वैश्विक ब्रांडों को ग्राहक से जुड़ने में मदद कर रहा है आईआईटी के पूर्व छात्र का यह स्टार्टअप

1 CLAP
0

PushOwl  की टीम

छह साल पहले आईआईटी-जोधपुर से स्नातक करने के बाद, शशांक कुमार डेटा साइंटिस्ट बनने के लिए निकल पड़े और माइक्रोसॉफ्ट ज्वाइन कर लिया। एपीआई, डेटाबेस, E2E टेस्टिंग और मॉनीटरिंग के काम के साथ शशांक ऐप प्रमोशन और मोनेटाइजेशन के लिए ऑनलाइन विज्ञापन प्रभाग के सदस्य भी बन गए। यहां काम करते हुए, शशांक को एहसास हुआ कि ईमेल अप्रचलित हो रहा है और ब्रांड ग्राहकों को खो रहे हैं। वह कहते हैं, “माइक्रोसॉफ्ट में विज्ञापन पृष्ठभूमि होने के नाते, मुझे पता था कि ब्रांड अपने टार्गेट मार्केट और ग्राहकों को व्यस्त रखने के लिए संघर्ष कर रहे थे। ईमेल और सोशल मीडिया जैसे विभिन्न संचार चैनलों में मैंने खोज की थी, और मैंने सूचनाओं को आगे बढ़ाने के लिए समान कौशल लाने के बारे में सोचा। बस यहीं से PushOwl का विचार पैदा हुआ था।"

मई 2016 में, शशांक ने बेंगलुरु में PushOwl शुरू किया। यह एक डिजिटल मार्केटिंग प्लेटफॉर्म है जो ऑनलाइन व्यवसायों को पुश नोटिफिकेशन के साथ ग्राहक जुड़ाव (customer engagement) में सुधार करने की अनुमति देता है। ईकॉमर्स बाजार का 2023 तक 51.2 बिलियन डॉलर तक बढ़ने का अनुमान है, और पुश नोटिफिकेशन ग्राहकों को जोड़ने का एक शानदार तरीका है। ईमेल मार्केटिंग टूल्स और एड ऑटोमेशन से, मैसेंजर मार्केटिंग तक, बहुत सी कंपनियां अब ऐसे समाधान बनाने पर ध्यान केंद्रित कर रही हैं, जो व्यवसायों को न केवल उनके ऑडियंस तक पहुंचने में मदद करते हैं, बल्कि उन्हें सस्टेनेबल ग्रोथ के लिए जोड़े रखे।

यात्रा

शशांक का कहना है कि कंपनी बनाने में उन्हें एक साल से अधिक का समय लगा। उन्होंने 50 लाख रुपये का निवेश किया, और अपने भाई से 12 लाख रुपये का लोन लिया। हालाँकि, यह उनकी पहली कंपनी नहीं थी। वे कहते हैं, "मैंने कुछ व्यवसाय शुरू करने की कोशिश थी, लेकिन वे वैसे नहीं चल पाए जैसी कि योजना थी।" 2017 तक, शशांक ने केवल प्रोडक्ट स्टैब्लिश किया था, लेकिन शुरू में अच्छी ग्राहक प्रतिक्रिया नहीं मिली। पुश मंकी और स्मार्ट पुश मार्केटिंग जैसी कंपनियों के साथ, प्रतियोगिता बहुत बड़ी थी, और अस्तित्व कठिन हो रहा था। इसलिए, शशांक ने अपना ध्यान ईकॉमर्स पर स्थानांतरित कर दिया, और केवल शोपिफाई स्टोर्स (Shopify stores) पर ही ध्यान केंद्रित किया। उनका आखिरी गोल काफी आसान हो गया अब वे - Shopify मालिकों को पैसा कमाने में मदद करने लगे। आज, PushOwl के पास 700,000 डॉलर के एनुअल रिकरिंग रेवेन्यू (ARR) के साथ 10,186 ग्राहक हैं।

ज्यादा 'पुश' भी नहीं

आप किसी ऑनलाइन स्टोर पर जाते हैं और आपको सच में उसके प्रोडक्ट पसंद हैं, लेकिन आप तुरंत उन्हें खरीदना नहीं चाहते हैं क्योंकि आपको उम्मीद है कि उनकी कीमत कम हो सकती है। अब, जाहिर है कि आप कीमत जांचने के लिए दोबारा उस स्टोर के चक्कर तो नहीं लगाएंगे क्योंकि यह एक थकाऊ प्रक्रिया है। शशांक कहते हैं, “PushOwl लोगों को बिजनेस से अपडेट के लिए सदस्यता लेना आसान बनाता है। पुश मैसेज रिसीव करने की अनुमति देने के लिए ग्राहकों को केवल एक क्लिक करना होता है बस। इसमें कोई ईमेल शेयर नहीं किया जाता है, इसके बावजूद आपको प्रमोशन, बिक्री, और अधिक के बारे में सूचित किया जाता है।” 

वह कहते हैं कि ये सूचनाएं प्लेटफॉर्म-अग्नोस्टिक हैं। "चाहे कोई भी डिवाइस पर हो, उन्हें (सूचनाओं को) आपके सब्सक्राइबर तक पहुंचाया जाएगा।" यह प्रोडक्ट ऑटोमेशन का एक फुल सूट प्रदान करता है और उनके बैकएंड सिस्टम से जुड़ा होता है जैसे कि ऑर्डर डेटा, प्रोडक्ट डेटा, कस्टमर डेटा और शिपिंग डेटा। यह बहुत हद तक वैसे ही है जैसे मोबाइल ऐप हमें सूचनाएं भेजते हैं।



