Manmohan Kasana
" कुछ खास नहीं बस इंसान हूँ , थोडा सा लिखता हु बस में मेरी नज़र से जिस दुनिया को देखता हु उस के लिए "