1,000 इंजीनियरों को हायर करने की तैयारी में Samsung

1,000 इंजीनियरों को हायर करने की तैयारी में Samsung

Wednesday November 30, 2022,

3 min Read

भारत के सबसे बड़े कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स ब्रांड में से एक सैमसंग, पूरे भारत में अपने रिसर्च एण्ड डेवलपमेंट इंस्टीट्यूट्स के लिए लगभग 1,000 इंजीनियरों को हायर करने की योजना बना रहा है, जिसमें सैमसंग आर एंड डी इंस्टीट्यूट बैंगलोर, सैमसंग आर एंड डी इंस्टीट्यूट नोएडा, सैमसंग आर एंड डी इंस्टीट्यूट दिल्ली और बेंगलुरु में स्थित सैमसंग सेमीकंडक्टर इंडिया रिसर्च शामिल है.

ये युवा इंजीनियर 2023 में कंपनी में शामिल होंगे और आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस, मशीन लर्निंग, डीप लर्निंग, इमेज प्रोसेसिंग, आईओटी, कनेक्टिविटी, क्लाउड, बिग डेटा, बिजनेस इंटेलिजेंस, प्रेडिक्टिव एनालिसिस, कम्युनिकेशन नेटवर्क्स, सिस्टम ऑन ए चिप (एसओसी) और स्टोरेज सॉल्यूशंस पर काम करेंगे.

सैमसंग कंप्यूटर साइंस और उससे संबंधित सभी ब्रांच (AI/ML/कंप्यूटर विजन/VLSI आदि), इनफॉर्मेशन टेक्नोलॉजी, इलेक्ट्रॉनिक्स इंस्ट्रूमेंटेशन, एंबेडेड सिस्टम और कम्युनिकेशन नेटवर्क जैसे कई क्षेत्रों से इंजीनियरों की भर्ती करेगा. इसके अलावा, सैमसंग मैथमेटिक्स और कंप्यूटिंग और सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग जैसे विषयों से भी हायरिंग करेगा.

सैमसंग इंडिया में ह्यूमन रिसोर्स के हेड समीर वाधवन ने कहा कि इनोवेशन और अत्याधुनिक टेक्नोलॉजी पर ध्यान केन्द्रित करने के साथ सैमसंग के रिसर्च एवं डेवलपमेंट सेंटर्स का लक्ष्य भारत के टॉप इंजीनियरिंग इंस्टीट्यूट्स से नए टैलेंट को हायर करना है, जो बड़े बदलाव लाने वाले इनोवेशन, टेक्नोलॉजीज, प्रोडक्ट्स और डिजाइनों पर काम करेंगे. इसमें भारत केंद्रित इनोवेशन भी शामिल हैं, जो लोगों के जीवन को और भी बेहतर बनाएंगे. यह डिजिटल इंडिया का मजबूत बनाने के हमारे विजन के अनुरूप है.

हायरिंग के इस सीजन में सैमसंग आर एंड डी सेंटर आईआईटी मद्रास, आईआईटी दिल्ली, आईआईटी हैदराबाद, आईआईटी बॉम्बे, आईआईटी रुड़की, आईआईटी खड़गपुर, आईआईटी कानपुर, आईआईटी गुवाहाटी, आईआईटी बीएचयू, बीआईटीएस पिलानी और आईआईएससी जैसे टॉप आईआईटी से लगभग 200 इंजीनियरों को हायर करेगा. सैमसंग आरएंडडी सेंटर्स ने आईआईटी और अन्य टॉप इंस्टीट्यूट्स के छात्रों को 400 से अधिक प्री प्लेसमेंट ऑफर (पीपीओ) की पेशकश की है.

भारत में सैमसंग रिसर्च सेंटर्स ने मल्टी-कैमरा सॉल्यूशंस, टेलीविजन, डिजिटल एप्लिकेशंस, 5G, 6G और अल्ट्रा-वाइडबैंड वायरलेस कम्यूनिकेशन्स प्रोटोकॉल जैसे क्षेत्रों में 7,500 से अधिक पेटेंट दाखिल किए हैं. इनमें से कई पेटेंटों का व्यावसयिक उपयोग सैमसंग के फ्लैगशिप गैलेक्सी स्मार्टफोन्स, स्मार्टवॉच और नेटवर्क इक्विपमेंट सहित अन्य में किया गया है.

बीते कुछ वर्षों में, भारत में सैमसंग के आर एंड डी सेंटर्स ने पेटेंट दाखिल करने का एक मजबूत कल्चर तैयार किया है. उदाहरण के लिए सैमसंग आर एंड डी इंस्टीट्यूट बैंगलोर में पेटेंट दाखिल करने वालों की एक बड़ी संख्या 5G, एआई, एमएल, आईओटी, कैमरा और विजन टेक्नोलॉजीज़ जैसे उभरते डोमेन में पहली बार के आविष्कारक हैं. इसके साथ आर एंड डी केंद्र भारत में किए गए आविष्कारों के लिए भारत के नंबर वन पेटेंट फाइलर के रूप में उभरा है. इन्हें सबसे पहले भारत में दायर किया गया है और राष्ट्रीय आईपी पुरस्कार 2021 और 2022 भी जीता है.