कैसे 'होटलों के लिए 'Shopify' का निर्माण कर रही है भुवनेश्वर की यह SaaS फर्म

0 CLAPS
0

पिछले दशक में, ऑनलाइन ट्रैवल एजेंसियों (ओटीए) और तकनीक के नेतृत्व वाले होटल एग्रीगेटर्स के उद्भव के साथ भले ही हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री तकनीकी रूप से एडवांस हो गई हो, लेकिन अधिकांश इनोवेशन और नई चीजें फ्रंट एंड पर ही हुई हैं। इस बीच, बैकएंड, लेगेसी प्रोसेस और/या विलुप्त होते सॉफ्टवेयर पर निर्भर है, खासकर यदि यह एक छोटा और मध्यम आकार का होटल है तो।

जहां बड़ी होटल चेन्स में कस्टमाइज्ड प्रोडक्ट बनाने के लिए उनकी इन-हाउस तकनीकी टीमें होती हैं, वहीं कम समृद्ध प्रॉपर्टीज डिजिटल परिदृश्य से वंचित रह जाती हैं। हॉस्पिटैलिटी इंडस्ट्री में यह वह अंडरसर्व्ड सेगमेंट है जिसे भुवनेश्वर स्थित स्टार्टअप BookingJini पूरा करता है।

पूर्व-बैंकर और सीरियल उद्यमी सिबाशीष मिश्रा द्वारा 2016 के अंत में स्थापित, हॉस्पिटैलिटी SaaS स्टार्टअप की शुरुआत होटलों को "लुकर्स टू बुकर्स" में बदलने में मदद करने के उद्देश्य से की गई थी ताकि वे एग्रीगेटर प्लेटफॉर्म पर बुकिंग पूरी करने के बजाय अपनी वेबसाइट पर निष्क्रिय विजिटर्स से बुकिंग करा सकें।

संस्थापक-सीईओ सिबाशीष ने योरस्टोरी को बताया, “होटल भले ही अपनी वेबसाइट पर बेहतर रेट देते हों, लेकिन उन्हें बहुत कम बुकिंग मिलती है। लेकिन वेबसाइट पर बड़ी संख्या में विजिटर आते हैं क्योंकि लोग यह देखने के लिए गूगल सर्च करते हैं कि ओटीए पर लिस्टेड होटल असली है या नहीं। फिर, वे वापस जाते हैं और ओटीए पर बुकिंग करते हैं। इसलिए, हमने खुद से पूछा कि क्या हम निष्क्रिय विजिटर्स (passive visitors) को ग्राहकों में बदलने और उन्हें अधिक कमाई करने में मदद करने के लिए होटलों के लिए बिक्री चैनल बना सकते हैं? क्योंकि, आप जानते हैं, हर कोई इस बारे में बात करता है कि यात्रियों को बेहतर रेट कैसे मिलें, लेकिन कोई यह नहीं जानता कि होटल व्यवसायी कुछ ज्यादा पैसे कैसे कमा सकते हैं।”

मनोज पांड्या के साथ BookingJini के फाउंडर और सीईओ सिबाशीष मिश्रा

Bookingjini ने जनवरी 2017 में ओडिशा पर्यटन विकास निगम (ओटीडीसी) के साथ भुवनेश्वर और पुरी की प्रॉपर्टीज पर अपने प्लेटफॉर्म का संचालन किया।

सिबाशीष बताते हैं, “उस समय, ओटीडीसी एक साल में डायरेक्ट ऑनलाइन बुकिंग से 40 लाख रुपये कमा रहा था। हमने उनसे एक करोड़ रुपये का वादा किया। हमने एक बुकिंग इंजन बनाया और उनसे कहा कि बुकिंग मिलने पर ही हमें भुगतान करें। आज, वे डायरेक्ट बुकिंग से 2.5 करोड़ रुपये कमा रहे हैं।” 

उसी साल, BookingJini को स्टार्टअप ओडिशा से 20 लाख रुपये का अनुदान भी मिला।

प्रोडक्ट रोडमैप और खास प्रभाव

आज, BookingJini की पेशकश बुकिंग इंजन से लेकर होटल डिस्ट्रीब्यूशन, ग्राहक पहुंच, राजस्व सृजन, मार्केटिंग, और बहुत कुछ तक फैल गई है। यह कस्टम-डिजाइन की गई मोबाइल-फ्रेंडली वेबसाइटों वाले होटलों को बिक्री बढ़ाने में मदद करता है, और उन्हें दिन-प्रतिदिन के संचालन का एक सुरक्षित और सिंगल-डैशबोर्ड व्यू भी प्रदान करता है।

