दिसंबर, 2022 में GST रेवेन्यू कलेक्शन 1,49,507 करोड़ रुपये रहा, 15% की वर्ष दर वर्ष वृद्धि

By रविकांत पारीक
January 02, 2023, Updated on : Mon Jan 02 2023 08:23:23 GMT+0000
दिसंबर, 2022 में GST रेवेन्यू कलेक्शन 1,49,507 करोड़ रुपये रहा, 15% की वर्ष दर वर्ष वृद्धि
लगातार 10 महीनों के लिए मासिक GST रेवेन्यू 1.4 लाख करोड़ रुपये से अधिक रहा
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

पिछले माह दिसम्‍बर में वस्‍तु और सेवा कर (GST) संग्रह एक लाख 49 हजार करोड़ रुपये से अधिक रहा. वित्‍त मंत्रालय ने कहा है कि दिसम्‍बर 2021 की तुलना में दिसम्‍बर 2022 में GST राजस्‍व 15 प्रतिशत अधिक रहा.


एक साल पहले की समान अवधि की तुलना में पिछले महीने में वस्‍तुओं के आयात से होने वाली आय आठ प्रतिशत अधिक रही और घरेलू लेन-देन से होने वाली आय में 18 प्रतिशत की वृद्धि देखी गई.

दिया गया चार्ट चालू वर्ष के दौरान मासिक सकल जीएसटी राजस्व में रुझान को प्रदर्शित करता है.

दिया गया चार्ट चालू वर्ष के दौरान मासिक सकल जीएसटी राजस्व में रुझान को प्रदर्शित करता है.

दिसंबर, 2022 के दौरान संग्रहित सकल जीएसटी राजस्व 1,49,507 करोड़ रुपये का रहा है जिसमें से सीजीएसटी 26,711 करोड़ रुपये है, एसजीएसटी 33,357 करोड़ रुपये है, आईजीएसटी 78,434 करोड़ रुपये (वस्तुओं के आयात पर संग्रहित 40,263 करोड़ रुपये सहित) और उपकर 11,005 करोड़ रुपये (वस्तुओं के आयात पर संग्रहित 850 करोड़ रुपये सहित) है.


सरकार ने नियमित निपटान के रूप में आईजीएसटी से सीजीएसटी में 36,669 करोड़ रुपये तथा एसजीएसटी में 31,094 करोड़ रुपये का निपटान किया है. दिसंबर, 2022 के महीने के दौरान नियमित निपटान के बाद केंद्र और राज्यों का कुल राजस्व सीजीएसटी के लिए 63,380 करोड़ रुपये तथा एसजीएसटी के लिए 64,451 करोड़ रुपये रहा है.


दिसंबर, 2022 के महीने के दौरान राजस्व पिछले वर्ष के समान महीने में जीएसटी राजस्व की तुलना में 15 प्रतिशत अधिक है. महीने के दौरान, वस्तुओं के आयात से राजस्व 8 प्रतिशत अधिक तथा घरेलू कारोबार (सेवाओं के आयात सहित) से राजस्व पिछले वर्ष के समान महीने के दौरान इन स्रोतों से प्राप्त राजस्व की तुलना में 18 प्रतिशत अधिक रहा है. नवंबर, 2022 के महीने के दौरान, 7.9 करोड़ ई-वे बिल जेनरेट किए गए जो अक्टूबर 2022 में जेनेरेट किए गए 7.6 करोड़ ई-वे बिल की तुलना में उल्लेखनीय रूप से अधिक थे.


इससे पहले, नवंबर के आखिरी हफ्ते में, केंद्र सरकार ने अप्रैल से जून, 2022 की अवधि के लिए बकाया जीएसटी मुआवजे के लिए राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों को 17,000 करोड़ रुपये की राशि जारी की. वर्ष 2022-23 के दौरान उपरोक्त राशि सहित राज्यों/संघ शासित प्रदेशों को अब तक जारी मुआवजे की कुल राशि 1,15,662 करोड़ रुपये हो गई है.


आपको बता दें कि पिछले महीने, यानि की नवंबर में, माल और सेवा कर (Goods and Services Tax - GST) रेवेन्यू कलेक्शन एक लाख 45 हजार करोड़ रुपए से अधिक रहा. वित्त मंत्रालय के अनुसार, सकल जीएसटी राजस्व संग्रह नवंबर महीने में 1,45,867 करोड़ रुपये रहा. यह लगातार नौवां महीना है जब GST रेवेन्यू कलेक्शन एक लाख 40 हजार करोड़ रुपये से अधिक हुआ है.

यह भी पढ़ें
100 साल का हुआ ये बैंक, जश्न में सराबोर 7.10% तक बढ़ाई एफडी रेट
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close