अपनी दादी के नुस्खे से लोगों के चेहरे पर चमक ला रही हैं मणिपुर की ये महिला, तैयार कर रही हैं नैचुरल कॉस्मेटिक्स

23 CLAPS
0

चेहरे को प्राकृतिक रूप से चमकाने के लिए कभी दादी जो नुस्खा इस्तेमाल किया करती थीं आज तुइंगम लुझी उसी नुस्खे को एक ब्रांड के रूप में अधिक से अधिक लोगों तक पहुंचाने का काम कर रही हैं। तुइंगम लुझी की दादी इसके लिए पेरिला के बीजों का इस्तेमाल करती थीं जो अपने एंटीऑक्सीडेंट और एंटी-अलर्जिक गुणों के लिए जाने जाते हैं।

तुइंगम लुझी के अनुसार उनकी दादी इन बीजों का पहले पेस्ट बना लेती थीं और उसके बाद वे उस पेस्ट को दबाकर उससे तेल की बूंदें निकाला करती थीं, जिसका इस्तेमाल बाद में दादी तुइंगम लुझी की रूखी स्किन को फिर से नम करने में किया करती थीं। दादी का यह नुस्खा मणिपुर में पड़ने वाले कड़ाके की सर्दी के दौरान फट जाने वाली स्किन को वापस से हील करने में बड़ा कामयाब होता था।

दादी के नुस्खे से खड़ा किया ब्रांड

फोटो साभार: Instagram

अब लगभग दो दशक बाद तुइंगम लुझी ने साल 2019 में सीक्रेट कॉस्मेटिक्स ब्रांड शुरू किया, जिसके तहत वे उन्ही पेरिला के बीजों का इस्तेमाल कर कोल्ड प्रेस्ड उत्पाद तैयार कर रही हैं। ये सभी उत्पाद अच्छे प्रोटीन और फैट से सपन्न होते हैं जो व्यक्ति की स्किन को बेहतर रखने के लिए बेहद कारगर हैं। मालूम हो कि पेरिला बीज ओमेगा 3 से भरपूर होते हैं।

हालांकि देश में अभी अधिक लोग इन पेरिला बीजों के गुणों के बारे में नहीं जानते हैं, जबकि इसके पौधे मणिपुर, मेघालय और मिजोरम के कुछ हिस्सों में बहुतायत में पाये जाते हैं। इन बीजों का इस्तेमाल चटनी बनाने और स्नैक्स की तरह खाने में भी होता है। अलग-अलग क्षेत्रों में ये बीज विभिन्न नामों से जाने जाते हैं, उदाहरण के तौर पर उत्तराखंड में इन्हें बंजीरा, मणिपुर में इन्हें हांशी और मिजोरम में छावछी जैसे नामों से भी जाना जाता है।

SECRETS COSMETICS की फाउंडर तुइंगम लुझी

तंगखुल नागा समुदाय से आने वाली 24 वर्षीय तुइंगम लुझी स्किनकेयर उत्पादों के निर्माण के लिए पहले पेरिला बीजों से तेल अलग करती है। दिसंबर 2020 में तुइंगम लुझी ने पेरिला सीड्स फेस ऑयल लॉन्च किया था और इससे पहले भी उन्होने अन्य स्किनकेयर और ब्यूटी उत्पाद विकसित किए हैं।

पर्यावरण और त्वचा के अनुकूल हैं सभी उत्पाद

तुइंगम लुझी अपने परिवार से निकली हुई पहली आंत्रप्रेन्योर हैं, इसके पहले उनके परिवार का कोई भी सदस्य व्यापार में नहीं रहा है। स्किनकेयर उत्पादों को लेकर अपने पैशन के साथ आगे बढ़ते हुए तुइंगम लुझी ने साल 2019 में सीक्रेट कॉस्मेटिक्स की स्थापना की थी।

तुइंगम लुझी का कहना है कि सीक्रेट कॉस्मेटिक्स का मिशन अपने उत्पादों में प्रकृति के सर्वोत्तम गुणों को शामिल करना है जो न केवल त्वचा के लिए बल्कि पर्यावरण के लिए भी अच्छे हों।

अभी अधिक लोग इन पेरिला बीजों के गुणों के बारे में नहीं जानते हैं, जबकि इसके पौधे मणिपुर, मेघालय और मिजोरम के कुछ हिस्सों में बहुतायत में पाये जाते हैं।

बचपन में वे अपने किचन गार्डन से आई हल्दी और एलोवेरा जैसी सामग्री से घर पर ही फेस पैक तैयार किया करती थीं, इसी के साथ उन्होने दिल्ली में एक साल तक बतौर मेकअप आर्टिस्ट भी काम किया है।

तुइंगम लुझी के अनुसार इससे उन्हें कॉस्मेटिक उत्पादों के बारे में और अधिक जानने में मदद मिली है। अपने उत्पादों के निर्माण के लिए आवश्यक सामग्री को तुइंगम लुझी 40 से अधिक स्थानीय किसानों से ही प्राप्त करती हैं।

चेहरे के लिए तैयार किए गए प्राकृतिक फेस-पैक के अलावा तुइंगम लुझी अब साबुन और हेयरकेयर उत्पादों की नई श्रेणी पर भी काम कर रही हैं। गौरतलब है कि सीक्रेट कॉस्मेटिक्स के उत्पादों को भारत में बिक्री के साथ ही विदेशों में निर्यात किया जा रहा है।

Edited by Ranjana Tripathi

Latest

Updates from around the world