वह कहते हैं, "हम 'होटलों के लिए 'Shopify' का निर्माण कर रहे हैं। हम उन्हें प्रॉपर्टीज को मैनेज करने, कमरे बेचने और बिक्री बढ़ाने में मदद करने के लिए एक व्हाइट-लेबल समाधान देते हैं।”

BookingJini का दावा है कि इसने होटलों के लिए बॉटम-लाइन में 30 प्रतिशत और टॉप-लाइन में 15 प्रतिशत की वृद्धि की है।

बुकिंग इंजन के अलावा, स्टार्टअप की सास-आधारित पेशकश में शामिल हैं - एक डिस्ट्रीब्यूशन इंजन जो होटलों को सभी ओटीए के साथ इंटीग्रेट करने में मदद करता है और रूम की लिस्ट के लिए सिंगल-क्लिक पहुंच प्रदान करता है; ओटीए और अन्य एजेंसियों पर भरोसा किए बिना होटल की डिजिटल उपस्थिति बढ़ाने और कस्टमर फ्लो में सुधार करने के लिए एक मार्केटिंग इंजन प्रदान करता है; एक गेस्ट एक्सपीरियंस इंजन जो उन्हें एक ऐप पर संपर्क रहित चेक-इन, वॉकथ्रू, रूम सर्विस आदि जैसे कस्टमाइज्ड एक्सपीरियंस बनाने में मदद करता है; और एक एनालिटिक्स इंजन जो उन्हें प्रिडिक्टिव डेटा-संचालित निर्णय लेने की अनुमति देता है।

संस्थापक कहते हैं, "पूरा इंफ्रा क्लाउड पर बनाया गया है और यह होटल व्यवसायियों की समस्या को हल करता है, जो कई वेंडरों से निपटते हैं, जो साइलो में काम करते हैं।"

परिचालन क्षमता में सुधार के अलावा, यह होटलों को ओटीए कमीशन को बायपास करने में भी मदद करता है जो कि 35 प्रतिशत तक हो सकता है, जो अक्सर उनके राजस्व को खा जाता है।

BookingJini होटलों को OTA कमीशन को बायपास करने और अधिक मार्जिन उत्पन्न करने की अनुमति देता है।

BookingJini का दावा है कि इसने होटलों के लिए बॉटम-लाइन में 30 प्रतिशत और टॉप-लाइन में 15 प्रतिशत की वृद्धि की है। वे कहते हैं, “यहां तक कि उनकी ऑनलाइन विजिबिलिटी में भी सुधार हुआ है और रिव्यूज अच्छी तरह से मैनेज हैं। हॉस्पिटैलिटी में यह महत्वपूर्ण बात है।”

विकास और व्यापार मॉडल

BookingJini ने 2,200 B2B ग्राहकों को जोड़ने का दावा किया है और अब तक 261 करोड़ रुपये की 1.27 लाख से अधिक सीधी बुकिंग को संभाला है। इसने 1.3 मिलियन लेनदेन को प्रोसेस किया है और अपने प्लेटफॉर्म के माध्यम से 2.3 मिलियन ट्रैवलर्स को प्रभावित किया है।

कंपनी की वेबसाइट के अनुसार, 1.24 लाख से अधिक कमरों को सूचीबद्ध किया गया है और बुकिंगजिनी पर 1.31 लाख चेक-इन किए गए हैं।

इसके कुछ ग्राहकों में ओडिशा, केरल, तमिलनाडु, नागालैंड, त्रिपुरा जैसे राज्यों के पर्यटन बोर्ड, लेमन ट्री, पोस्टकार्ड, मेफेयर, आईटीसी वेलकमहेरिटेज, एचएचआई, डब्ल्यूडब्ल्यू होटल, द लैंडमार्क, और बहुत कुछ शामिल हैं।

सिबाशीष ने बताया, “हमारे पास महामारी से पहले भुगतान करने वाले 1,250 ग्राहक थे, जो पिछले 15-18 महीनों में दोगुना हो गया है। अब हम 120 से अधिक शहरों में प्रॉपर्टीज को मैनेज कर रहे हैं।"

ऑस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में भी इसके 40-50 ग्राहक हैं, और दिसंबर में इसके यूएस लॉन्च के लिए तैयार हैं। वह कहते हैं, "हमने वहां एक दफ्तर स्थापित किया है। अमेरिकी बाजार भारत की तुलना में बहुत बड़ा है, और हमारे लिए यह एक अच्छा अवसर है।” 

