जल्द ही देश में शुरू होंगे ऑनलाइन डिग्री कोर्स, बजट की घोषणाओं से एडटेक सेक्टर को मिलेगा बूस्ट

By yourstory हिन्दी
February 03, 2020, Updated on : Mon Feb 03 2020 14:31:30 GMT+0000
जल्द ही देश में शुरू होंगे ऑनलाइन डिग्री कोर्स, बजट की घोषणाओं से एडटेक सेक्टर को मिलेगा बूस्ट
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

सरकार ने बजट में देश में एडटेक सेक्टर को बढ़ावा देने वाली योजनाओं की घोषणा की है। सरकार ऑनलाइन डिग्री कोर्स की तरफ भी आगे बढ़ने जा रही है।

सांकेतिक चित्र

सांकेतिक चित्र



बजट की घोषणा के दौरान वित्त मंत्री के भाषण के अनुसार आने वाले कुछ ही समय में देश के टॉप 100 शिक्षण संस्थान ऑनलाइन डिग्री जारी करना शुरू कर देंगे। सरकार का यह कदम एडटेक सेक्टर को बढ़ावा देगा, जिससे कोर्सेरा और अपग्रैड जैसे स्टार्टअप को बूस्ट मिल सकता है।


सरकार के इस कदम से उच्च शिक्षा से वंचित छात्रों को मौके मिलेंगे। देश में 18 से 23 आयु वर्ग में उच्च शिक्षा के लिए आगे बढ़ने वाले छात्रों की संख्या कुल पात्र छात्रों की महज 26.3 प्रतिशत है। यह आंकड़े 2018-2019 के हैं।


अपग्रैड के को-फाउंडर रॉनी स्क्रूवाला ने इकनॉमिक टाइम्स से बात करते हुए कहा,

“कंपनी नई सरकार की नीति पर प्रकाश डालते हुए अपने व्यापार को तीन गुना बढ़ाएगी। यह व्यापार के लिए बहुत बड़ा अवसर है। यह विश्वविद्यालयों, छात्रों और नियोक्ताओं की मानसिकता को भी बदलेगा और ऑनलाइन शिक्षा को वैधता प्रदान करेगा। यह एक इंडस्ट्री के लिए एक बड़ी सफलता है।"

अपग्रैड कॉलेज के छात्रों, कार्य-वर्ग और उद्यमों को डेटा साइंस, टेक्नोलॉजी, मैनेजमेंट और एमबीए के क्षेत्रों में कार्यक्रम प्रदान करता है। देश की एडटेक इंडस्ट्री प्राथमिक शिक्षा से कॉलेज तक के लिए ऑनलाइन कोर्स उपलब्ध करती है।


भारत का एडटेक उद्योग प्राथमिक विद्यालय से कॉलेज के लिए परीक्षा का अधिकार देने के लिए ऑनलाइन पाठ्यक्रम प्रदान करता है। यह विदेशी और भारतीय विश्वविद्यालयों से पाठ्यक्रम भी प्रदान करता है। यह विदेशी और भारतीय विश्वविद्यालयों से पाठ्यक्रम भी प्रदान करता है।


इस साल के आम बजट में मोदी सरकार ने जल्द ही नई शिक्षा नीति लाने की भी घोषणा की है। सरकार ने आम बजट में शिक्षा के लिए 99 हज़ार 3 सौ करोड़ रुपये के बजट के आवंटन का भी प्रस्ताव रखा है।


बजट की घोषणाओं में वित्त मंत्री ने देश में राष्ट्रिय पुलिस विश्वविद्यालय और राष्ट्रिय न्यायिक विश्वविद्यालय बनाने का भी प्रस्ताव रखा है।