पहला पेचेक

PushOwl को एक न्यूट्रिशनल प्रोडक्ट बनाने वाली कंपनी, पोस्ट ब्राउन के संस्थापक, टॉम ब्राउन से 9 डॉलर का पहला भुगतान मिला था। ब्राउन ने PushOwl से यह चर्चा करने के लिए संपर्क किया कि यह कैसे उसकी दुकान को अधिक बिक्री प्राप्त करने में मदद कर सकता है। शशांक कहते हैं, “मैं आपको यह भी नहीं बता सकता कि मैं कितना खुश था। आज, पोस्ट प्रोटीन यूके में Shopify पर अग्रणी ब्रांडों में से एक है।” एक ग्राहक के रूप में बोर्ड पर पोस्टेड प्रोटीन पाने के बाद, PushOwl ने अधिक ग्राहकों को जोड़ने के लिए स्मार्ट ग्रोथ हैक का उपयोग किया। इसने समूह के सदस्यों के लिए अधिक मूल्य जोड़ने के लिए मुफ्त उपकरण प्रदान किए। शशांक कहते हैं, “हमने मुफ्त में छोटे उपकरण पेश किए। इसके बाद लोग PushOwl और इसकी क्षमताओं के बारे में हमसे अधिक पूछने लगे और इस तरह से हमने अपने पहले 100 ग्राहकों जोड़े।"

PushOwl के कुछ प्रमुख ग्राहकों में आज FashionNova, Colette, Boll & Branch, और VaporDNA शामिल हैं। भारत में, रेमंड, ड्यूरेक्स और द हिंदू इसके कुछ प्रमुख ग्राहक हैं। PushOwl का मूल्य निर्धारण (प्राइसिंग) प्रति सूचना के आधार पर किया जाता है, और कंपनी 10,000 इंप्रेशन्स के लिए 19 डॉलर का शुल्क लेती है। आज, सिस्टम एक दिन में छह मिलियन नोटिफिकेशन भेजता है। हालांकि उन्हें प्राइसिंग में थोड़ा सीखना था।

प्रोडक्ट प्राइसिंग 101

शशांक के अनुसार, जब उन्होंने PushOwl शुरू किया, तो उन्हें राजस्व में लाखों रुपए कमाने की उम्मीद नहीं थी। वह अधिक सीखना चाहते थे और उद्यमिता का अनुभव करना चाहते थे। लेकिन जब उन्होंने शुरुआत की, तो उन्होंने एक सह-कार्यशील स्थान से अकेले काम किया। वह चरण जब आपके पास कोई बात करने के लिए न हो, किसी भी फर्स्ट टाइम आंत्रप्रोन्योर के लिए मुश्किल हो सकता है। 

शशांक कहते हैं, “उड़ते हुए सीखना मेरे लिए काफी मुश्किल था। लेकिन वह एक ऐसी कठिनाई थी जिसे मैं हल करना चाहता था।” इसी समय, वह अपने पहले टीम सदस्य - कुणाल कोंडे से मिले। शशांक कहते हैं कि जब कोई संस्थापक दृष्टि में विश्वास करता है, तो किसी अन्य व्यक्ति के उत्पाद रोडमैप को अधिक स्पष्ट रूप से देख सकता है।

हालांकि कंपनी ने ग्राहक हासिल करने के मामले में एक अच्छे नोट पर शुरू किया, लेकिन यह पर्याप्त राजस्व नहीं पैदा कर पा रहे थे। हालांकि व्यवसाय चलाने के लिए उसके पास पर्याप्त धन था। शशांक को कभी-कभी अतिरिक्त पैसे के लिए रात को भी फ्रीलांस करना पड़ता था। जैसा कि PushOwl मूल्य निर्धारण से जूझ रहा था तभी, उनके ग्राहकों में से एक, जो वॉलमार्ट के एक पूर्व VP थे, वे अपने कुछ काम के साथ PushOwl आए और उनसे पूछा कि वे सर्विस के लिए कितना चार्ज लेंगे। शशांक याद करते हुए कहते हैं, “मुझे पता था कि वह कहाँ से आए थे और उनके पास क्या अनुभव था। इसलिए, मैंने उनसे सर्विस देने के लिए चार्ज करने के बजाय 30 मिनट का समय देने के लिए कहा। इस तरह मैंने उनसे सीखा कि उत्पाद की कीमत का क्या मतलब है।" 

भविष्य की योजनाएं

अगले 18 महीनों में, PushOwl का लक्ष्य अमेरिकी बाजार में प्रवेश करना है। कंपनी की योजना आने वाले कुछ महीनों में Shopify से आगे जाने की भी है। गार्टनर के अनुसार, सेवा (SaaS) उद्योग के रूप में सॉफ्टवेयर का आकार 143.7 बिलियन डॉलर है।

इस स्पेस में अन्य प्लेयर्स जैसे आईजूटो (iZooto), फायरपुश (FirePush), एमटेल (AimTell), रिकार्ट (Recart), पुशओवर (Pushover) और प्रोल (Prowl) शामिल हैं। iZooto एक मिलियन-डॉलर की कंपनी है, जबकि MoEngage, OneSignal, और CleverTap ने फंडिंग में मल्टी-मिलियन डॉलर जुटाए हैं। इस स्पेस में भले ही भीड़ हो सकती है, लेकिन PushOwl का दावा है कि इसे Shopify पर नंबर एक के रूप में दर्जा दिया गया है। केवल समय ही बताएगा कि क्या यह सेल्फ फंडेड कंपनी भविष्य में अत्यधिक मूल्यवान बन पाएगी या नहीं।