Sukino Healthcare ने सीरीज ए फंडिंग राउंड में 50 करोड़ रुपये जुटाए

इस फंडिंग का इस्तेमाल नए जगहों पर केयर सेंटर खोलने और नए तरह के रिहैबिलेशन शुरू करने में करेगी. इससे पहले स्टार्टअप ने क्रिस गोपालकृष्णन के फैमिली ऑफिस से पैसे जुटाए थे जिसे मोहनदास पई जैसे निवेशकों ने लीड किया था.

Sukino Healthcare ने सीरीज ए फंडिंग राउंड में 50 करोड़ रुपये जुटाए

Wednesday March 22, 2023,

3 min Read

हाइलाइट्स

  • Sukino Healthcare Solutions ने स्टेकबोट कैपिटल से सीरीज ए फंडिंग राउंड में 50 करोड़ रुपये का इक्विटी इनवेस्टमेंट जुटाया है.
  • इस फंडिंग का इस्तेमाल नए केयर सेंटर बनाने और नए तरह के रिहैबिलेशन सेंटर बनाने में किया जाएगा.
  • इससे पहले क्रिस गोपालकृष्णन और मोहनदास पई जैसे निवेशकों ने कंपनी में पैसे लगाए थे.

सुकिनो हेल्थकेयर सलूशन ने (Sukino Healthcare Solutions) ने स्टेकबोट कैपिटल से सीरीज ए फंडिंग राउंड में 50 करोड़ रुपये का इक्विटी इनवेस्टमेंट जुटाया है.

2015 में शुरू हुई बेंगलुरु की यह कंपनी मरीजों की लॉन्ग टर्म जरूरतों जैसे न्यूरोलॉजिकल इंपेयरमेंट से जुड़ी दिक्कतों, दिल की बीमारियां, कैंसर, सांस की तकलीफ, किडनी की बीमारी और ऑपरेशन के बाद की क्लिनिकल केयर जैसी सर्विसेज देती है. कंपनी अपने केयर सेंटर्स पर और मरीजों के भर भी ये सर्विसेज ऑफर करती है.

सुकिनो ने अपने बयान में कहा कि कंपनी इस फंडिंग का इस्तेमाल नए जगहों पर केयर सेंटर खोलने और नए तरह के रिहैबिलेशन शुरू करने में करेगी. इससे पहले स्टार्टअप ने क्रिस गोपालकृष्णन के फैमिली ऑफिस से पैसे जुटाए थे जिसे मोहनदास पई जैसे निवेशकों ने लीड किया था.

सुकिनो हेल्थकेयर के सीईओ रजनीश मेनन ने कहा, हम अपने मौजूदा इनवेस्टर्स के साथ काम करने का मौका हम इसके लिए खुद को खुशकिस्मत मानते हैं. आज सुकिनो जो भी है उसमें क्रिस गोपालकृष्णन और मोहनदास पई का बड़ा हाथ रहा है.

Stakeboat के एमडी चंद्रशेखर कांडासामी के हमारे साथ जुड़ने के बाद से हमें भरोसा है कि हम और तेजी से अपना विस्तार कर पाएंगे और अपनी ऑफरिंग को बढ़ा पाएंगे."

कंपनी ने कहा कि उसने 5 सेंटर्स पर 10 हजार से ज्यादा मरीजों को अपनी सेवा दी है. इन सेंटरों को अब तीन साल में बढ़ाकर 20 तक करने का इरादा है. जिनमें 1500 से ज्यादा बेड रखे जाएंगे. इस डील के लिए वेदा कॉरपोरेट एडवाइजर्स ने सुकिनो हेल्थकेयर सलूशंस के लिए फाइनेंशल एडवाइजर का काम किया है.

कांडासामी ने कहा, हम सुकिनो हेल्थकेयर के पार्टनर बनके बेहद खुश हैं. भारत में रिहैबिलेशन इंडस्ट्री आने वाले सालों में कई गुना रफ्तार से बढ़ने वाली है. इस इंडस्ट्री का मार्केट 17 अरब डॉलर से बढ़कर 35 अरब डॉलर पर पहुंचने वाला है. बढ़ते इंश्योरेंस कवर और नई टेक्नोलॉजी इसमें अहम भूमिका निभाएंगे.

उन्होंने कहा, सुकिनो में हमारा इनवेस्टमेंट कंपनी को इस मार्केट में अच्छा खासा हिस्सा लेने में मदद करेगा. हमने छोटे और मिडियम आंत्रप्रेन्योर्स को ढूंढकर उनकी मदद करने का वादा किया था, सुकिनो में हमारा निवेश इस वादे का सबूत है.

आपको बता दें कि रजनीश मेनन ने 2015 में सुकिनो को शुरू किया था. वहीं, 2017 में शुरू हुई स्केटबोट कैपिटल इंडिया में छोटे और मिडियम एंटरप्राइजेज पर फोकस करती है. कंपनी 1500 करोड़ रुपये से ज्यादा असेट मैनेज करती है. यह हेल्थकेयर और लाइफ साइंस , बी2बी टेक्नोलॉजी कंपनियों में पैसे लगाती है.


Edited by Upasana

Montage of TechSparks Mumbai Sponsors