फॉर्मा मार्केट में दबदबे की तैयारी में यह ग्लोबल कंपनी, भारतीय कंपनी में 50 फीसदी से अधिक हिस्सेदारी खरीदेगी

By yourstory हिन्दी
December 27, 2022, Updated on : Tue Dec 27 2022 06:44:15 GMT+0000
फॉर्मा मार्केट में दबदबे की तैयारी में यह ग्लोबल कंपनी, भारतीय कंपनी में 50 फीसदी से अधिक हिस्सेदारी खरीदेगी
एडवेंट इंटरनेशनल ने कहा कि वह सुवेन फार्मास्युटिकल्स में 50.1 प्रतिशत हिस्सेदारी 6,313 करोड़ रुपये में खरीद रही है. एडवेंट यह हिस्सेदारी सुवेन के प्रवर्तक जस्ती परिवार से खरीदेगी. डील पूरी होने के बाद जस्ती परिवार के पास केवल 9.9 फीसदी हिस्सेदारी बचेगी.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

वैश्विक निजी इक्विटी निवेशक कंपनी एडवेंट इंटरनेशनल ने सोमवार को बताया कि वह हैदराबाद स्थित सुवेन फार्मास्युटिकल्स में बड़ी हिस्सेदारी का अधिग्रहण करने जा रही है.


एडवेंट इंटरनेशनल ने कहा कि वह सुवेन फार्मास्युटिकल्स में 50.1 प्रतिशत हिस्सेदारी 6,313 करोड़ रुपये में खरीद रही है. एडवेंट यह हिस्सेदारी सुवेन के प्रवर्तक जस्ती परिवार से खरीदेगी. डील पूरी होने के बाद जस्ती परिवार के पास केवल 9.9 फीसदी हिस्सेदारी बचेगी.


कंपनी ने एक बयान में बताया कि सुवेन में हिस्सेदारी के अधिग्रहण के लिए उसने एक पक्का समझौता किया है जिसे अमलीजामा पहनाने के लिए नियामकीय मंजूरियां हासिल करनी होंगी. एडवेंट ने इस अधिग्रहण की दौड़ में अपनी प्रतिद्वंद्वी ब्लैकस्टोन को पछाड़ा है.

26 फीसदी अतिरिक्त हिस्सेदारी के लिए ओपन ऑफर

एडवेंट इंटरनेशनल ने कहा कि इसके बाद कंपनी में और 26 प्रतिशत हिस्सेदारी के अधिग्रहण के लिए वह सार्वजनिक शेयरधारकों के लिए ओपन ऑफर लाएगी. इसके लिए शेयर की कीमत 495 रुपये तय करेगा.


अगर ओपन ऑफर पूरी तरह से सब्सक्राइब हो जाएगा तो एडवेंट को 3276 करोड़ रुपये अतिरिक्त खर्च करने होंगे. इसके बाद उसके लिए यह पूरी डील 9589 करोड़ रुपये का हो जाएगा.

सुवेन को कोहांस में विलय की योजना

बयान में कहा गया कि एडवेंट ‘कॉट्रेक्ट डेवलपमेंट एंड मैन्युफैक्चरिंग ऑर्गेनाइजेशन (सीडीएमओ)’ क्षेत्र की अग्रणी कंपनी और दवा एवं विशेष रसायन बाजारों की ‘एक्टिव फार्मास्युटिकल इंग्रेडिएंट (एपीआई) प्रदाता बनने के लिए अपनी पोर्टफोलियो कंपनी कोहांस और सुवेन के विलय की संभावनाएं तलाशेगी.


सुवेन के प्रबंध निदेशक वेंकटेशरलू जस्ती ने कहा, ‘‘एडवेंट हमारे लिए एक आदर्श साझेदार है जिसके पास स्वास्थ्य देखभाल में गहरी विशेषज्ञता है और जिसका पेशेवरों और विशेषज्ञों का एक वैश्विक नेटवर्क है. उनका अनुभव और संसाधन सुवेन फार्मा के लिए वृद्धि के नए दौर की शुरुआत करेगा.’’


उन्होंने कहा कि यह सौदा अगले पांच से छह महीनों में पूरा हो जाएगा. वहीं, कोहांस के साथ विलय के विकल्प पर अभी भी काम चल रहा है. एडवेंट के प्रबंध निदेशक पंकज पटवारी ने कहा कि उनकी कंपनी अधिग्रहण के जरिये एक अरब डॉलर की वैश्विक अगुवा बनना चाहती है.

2020 में अपनी मूल कंपनी से अलग हो गई थी सुवेन फॉर्मा

बता दें कि, सुवेन फॉर्मा साल 2020 में अपनी मूल कंपनी सुवेन लाइफ साइंसेज से अलग हो गई थी. यह भारतीय फॉर्मा कॉन्ट्रैक्ट डेवलपमेंट और मैन्यूफैक्चरिंग (CDMO) सेक्टर में बड़ी कंपनियों में से एक है. पिछले 4 सालों में कंपनी ने सालाना 20 फीसदी की ग्रोथ दर्ज की है और 43 फीसदी एबिटा लाभ दर्ज किया.


Edited by Vishal Jaiswal