कौन है सैम केर, FIFA इंटरनेशनल के कवर पेज पर छपने वाली पहली महिला फुटबॉलर

वर्ष 2019 में वर्ल्‍ड कप में है‍ट्रिक बनाने के साथ ही सैम केर ने इतिहास रच दिया. वह ऐसा करने वाली ऑस्‍ट्रेलिया की पहली (महिला और पुरुष दोनों में) फुटबॉलर थीं.
0 CLAPS
0

ऑस्‍टेलिया की फुटबॉल टीम की धुंआधार स्‍ट्राइकर सैम केर इतिहास बनाने जा रही हैं. वह FIFA इंटरनेशनल के कवर पेज पर छपने वाली पहली महिला होंगी. EA Sports FIFA ने अपने आधिकारिक ट्टिवटर हैंडल से कवर की एक आर्ट पिक्‍चर साझा करते हुए इसकी घोषणा की है. फ्रेंच फुटबॉल प्‍लेयर किलिआप बापे और सैम केर की फोटो साझा करते हुए EA Sports FIFA ने लिखा है- “दो अभूतपूर्व शक्तियां एक साथ. अल्‍टीमेट स्‍ट्राइक पार्टनरशिप.”

केर दुनिया की पहली महिला फुटबॉल खिलाड़ी हैं, जो FIFA इंटरनेशनल के ग्‍लोबर कवर पर दिखाई देंगी. आइए हम आपको बताते हैं कि सैम केर कौन हैं.

सैम केर का पूरा नाम समांथा मे केर है. 28 साल की समांथा ऑस्‍ट्रेलियाई मूल की हैं और प्रोफेशनल फुटबॉल प्‍लेयर हैं. समांथा चेलसिया फुटबॉल क्‍लब विमेन से फॉरवर्ड खेलती हैं. व‍ह 2019 से ऑस्‍ट्रेलिया विमेंस नेशनल सॉसर टीम की कप्‍तानी संभाल रही हैं. वह अब तक की ऑस्‍ट्रेलिया की सबसे तेजतर्रार महिला फुटबॉल खिलाड़ी हैं. वह इकलौती महिला फुटबॉल खिलाड़ी हैं, जो तीन अलग-अलग लीग और महाद्वीपों से गोल्‍डन बूट जीत चुकी हैं.

जन्‍म और शुरुआती जीवन

समांथा का जन्‍म ऑस्‍ट्रेलिया के पर्थ में स्थित एक उपनगर ईस्‍ट फ्रीमंताल में हुआ. उनकी मां रोक्‍जेन खुद एक एथलेटिक परिवार से ताल्‍लुक रखती हैं. उनके पिता और अंकल खुद प्रोफेशनल फुटबॉल प्‍लेयर रह चुके हैं. समांथा के पिता रोजर केर का जन्‍म कलकत्‍ता में हुआ था. उनके पिता अंग्रेज और मां हिंदुस्‍तानी थीं, जो खुद भी बॉस्‍केटबॉल प्‍लेयर थीं.

समांथा बहुत कम उम्र से ही ऑस्‍ट्रेलिया रूल्‍स फुटबॉल के लिए खेलने लगीं. उनके पिता और भाई डैनियल केर दोनों ऑस्‍ट्रेलिया रूल्‍स फुटबॉल के लिए खेल चुके थे. लेकिन समांथा के 12 साल की उम्र तक ऑस्‍ट्रेलिया रूल्‍स के लिए खेलने की वजह जेंडर से जुड़े पूर्वाग्रह थे. उन्‍हें अपने पिता और भाई के मुकाबले मेनस्‍ट्रीम फुटबॉल में आने में थोड़ा वक्‍त लगा.

समांथा ने अपने प्रोफेशनल कॅरियर की शुरुआत 15 साल की उम्र में पर्थ ग्‍लोरी के लिए खेलने के साथ की. सिडनी फुटबॉल क्‍लब विमेन के लिए खेलने से पहले साल 2008 से लेकर 2012 तक वह पर्थ ग्‍लोरी से खेलीं.

2013 में उन्‍होंने नेशनल विमेंस सॉसर्स लीग की तरफ से (NWSL) वेस्‍टर्न न्‍यूयॉर्क फ्लैश ज्‍वॉइन किया और यह उनके धुंआधार खेल का ही नतीजा था कि उनकी टीम NWSL शील्‍ड जीत गई. बाद में उन्‍होंने शिकागो रेड स्‍टार्स और स्‍काई ब्‍लू एफसी की तरफ से भी उसी लीग में हिस्‍सा लिया.

वर्ष 2019 में वर्ल्‍ड कप में है‍ट्रिक बनाने के साथ ही उन्‍होंने इतिहास रच दिया. वह ऐसा करने वाली ऑस्‍ट्रेलिया की पहली (महिला और पुरुष दोनों में) फुटबॉलर थीं.

Edited by Manisha Pandey

Latest

Updates from around the world