Brands
YSTV
Discover
Events
Newsletter
More

Follow Us

twitterfacebookinstagramyoutube
Yourstory

Brands

Resources

Stories

General

In-Depth

Announcement

Reports

News

Funding

Startup Sectors

Women in tech

Sportstech

Agritech

E-Commerce

Education

Lifestyle

Entertainment

Art & Culture

Travel & Leisure

Curtain Raiser

Wine and Food

Videos

IPO के जरिए 650 करोड़ रुपये जुटाने की तैयारी में Gopal Snacks

गोपाल स्नैक्स एक फास्ट-मूविंग कंज्यूमर गुड्स (FMCG) कंपनी है जिसकी स्थापना 1999 में हुई थी और यह पूरे भारत और विदेशों में नमकीन, वेस्टर्न स्नैक्स और अन्य प्रोडक्ट बेचती है.

IPO के जरिए 650 करोड़ रुपये जुटाने की तैयारी में Gopal Snacks

Thursday November 23, 2023 , 2 min Read

राजकोट स्थित गोपाल स्नैक्स (Gopal Snacks) ने IPO के जरिए 650 करोड़ रुपये जुटाने की तैयारी कर रही है. कंपनी ने पूंजी बाजार नियामक भारतीय प्रतिभूति और विनिमय बोर्ड (SEBI) के पास ड्राफ्ट पेपर जमा किए हैं. कंपनी के ड्राफ्ट रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस (DRHP) के अनुसार, प्रस्तावित इश्यू पूरी तरह से प्रमोटरों और अन्य बिक्री शेयरधारक द्वारा इक्विटी शेयरों का ऑफर फोर सेल (OFS) है.

OFS में बिपिनभाई विट्ठलभाई हदवानी द्वारा ₹100 करोड़ तक के शेयर, गोपाल एग्रीप्रोडक्ट्स प्राइवेट लिमिटेड द्वारा ₹540 करोड़ तक और हर्ष सुरेशकुमार शाह द्वारा ₹10 करोड़ तक के शेयरों की बिक्री शामिल है. ऑफर में पात्र कर्मचारियों द्वारा सदस्यता के लिए आरक्षण भी शामिल है.

इंटेंसिव फिस्कल सर्विसेज, एक्सिस कैपिटल और जेएम फाइनेंशियल आईपीओ के बुक-रनिंग लीड मैनेजर हैं. कंपनी के इक्विटी शेयरों को बीएसई और एनएसई पर सूचीबद्ध करने का प्रस्ताव है.

बता दें कि गोपाल स्नैक्स एक फास्ट-मूविंग कंज्यूमर गुड्स (FMCG) कंपनी है जिसकी स्थापना 1999 में हुई थी और यह पूरे भारत और विदेशों में नमकीन, वेस्टर्न स्नैक्स और अन्य प्रोडक्ट बेचती है.

सितंबर 2023 तक, नमकीन निर्माताओं के प्रोडक्ट 10 राज्यों और दो केंद्र शासित प्रदेशों में बेचे गए और इसका तीन डिपो और 617 वितरकों का नेटवर्क है. कंपनी तीन विनिर्माण सुविधाएं संचालित करती है - गुजरात में राजकोट और मोडासा, और महाराष्ट्र में नागपुर.

कारोबार से कंपनियों का रेवेन्यू वित्त वर्ष21 में ₹1,128.86 करोड़ से बढ़कर वित्त वर्ष23 में ₹1,394.65 करोड़ हो गया और लाभ वित्त वर्ष21 में ₹21.12 करोड़ से बढ़कर वित्त वर्ष23 में ₹112.37 करोड़ हो गया. कंपनी, जो भारत में गाठिया की सबसे बड़ी निर्माता होने का दावा करती है, अपनी तुलना बीकाजी फूड्स इंटरनेशनल और प्रताप स्नैक्स जैसी सूचीबद्ध संस्थाओं से करती है.