IPO Alert: ये कंपनी ला रही है भारत का पहला REIT IPO, 3200 करोड़ रुपये जुटाने की योजना

यह भारत का पहला REIT IPO होगा, जो रेंट यील्डिंग करने वाली रिटेल रियल एस्टेट एसेट द्वारा समर्थित है. इस समय स्टॉक एक्सचेंज में तीन लिस्टेड REIT हैं, लेकिन ये सभी ऑफिस एसेट द्वारा समर्थित हैं.

ग्लोबल इन्वेस्टमेंट फर्म Blackstone द्वारा समर्थित Nexus Select Trus आगामी 9 मई को अपने एक रियल एस्टेट इनवेस्टमेंट ट्रस्ट (REIT) का IPO लॉन्च करने जा रहा है.

इस IPO के जरिये कंपनी की योजना 3,200 करोड़ रुपये तक जुटाने की है. यह भारत का पहला REIT IPO होगा, जो रेंट यील्डिंग करने वाली रिटेल रियल एस्टेट एसेट द्वारा समर्थित है. इस समय स्टॉक एक्सचेंज में तीन लिस्टेड REIT हैं, लेकिन ये सभी ऑफिस एसेट द्वारा समर्थित हैं.

Nexus Select Trust ने अपने IPO के लिए मार्केट रेगुलेटर SEBI पास दस्तावेज जमा किए हैं. जिसके मुताबिक, इस पब्लिक इश्यू का साइज 3,200 करोड़ रुपये है, जिसमें 1,400 करोड़ रुपये यूनिट तक का फ्रेश इश्यू, 1,800 करोड़ रुपये का ऑफर-फॉर-सेल (OFS) शामिल है.

इससे पहले Nexus Select ने अपने प्रस्तावित REIT पब्लिक इश्यू से 4,000 करोड़ रुपये तक जुटाने की योजना बनाई थी. पिछले साल नवंबर में, Nexus Select ने सेबी के पास अपने रिटेल REIT पब्लिक इश्यू लॉन्च करने के लिए ड्राफ्ट रेड हेरिंग प्रॉस्पेक्टस (DRHP) दायर किया था.

बता दें कि Nexus Select Trust के पास 14 प्रमुख शहरों में 17 ऑपरेशनल शॉपिंग मॉल का पोर्टफोलियो है, जो 9.8 मिलियन वर्ग फुट क्षेत्र को कवर करता है. यह ब्लैकस्टोन द्वारा समर्थित तीसरा REIT होगा. नेक्सस सेलेक्ट ट्रस्ट ने दक्षिण दिल्ली में सेलेक्ट सिटीवॉक मॉल को भी शामिल किया है.

इसने भारत का पहला REIT Embassy Office Parks, Mindspace Business Parks REIT लॉन्च किया.

REIT, विश्व स्तर पर एक लोकप्रिय साधन, भारत में कुछ साल पहले किराए पर देने वाली संपत्ति का मुद्रीकरण करके रियल एस्टेट क्षेत्र में निवेश आकर्षित करने के लिए पेश किया गया था. यह रियल एस्टेट संपत्तियों के बड़े मूल्य को अनलॉक करने में मदद करता है और खुदरा निवेशकों की भागीदारी को सक्षम बनाता है.

वर्तमान में, भारतीय स्टॉक एक्सचेंजों पर तीन सूचीबद्ध REIT - mbassy Office Parks REIT, Mindspace Business Parks REIT और Brookfield India Real Estate Trust  हैं, लेकिन ये सभी लीज पर दी गई ऑफिस एसेट्स हैं. 17 शॉपिंग मॉल में लगभग 3,000 स्टोर हैं जबकि ब्रांडों की संख्या लगभग 1,100 है.

यह भी पढ़ें
चालू वित्त वर्ष में भारतीय अर्थव्यवस्था 6.5% की दर से बढ़ेगी: नीति आयोग के सदस्य अरविंद विरमानी