पेट्रोल पंप हुए डिजिटल

    ई-बटुआ व मोबाइल बटुआ के बढ़े उपयोक्ता।

    3rd Dec 2016
    • +0
    Share on
    close
    • +0
    Share on
    close
    Share on
    close

    नोटबंदी के बाद डिजिटल भुगतान को बढ़ावा देने के प्रयासों के तहत देश भर में पेट्रोल पंपों ने क्रेडिट व डेबिट कार्ड स्वीकार करने का ढांचा खड़ा कर लिया है। यही नहीं ये पंप नकदी के विकल्प के रूप में ई-बटुआ व मोबाइल बटुआ को भी स्वीकार कर रहे हैं।

    image


    देश भर में 4,800 से अधिक पेट्रोल पंप पीओएस मशीन के जरिए 2,000 रुपये प्रति कार्ड नकदी भी दे रहे हैं। बीते दो सप्ताह में इस तरह से 65 करोड़ रुपये दिए गए हैं।

    पेट्रोलियम मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने इस बारे में एक पहल की औपचारिक शुरुआत की है। इस अवसर पर उन्होंने कहा, कि हम पहले चरण में 53,077 पेट्रोल पंपों पर महीने भर के जागरुकता अभियान की शुरूआत कर रहे हैं, ताकि डिजिटल भुगतान सेवाओं के इस्तेमाल को बढावा दिया जा सके। इसके तहत पेट्रोल पंप कियोस्क लगाएंगे और न केवल पेट्रोल डीजल खरीदने वालों बल्कि अन्य को भी ई भुगतान समाधानों के बारे में बताएंगे। दूसरे चरण में इसे 18,000 रसोई गैस (एलपीजी) वितरण गैस एजेंसियों व सीएनजी पंपों पर लागू किया जाएगा।

    डिजिटल भुगतान न केवल भुगतान का आसान तरीका है बल्कि इससे कर चोरी व कालेधन पर लगाम लगाने में भी मदद मिलेगी।

    पेट्रोलियम मंत्री ने कहा, सभी राजधानियों तथा प्रमुख शहरों में हमारे दो तिहाई पेट्रोल पंप अब डिजिटल भुगतान समाधान से लैस हैं। देश भर में 29,905 पेट्रोल पंपों में पीओएस मशीनें लगी हैं जहां कार्ड स्वाइप कर ईंधन का भुगतान किया जा सकता है या नकदी ली जा सकती है। इसके साथ ही 4,700 पंपों पर अब ई-बटुआ व मोबाइल बटुआ स्वीकार किए जा रहे हैं।

    1000 से 1200 पेट्रोल पंप इस सेवा से हर दूसरे दिन जोड़े जा रहे हैं।

    कैशलेश सिस्टम के चलते आम आदमी पेमेंट अपने डेबिट कार्ड या क्रेडिट कार्ड से करता आया है, लेकिन अब एक ऐसा ऐप आ गया है, जिसके द्वारा आसानी से पेट्रोल पंप पर भुगतान कर सकते हो। 

    हाल में भारत की ऑनलाइन ट्रांसपोर्टेशन नेटवर्क कंपनी ओला ने ‘ओला मनी’ नाम का मोबाइल वॉलेट पेश किया है, जिसमे इस सेवा के अनुरूप ओला ने पेट्रोलियम कंपनी हिंदुस्तान पेट्रोलियम (एचपीसीएल) और इंडियन आयल (आईओसीएल) के साथ गठबंधन किया है।

    ऑनलाइन ट्रांसपोर्टेशन नेटवर्क कंपनी ओला ने ‘ओला मनी’ के नाम से पेश इस सेवा द्वारा हिन्दुस्तान पेट्रोलियम कोर्पोरेशन और इंडियन ऑयल कोर्पोरेशन के देश भर के 20,000 से अधिक पेट्रोल पंपों पर भुगतान किया जा सकेगा। जिसमे उपभोक्ता वन स्टेप मोबाइल वेरिफिकेशन के जरिये भुगतान किया जा सकेगा. यह भुगतान पीओएस डिवाइस के माध्यम से होगा। इस बारे में एक बयान देते हुए ओला मनी के सीनियर वाईस प्रेजिडेंट और चीफ पल्लव सिंह ने बताया है कि यह कदम केश लेस सुविधा को ध्यान में रखते हुए उठाया गया है। जिसमें यूज़र्स आसानी से इसका इस्तेमाल कर सकेंगे। 

    प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी ने भी देशवासियों से ‘नकदी रहित लेनदेन’ की राह पकड़ने की अपील की हैं।

    Want to make your startup journey smooth? YS Education brings a comprehensive Funding and Startup Course. Learn from India's top investors and entrepreneurs. Click here to know more.

    • +0
    Share on
    close
    • +0
    Share on
    close
    Share on
    close

    Our Partner Events

    Hustle across India