संस्करणों

अब शर्माना कैसा 'thatspersonal.com' है न....

- ऑनलाइन सेक्स प्रोडक्टस बेचता है ये पोर्टल- समीर और लहकेश ने रखी कंपनी की नीव- जबर्दस्त सफलता से साथ आगे बढ़ रहा है ये ऑनलाइन स्टोर, हर क्वाटर 50 प्रतीशत से ज्यादा ग्रोथ

Ashutosh khantwal
24th Oct 2016
Add to
Shares
1
Comments
Share This
Add to
Shares
1
Comments
Share

2011 में जब समीर शारिया सिंगापुर से भारत आए तो ई-कॉमर्स में अचानक आए बूम ने उन्हें चौंका दिया और उन्होंने तय किया कि इस तेजी से बढ़ते बाजार में वे भी अपने पैर जमाएंगे। समीर के पास 15 साल का मीडिया का तजुर्बा था और वो दुनिया की बेहतरीन मल्टीनेश्नल्स के साथ काम कर चुके थे। तजुर्बे और हुनर में समीर किसी से कम नहीं थे लेकिन एक नए काम को करने के लिए काफी रिसर्च की जरूरत होती है। चूंकि समीर मन बना चुके थे कि उन्हें अब भारत में ही रहना है और ई-कॉमर्स इंडस्ट्री में अपनी जगह बनानी है इसलिए उन्होंने रिसर्च शुरी की और इंडस्ट्री की बारीकियों को जानने का प्रयास किया। उन्होंने विभन्न सेक्टर्स की एक लिस्ट तैयार की। विभिन्न कंपनियों की मार्केटिंग पॉलिसी को गौर से समझा कंपनियों के लागत व मुनाफे की डीटेल एकत्रित की।

image


समीर ने देखा कि चाहे वो सामान हो, वाहन हो, किताबे हों लगभग हर विषय पर बाजार में कई साइट्स मौजूद थीं। इसलिए उन्हें किसी एक विषय को चुनने में खासी दिक्कत आ रही थी। वे चाहते थे कि जिस भी विषय को वे चुने वो काफी अलग हो और उस पर ज्यादा प्रतिस्पर्धी न हों। उन्हें रिसर्च में काफी समय लगा लेकिन अंत में उन्होंने तय किया कि वे अपनी ई-कॉमर्स साइट के जरिए सेक्स प्रोडक्ट्स उसमें भी मुख्यतः कौंडोम्स बेचेंगे।

भारत में लोग इस विषय पर बात करने से कतराते हैं और उन्हें बाजार से कॉडोम्स खरीदने में दिक्कत भी होती थी लेकिन अगर दूसरा पक्ष देखा जाए तो मांग के बावजूद इस क्षेत्र में कोई ऐसी ई-कॉमर्स कंपनी नहीं थी जो इसी विषय पर फोकस कर रही हो। उन्होंने खुद के द्वारा किये सर्वे में पाया कि भारत के हर छोटे-बड़े शहरों में कौंडोम्स की जरूरत थी लेकिन उन्हें इसको खरीदने में दिक्कत होती थी। ये बहुत बड़ी ऑनलाइन मार्केट हो सकती थी लेकिन किसी ने भी इस दिशा में सोचा नहीं था। जब समीर ने अपने इस आइडिया को अपने मित्र लहकेश ढोलकिया के साथ साझा किया तो उन्हें भी इस काम में काफी फायदा दिखा और उन्हें भी ये आइडिया काफी पसंद आया लहकेश पेशे से वकील हैं उन्होंने इस काम की सारी लीगल जानकारी हांसिल की और समीर को काम शुरू करने को कहा और उसके बाद नीव रखी गई thatspersonal.com की समीर और लहकेश दोनों ने इस कार्य में पैसा लगाया और एक बेहतरीन साइट तैयार की। इसी दौरान समीर ने अपने दो अन्य मित्रों विक्रम वर्मा और अभय को भी अपने साथ जोड़ा और कार्य को तेज गति से आगे बढ़ाया। इस साइट के माध्यम से वे अब विभिन्न सेक्स उत्पादों को बेचते हैं।

image


ये कंपनी मुबंई बेस्ड है। कंपनी को जनवरी 2013 में भव्य तरीके से शुरू किया गया और विभन्न मैगजीन्स और वेब पोर्टल में कंपनी को कवरेज मिली। जिस कारण साइट पर आने वाले लोगों की संख्या अचानक काफी बढ़ गई ये संख्या इतनी अधिक थी कि लांच के 10 दिन के अंदर ही साइट क्रैश हो गई। कंपनी की सफलता का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि हर क्वाटर में कंपनी की ग्रोथ रेट 50 से 100 प्रतीशत तक बढ़ रहा है।

Add to
Shares
1
Comments
Share This
Add to
Shares
1
Comments
Share
Report an issue
Authors

Related Tags

Latest Stories

हमारे दैनिक समाचार पत्र के लिए साइन अप करें