजेंडर टीवी जर्नलिस्ट श्यालजा तो चंद्रयान-2 की लाइव रिपोर्टिंग भी कर चुकी हैं। अब तो खासकर एलजीबीटी पर फोकस जॉब फेयर भी आयोजित होने लगे हैं।


कुछ माह पहले ही प्राइड सर्कल संस्था की ओर से बेंगलुरु में आयोजित 'राइस' नामक जॉब फेयर में ट्रांसजेंडर समुदाय के स्टार्टअप्स प्रॉडक्ट वाले स्टॉलों पर तान्या जॉर्ज, अंतरा, अभिनव शिखर रिद्धिमन जैन आदि के आभूषणों, कपड़ों, कस्टम-मेड जूतों, स्किन केयर, रेनबो मिटीरियल, बेकरी आदि ने उद्यमियों, कारपोरेट हस्तियों को आकर्षित किया। इस समुदाय को प्रोत्साहित करने के लिए केरल में सामाजिक न्याय विभाग की ओर से देश का पहला सरकारी ट्रांसजेंडर कला उत्सव 'वर्णपकित्त-2019' आयोजित किया जाना भी एक स्वागत योग्य कदम है। 





बिजनेस और टेक्नोलॉजी के क्षेत्र में भी अब ट्रांसजेंडर समुदाय ने हाल के वर्षों में जोरदार पहल की है। इंडिया में किसी मल्टीनेशनल कंपनी में काम करने वाली तिरुवनंतपुरम की देश की पहली ट्रांसजेंडर जारा शेख टैक्नोपार्क में यूएसटी ग्लोबल कंपनी के ह्यूमन रिसोर्स डिपार्टमेंट में बतौर सीनियर एसोसिएट काम कर रही हैं।


सहोदरी फाउंडेशन की कल्कि सुब्रमण्यम भारत की पहली ट्रांसजेंडर कारोबारी हैं। लंदन के सेंट ल्यूक अस्पताल में सर्जन रहीं सिल्विया रोजर्स सिल्विया भारत की पहली ट्रांसजेंडर टॉप हेयर डिजाइनर्स में से एक हैं। मित्र फाउंडेशन की हेड रूद्राणी छेत्री दिल्ली में मॉडलिंग एजेंसी चला रही हैं।





  • +0
Share on
close
  • +0
Share on
close
Share on
close
Report an issue
Authors

Related Tags

Latest

Updates from around the world

Our Partner Events

Hustle across India