अंतिम घंटे की लिवाली से शेयर बाजार लगातार छठें दिन गुलजार, सेंसेक्स 214 अंक उछलकर बंद

सेंसेक्स के शेयरों में टेक महिंद्रा 1.97 प्रतिशत की तेजी के साथ सर्वाधिक लाभ में रहा.
0 CLAPS
0

स्थानीय शेयर बाजार (Stock Market) में बुधवार को लगातार छठे दिन तेजी रही. कारोबार समाप्त होने के ठीक पहले लिवाली बढ़ने से BSE Sensex में 214 अंक से अधिक की तेजी आई. दुनिया के ज्यादातर प्रमुख बाजारों में सकारात्मक रुख और विदेशी संस्थागत निवेशकों के लगातार पूंजी प्रवाह के बीच सूचना प्रौद्योगिकी कंपनियों और रिलायंस इंडस्ट्रीज के शेयरों में लिवाली से बाजार को गति मिली.

हालांकि सेवा क्षेत्र की गतिविधियों (Service Sector Activities) में सुस्ती और डॉलर के मुकाबले रुपये की विनिमय दर में गिरावट से तेजी पर अंकुश लगा. उतार-चढ़ाव भरे कारोबार में तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स 214.17 अंकों की बढ़त के साथ 58350.53 पर बंद हुआ. कारोबार के दौरान सेंसेक्स ने 58415.63 का उच्च स्तर और 57788.78 का निचला स्तर छुआ.

सेंसेक्स पर किन शेयरों को लगे पंख

सेंसेक्स के शेयरों में टेक महिंद्रा 1.97 प्रतिशत की तेजी के साथ सर्वाधिक लाभ में रहा. इसके अलावा TCS, इन्फोसिस, टाइटन, एशियन पेंट्स, ICICI बैंक, भारती एयरटेल और रिलायंस इंडस्ट्रीज प्रमुख रूप से लाभ में रहे. दूसरी तरफ नुकसान में रहने वाले शेयरों में मारुति सुजुकी, सन फार्मा, कोटक महिंद्रा बैंक, इंडसइंड बैंक, बजाज फाइनेंस और ITC शामिल हैं. इनमें 2.29 प्रतिशत तक की गिरावट आई.

Nifty50 का हाल

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 42.70 अंकों की तेजी के साथ 17388.15 पर बंद हुआ. निफ्टी पर ऑयल एंड गैस, फाइनेंशियल सर्विसेज, आईटी को छोड़कर अन्य सभी सेक्टोरल इंडेक्स लाल निशान में बंद हुए हैं. टेक महिन्द्रा, इन्फोसिस, टाइटन, TCS, एशियन पेंट्स टॉप गेनर्स रहे. दूसरी ओर सनफार्मा, टाटा मोटर्स, कोटक बैंक, मारुति, कोल इंडिया टॉप लूजर्स रहे.

सर्विस सेक्टर PMI

देश में सेवा क्षेत्र की गतिविधियों की रफ्तार जुलाई के महीने में मंद पड़ गई. प्रतिस्पर्धी दबाव, ऊंची मुद्रास्फीति और प्रतिकूल मौसम ने मांग को प्रभावित किया. एक मासिक सर्वेक्षण में बुधवार को यह जानकारी दी गई. एसएंडपी ग्लोबल का India Service PMI कारोबारी गतिविधि सूचकांक जुलाई में घटकर में 55.5 हो गया, जो जून में 59.2 था. यह चार महीने में वृद्धि की सबसे धीमी दर है.

वैश्विक बाजारों की स्थिति

एशिया के अन्य बाजारों में दक्षिण कोरिया का कॉस्पी, जापान का निक्की और हांगकांग का हैंगसेंग लाभ में रहे. चीन के शंघाई कंपोजिट में गिरावट रही. यूरोप के प्रमुख बाजारों में शुरुआती कारोबार में तेजी का रुख था. अमेरिकी बाजार मंगलवार को नुकसान में रहा. जहां तक रुपये की वैल्यू की बात है तो अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपये की विनिमय दर 68 पैसे टूटकर 79.21 ;अस्थायीद्ध पर पहुंच गयी. विदेशी संस्थागत निवेशकों ने मंगलवार को 825.18 करोड़ रुपये मूल्य के शेयर खरीदे.

Latest

Updates from around the world