रणवीर और दीपिका ने शादी के 'ग्रीन रिसेप्शन' के जरिए दिया प्लास्टिक से दूर रहने का संदेश

रणवीर और दीपिका ने शादी के 'ग्रीन रिसेप्शन' के जरिए दिया प्लास्टिक से दूर रहने का संदेश

Saturday November 24, 2018,

3 min Read

पूरी तरह से सेलिब्रिटी समारोह बना यह मौका सिर्फ युगल के शाही परिधानों के अलावा अन्य कारणों के चलते भी चर्चाओं में रहा। सबसे पहला तो यह कि यह आयोजन पूरी तरह से एक ऐसा 'हरित' समारोह था- जिसें पर्यावरण को ध्यान में रखा गया।

रणवीर और दीपिका (फोटो साभार- इंस्टाग्राम)

रणवीर और दीपिका (फोटो साभार- इंस्टाग्राम)


पूरे समारोह में दूल्हा और दुल्हन विभिन्न रंगों के परिधानों में मौजूद हो सकते हैं लेकिन तमाम सेलिब्रिटी शादियों में हरे रंग का एक प्रभाव जरूर देखा जा सकता है। 

#DeepVeer के नाम से मशहूर बॉलिवुड कलाकार दीपिका पादुकोण और रणवीर सिंह की जोड़ी ने अपनी प्रेम कहानी से अपने सभी फैन्स का दिल जीत लिया। इन दोनों कलाकारों ने अपनी शादी इटली के लेक कोमों में की। बात चाहे पूरे समारोह के दौरान बरती गई गोपनीयता की हो, या फिर शाही परिधान, या दूल्हे की हरकतों की, जैसे ही इस नवविवाहित युगल की कोई तस्वीर सामने आई सोशल मीडिया पर लोगों ने जमकर पसंद किया और तारीफें भी कीं।

इन दोनों कलाकारों ने 14 और 15 नवंबर को चुनिंदा परिजनों और दोस्तों की उपस्थिति में सात फेरे लिये। शादी की पहली रस्म कोंकणी रीति-रिवाजो से हुई जबकि दूसरी सिंधी परंपराओं के अनुसार। बुधवार को इस नवविवाहित युगल ने दीपिका के गृहनगर बेंगलुरु में अपनी शादी का पहला रिसेप्शन आयोजित किया।

हालांकि पूरी तरह से सेलिब्रिटी समारोह बना यह मौका सिर्फ युगल के शाही परिधानों के अलावा अन्य कारणों के चलते भी चर्चाओं में रहा। सबसे पहला तो यह कि यह आयोजन पूरी तरह से एक ऐसा 'हरित' समारोह था- जिसें पर्यावरण को ध्यान में रखा गया। यानी इस समारोह में किसी भी तरह के प्लास्टिक का इस्तेमाल नहीं किया गया था। इस रिसेप्शन में इस्तेमाल किये गए तमाम टेबलवेयर पूरी तरह से बायोडिग्रेडेबल थे।

बेंगलुरु स्थित यश पेपर्स ने एक प्रेस विज्ञाप्ति के माध्यम से इस खबर की पुष्टि की। यश पेपर्स के उपाध्यक्ष और रणनीति प्रमुख वेद कृष्ण ने कहा, 'समारोह में इस्तेमाल किया गया टेबलवेयर (कंपनी की सहायक कंपनी चक द्वारा तैयार की गई) गन्ने के फाइबर से बनी है जो निबटान के 60 से 90 दिनों के भीतर पूरी तरह से विघटित हो जाती है।जबकि प्लास्टिक और स्टायरोफोम से बनी प्लेटों के विघटन में 500 वर्ष से भी अधिक का समय लगता है।'

उत्तर प्रदेश स्थित इस कंपनी की कम्युनिकेशंस प्रमुख स्वाति अग्रवाल को इस बात की पूरी उम्मीद है कि उनकी यह पहल देशभर में कई अन्य लोगों को प्रेरित करेगी। उन्होंने डेक्कन हेरल्ड से कहा, 'परिवर्तन का नेतृत्व करते हुए सही जगह पर अपने प्रभाव का इस्तेमाल कर रहे हैं। सिर्फ भारत में ही सालाना 1 करोड़ से अधिक विवाह समारोह आयोजित होते हैं। कल्पना कीजिये अगर यह सभी समारोह हरित हो जाएं; तो ऐसा करके एकल-अपयोग वाले प्लास्टिक के ढेर को समाप्त कर देगा।'

बेंगलोर मिरर के मुताबिक, ऐसा प्रतीत होता है कि इस समारोह में शामिल होने वाले सभी मेहमानों पर रिसेप्शन से संबंधित किसी भी जानकारी या तस्वीर को साझा न करने के लिये कड़े प्रतिबंध लगे थे। हिंदुस्तान टाइम्स के मुताबिक यह नवविवाहित जोड़ा शनिवार को इटली से भारत वापस लौटा है और इनके मुंबई में दो अन्स रिसेप्शन की मेजबानी करने की उम्मीद है।

पूरे समारोह में दूल्हा और दुल्हन विभिन्न रंगों के परिधानों में मौजूद हो सकते हैं लेकिन तमाम सेलिब्रिटी शादियों में हरे रंग का एक प्रभाव जरूर देखा जा सकता है। रणवीर और दीपिका से पहले, अभिनेत्री सोनम कपूर और व्यवसायी आनंद आहूजा ने अपनी शादी के लिये ई-आमंत्रण भेजे थे जबकि भारतीय क्रिकेट टीम के कप्तान विराट कोहली और अभिनेत्री अनुष्का शर्मा ने अपने विवाह निमंत्रण पत्र के साथ मेहमानों को एक छोटा पौधा भेजा था।

यह भी पढ़ें: अमेरिका के बाद इंडिया में खुला वॉट्सऐप का ऑफिस, इस भारतीय को मिली कमान

Daily Capsule
Physics Wallah’s UAE expansion
Read the full story