उत्तर प्रदेश: सीएम योगी ने हर जिले में कोविड-19 टेस्टिंग लैब बनाने के दिए निर्देश

By भाषा पीटीआई
June 19, 2020, Updated on : Fri Jun 19 2020 12:01:31 GMT+0000
उत्तर प्रदेश: सीएम योगी ने हर जिले में कोविड-19 टेस्टिंग लैब बनाने के दिए निर्देश
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

लखनऊ, उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने हर जिले में कोविड-19 टेस्टिंग लैब स्थापित किए जाने की कार्य योजना प्रस्तुत किए जाने के निर्देश दिए हैं।


उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फोटो साभार: Shutterstock)

उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (फोटो साभार: सोशल मीडिया)


मुख्यमंत्री ने बृहस्पतिवार देर रात अपने सरकारी आवास पर वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से कोविड प्रभावित 11 जिलों गौतमबुद्धनगर, मेरठ, गाजियाबाद, आगरा, फिरोजाबाद, कानपुर नगर, अलीगढ़, मुरादाबाद, बुलन्दशहर, झांसी तथा बस्ती के नोडल अधिकारियों से बात की।


उन्होंने कहा कि वर्तमान में 01 लाख 01 हजार 236 बेड की संख्या को जून माह के अन्त तक डेढ़ लाख तक करने का लक्ष्य पूरा किया जाए। किसी भी रोगी को कोविड या नॉन-कोविड अस्पताल में पहुंचने पर जांच के लिये इंतजार न करना पड़े। उसकी मेडिकल स्क्रीनिंग के प्रबन्ध 15 से 30 मिनट के भीतर सुनिश्चित करते हुए आगे की कार्रवाई की जाए।


योगी ने प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों ,सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों, जिला अस्पतालों तथा अन्य सम्बन्धित चिकित्सा संस्थानों में कोविड हेल्प डेस्क और वहां पर इन्फ्रारेड थर्मामीटर तथा पल्स आक्सीमीटर की व्यवस्थाएं सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।


उन्होंने नोडल अधिकारियों से वहां के कोविड-19 के संक्रमण की स्थिति और उससे बचाव के बारे में विस्तृत जानकारी प्राप्त की और आवश्यक दिशा-निर्देश दिए।


मुख्यमंत्री ने इन सभी नोडल अधिकारियों को अपने-अपने जनपदों में आगामी रविवार तक रुककर व्यवस्थाओं को सुदृढ़ बनाए जाने के निर्देश देते हुए कहा कि वे सभी अपनी रिपोर्ट से शासन को अवगत कराएं।


उन्होंने कहा कि नोडल अधिकारियों के फीडबैक के आधार पर स्वास्थ्य तथा चिकित्सा तथा चिकित्सा शिक्षा विभाग समन्वय बनाते हुए समयबद्ध ढंग से कार्रवाई निश्चित करे। इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही न बरती जाए।


मुख्यमंत्री ने कहा कि किसी भी जगह पर भीड़ एकत्रित न हो। यातायात नियमों का पालन हो। इस सम्बन्ध में रैण्डम चेकिंग करते हुए प्रभावी कार्रवाई की जाए।



Edited by रविकांत पारीक