खेल मंत्री, नाडा दूत ने डोपिंग मुक्त खेल संस्कृति पर जोर दिया, खिलाड़ियों से प्रतिबंधित पदार्थों से दूर रहने का आग्रह

By भाषा पीटीआई
January 15, 2020, Updated on : Wed Jan 15 2020 07:01:30 GMT+0000
खेल मंत्री, नाडा दूत ने डोपिंग मुक्त खेल संस्कृति पर जोर दिया, खिलाड़ियों से प्रतिबंधित पदार्थों से दूर रहने का आग्रह
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

खेल मंत्री किरेन रीजीजू और नाडा के दूत सुनील शेट्टी ने साफ सुथरी और डोपिंगमुक्त खेल संस्कृति पर जोर देते हुए भारतीय खिलाड़ियों से प्रतिबंधित पदार्थों से दूर रहने का आग्रह किया।


क

फाइल फोटो



गुवाहाटी, खेल मंत्री किरेन रीजीजू और नाडा के दूत सुनील शेट्टी ने साफ सुथरी और डोपिंगमुक्त खेल संस्कृति पर जोर देते हुए भारतीय खिलाड़ियों से प्रतिबंधित पदार्थों से दूर रहने का आग्रह किया।


युवाओं को डोपिंग के खतरों को लेकर जागरूक करने संबंधी एक कार्यशाला में राष्ट्रीय डोपिंग निरोधक एजेंसी के दूत अभिनेता शेट्टी ने बच्चों की जिंदगी में खेलों के महत्व का जिक्र किया।


उन्होंने कहा,

‘‘आप अपनी जिंदगी में कई गलतियां कर सकते हैं लेकिन कुछ गलत मत खाइये। मैने अपने जीवन में जो कुछ भी पाया, वह खेलों की वजह से ही है।’’


उन्होंने कहा,

‘‘मैं मार्शल आर्ट खेलता था और काफी मेहनत करता था। मैं अभिनेता इसलिये बना क्योंकि मैं खिलाड़ी था। मैं अभी भी खुद को खेलो से जुड़ा मानता हूं।’’


यहां खेलो इंडिया खेल के दौरान आये रीजीजू और शेट्टी ने एक फुटबाल मैच के बाद शूटआउट में भी भाग लिया।


रीजीजू ने कहा,

‘‘मैं सभी कोचों और अभिभावकों से कहना चाहता हूं कि वे सुनिश्चित करें कि सभी खिलाड़ी प्रतिबंधित पदार्थों से दूर रहे। हम उनका हर कदम पर साथ देंगे।’’


(Edited by रविकांत पारीक )


Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close