BookingJini एक पारंपरिक SaaS मॉडल पर काम करती है, जहाँ होटल मंथली सब्सक्रिप्शन के लिए 4,800 रुपये का भुगतान करते हैं। यह तिमाही-दर-तिमाही 15 प्रतिशत बढ़ने का दावा करता है, और वित्त वर्ष 22 को 10 करोड़ रुपये के एआरआर के साथ बंद करना चाहता है।

सिबाशीष कहते हैं, “हमारी प्रारंभिक पूंजी खर्च करने दी दर (burn rate) कम है। अगर हम बेंगलुरु, पुणे या मुंबई में होते तो हम 3 गुना खर्च कर रहे होते। ओडिशा में सस्ता इंफ्रा और टैलेंट प्रमुख फायदे हैं। चूंकि हम एक SaaS कंपनी हैं, इसलिए इसे बढ़ाना कोई बड़ी चुनौती नहीं है।"

अपने यूएस विस्तार पर सवार होकर, BookingJini की 2023 तक 15,000 ग्राहकों तक पहुंचने की योजना है, और शीघ्र ही प्री-सीरीज A राउंड क्लोज करने जा रही है। बिना ज्यादा खुलासा किए बिना, स्टार्टअप बताता है कि वह कैपिटल को मार्केटिंग और विस्तार के लिए खर्च करेगा। 

फंडिंग और प्रतिस्पर्धा

नवंबर 2019 में, BookingJini ने मुंबई एंजल्स नेटवर्क के नेतृत्व में एक सीड राउंड में 3 करोड़ रुपये ($400,000) जुटाए। मुंबई एंजल्स नेटवर्क की सह-संस्थापक और सीईओ नंदिनी मानसिंहका ने एक बयान में कहा था, "हम स्टार्टअप्स में निवेश के बढ़ते ट्रेंड को देख सकते हैं जो भारत के विकास की कहानी को शक्ति प्रदान कर रहे हैं, और टियर- II शहर के स्टार्टअप को मुंबई या दिल्ली स्टार्टअप के खिलाफ प्रतिस्पर्धात्मक रूप से प्रदर्शन करते हुए देखना इसकी क्षमता को दर्शाता है।"

इससे पहले, इसने नियोटेक हब और ओबेरॉय होटल्स के पूर्व अध्यक्ष और पोस्टकार्ड होटल्स एंड रिसॉर्ट्स के वर्तमान सीईओ कपिल चोपड़ा जैसे एंजेल इन्वेस्टर से $100,000 का प्री-सीड राउंड जुटाया था।

Data सोर्स : BookingJini

इसके अन्य निवेशकों में से एक, रियल एस्टेट फर्म सालारपुरिया समूह के निदेशक अपूर्व सालारपुरिया ने कहा, "बुकिंगजिनी में यह बदलने की क्षमता है कि भविष्य में छोटे और मध्यम आकार के होटल कैसे कारोबार करते हैं।"

हॉस्पिटैलिटी SaaS की अपार संभावनाओं के बावजूद, बाजार अस्त-व्यस्त है। भारत में, BookingJini, AxisRooms, Hotelogix, RoomCentral, DJUBO, आदि के साथ प्रतिस्पर्धा करती है। अंतरराष्ट्रीय स्तर पर, US-आधारित Cloudbeds, SiteMinder (Airbnb का होटल डिस्ट्रीब्यूशन पार्टनर), और Agilysys कुछ प्रमुख खिलाड़ी हैं। 

MarketsandMarkets के अनुसार, ये सभी मिलकर 18.1 बिलियन डॉलर के वैश्विक स्मार्ट हॉस्पिटैलिटी मार्केट को बनाते हैं। 

हालाँकि, संस्थापक का दावा है कि अधिकांश "प्रतियोगी बुलबुले की तरह" हैं। कुछ चेक-इन और चेक-आउट पर ध्यान केंद्रित करते हैं, कुछ बुकिंग इंजन बना रहे हैं, कुछ के पास लेगेसी, ऑन-प्रिमाइसेस प्रोडक्ट हैं। कोई भी पूरी तरह से क्लाउड पर नहीं है।"

और यही वह चीज है जो BookingJini का पसंदीदा स्थान, जिसका वह आक्रामक रूप से लाभ उठाएगा।

सिबाशीष कहते हैं, "भारत में करीब 70,000 होटल हैं और हमने उस बाजार के छह प्रतिशत हिस्से पर कब्जा कर लिया है। हमारा पहला लक्ष्य इसे बढ़ाकर 15 प्रतिशत करना है।"

Edited by रंजना त्रिपाठी