15 अगस्त: देश ने आजाद सुबह का सूरज देखा

15th Aug 2019
  • +0
Share on
close
  • +0
Share on
close
Share on
close
15

फोटो साभार (Shutterstok)



अंग्रेजों की लंबी गुलामी के बाद भारत ने आखिरकार 15 अगस्त 1947 को आजाद हवा में सांस ली और आजाद सुबह का सूरज देखा। हालांकि इस सूरज में बंटवारे के जख्म की लाली भी थी। बंटवारे के बाद मिली आजादी खुशी के साथ ही दंगों और सांप्रदायिक हिंसा का दर्द भी दे गई।


15 अगस्त की तारीख भारतीय डाक सेवा के इतिहास में एक खास कारण से दर्ज है। दरअसल 1972 में 15 अगस्त के ही दिन पोस्टल इंडेक्स नंबर अर्थात पिन कोड लागू किया गया था। हर इलाके के लिए अलग पिन कोड होने से डाक की आवाजाही में आसानी होने लगी।


देश दुनिया के इतिहास में 15 अगस्त की तारीख पर दर्ज अन्य प्रमुख घटनाओं का सिलसिलेवार ब्यौरा इस प्रकार है :- 


1519 : पनामा शहर बनाया गया।


1854 : ईस्ट इंडिया रेलवे ने कलकत्ता (अब कोलकाता) से हुगली तक पहली यात्री ट्रेन चलाई, हालांकि आधिकारिक तौर पर इसका संचालन 1855 में शुरू हुआ।


1886 : भारत के महान संत एवं विचारक गुरु रामकृष्ण परमहंस उर्फ गदाधर चटर्जी का निधन।


1947 : भारत को अंग्रेज़ों की हुकूमत से आजादी मिली।


1947 : पंडित जवाहरलाल नेहरू ने आजाद भारत के पहले प्रधानमंत्री के रूप में शपथ ली।


1947 : रक्षा वीरता पुरस्कार-परमवीर चक्र, महावीर चक्र और वीर चक्र की स्थापना।


1975 : बांग्लादेश में सैनिक क्रान्ति।


1950 : भारत में 8.6 के तीव्रता वाले भूकम्प के कारण 20 से 30 हजार लोग मारे गये।


1971 : बहरीन ब्रिटेन के शासन से आजाद हुआ।


1972 : पोस्टल इंडेक्स नंबर अर्थात पिन कोड लागू किया गया।


1982 : राष्ट्रव्यापी रंगीन प्रसारण और टीवी के राष्ट्रीय कार्यक्रम की शुरुआत 1990 : जमीन से हवा में मार करने वाली मिसाइल आकाश का सफल प्रक्षेपण।


2004 : लारा सबसे तेज 10,000 रन बनाने वाले बल्लेबाज बने।


2007 : दक्षिण अमेरिकी देश पेरु के मध्य तटीय इलाके में 8.0 तीव्रता के भूकंप से 500 से ज्यादा लोगों की मौत।




  • +0
Share on
close
  • +0
Share on
close
Share on
close

Our Partner Events

Hustle across India