थाईलैंड मास्टर्स: ओलंपिक की उम्मीदें बरकरार रखने उतरेंगे साइना और श्रीकांत, ओलंपिक में भाग लेने के लिए चाहिए ये रैंकिंग

By भाषा पीटीआई
January 21, 2020, Updated on : Tue Jan 21 2020 14:01:30 GMT+0000
थाईलैंड मास्टर्स: ओलंपिक की उम्मीदें बरकरार रखने उतरेंगे साइना और श्रीकांत, ओलंपिक में भाग लेने के लिए चाहिए ये रैंकिंग
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

भारत के अनुभवी बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल और किदांबी श्रीकांत बुधवार से यहां शुरू हो रहे थाईलैंड मास्टर्स सुपर 300 टूर्नामेंट में उतरेंगे तो उनकी नजरें बेहतर प्रदर्शन करके ओलंपिक खेलने की उम्मीदें जीवित रखने पर लगी होंगी। पिछले साल खराब फार्म में जूझते रहे साइना और श्रीकांत बीडब्ल्यूएफ रेस टू टोक्यो रैंकिंग में क्रमश: 22वें और 23वें स्थान पर हैं।


क

फाइल फोटो



बैंकाक, भारत के अनुभवी बैडमिंटन खिलाड़ी साइना नेहवाल और किदांबी श्रीकांत बुधवार से यहां शुरू हो रहे थाईलैंड मास्टर्स सुपर 300 टूर्नामेंट में उतरेंगे तो उनकी नजरें बेहतर प्रदर्शन करके ओलंपिक खेलने की उम्मीदें जीवित रखने पर लगी होंगी।


पिछले साल खराब फार्म में जूझते रहे साइना और श्रीकांत बीडब्ल्यूएफ रेस टू टोक्यो रैंकिंग में क्रमश: 22वें और 23वें स्थान पर हैं ।


बीडब्ल्यूएफ ओलंपिक क्वालीफिकेशन नियमों के तहत हर एकल वर्ग से सिर्फ दो खिलाड़ी ओलंपिक के लिये क्वालीफाई कर सकते हैं बशर्ते उनकी रैंकिंग 26 अप्रैल तक शीर्ष 16 में हो।


विश्व चैम्पियन पी वी सिंधू इस समय छठे और बी साइ प्रणीत 11वें स्थान पर है । पुरूष युगल में सात्विक रांकिरेड्डी और चिराग शेट्टी आठवें स्थान पर है। इन सभी का टोक्यो ओलंपिक खेलना लगभग तय है।


पिछले साल कई टूर्नामेंटों में शुरूआती दौर से बाहर होने के बाद साइना और श्रीकांत ने प्रीमियर बैडमिंटन लीग से नाम वापिस ले लिया ताकि क्वालीफिकेशन पर फोकस कर सकें।


श्रीकांत की शुरूआत अच्छी नहीं रही जो मलेशिया में पहले ही दौर में चीनी ताइपे के चोउ तियेन चेन से और इंडोनेशिया में स्थानीय खिलाड़ी शेसार हिरेन आर से हारकर बाहर हो गए।





लंदन ओलंपिक की कांस्य पदक विजेता साइना मलेशिया में क्वार्टर फाइनल तक पहुंची लेकिन इंडोनेशिया मास्टर्स खिताब बरकरार नहीं रख पाई। उन्हें पहले ही दौर में जापान की सयाका तकाहाशी ने हराया।


ओलंपिक क्वालीफिकेशन कट आफ तारीख से पहले सिर्फ आठ टूर्नामेंट खेले जाने हैं। ऐसे में साइना और श्रीकांत को सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करना होगा।


साइना यहां डेनमार्क की लाइन होजमार्क के खिलाफ अभियान का आगाज करेगी जिसके विरूद्ध उसका रिकार्ड 4 . 0 का है। वहीं श्रीकांत का सामना शेसार से होगा।


भारत के समीर वर्मा मलेशिया के ली जी जिया से खेलेंगे जबकि एच एस प्रणय की टक्कर मलेशिया के ही ल्यू डारेन से होगी।