ट्रेन में टिकट अपग्रेड करने का मौका चाहिए तो करें सिर्फ डिजिटल पेमेंट

ट्रेन में टिकट अपग्रेड करने का मौका चाहिए तो करें सिर्फ डिजिटल पेमेंट

Tuesday October 03, 2017,

3 min Read

अभी भी टिकट अपग्रेड करने की सुविधा है लेकिन अब यह सिर्फ डिजिटल पेमेंट वालों के लिए सीमित करने पर विचार हो रहा है ताकि अधिक से अधिक लोग डिजिटल पेमेंट करके ही अपनी रेल यात्रा का टिकट खरीदें।

सांकेतिक तस्वीर

सांकेतिक तस्वीर


रेलवे में टिकट के ऑटो अपग्रेडेशन का सिस्टम होता है जिसके तहत अगर किसी उच्च श्रेणी के कोच में सीट खाली होती है तो उससे नीचे वाली श्रेणी के टिकट वालों को उसमें भेज दिया जाता है।

 अपग्रेड करने के प्रस्ताव को मंजूरी मिलती है तो उस स्थिति में अगर किसी यात्री ने डिजिटल पेमेंट करके थर्ड एसी का टिकट लिया है लेकिन अगर सेकंड एसी में जगह खाली है तो ऐसे यात्रियों को टिकट अपग्रेड करने में प्राथमिकता दी जा सकेगी।

सरकार देश में डिजिटल पेमेंट को लागू करने की दिशा में हरसंभव प्रयास कर रही है। इसीलिए हर एक सर्विस में डिजिटल पेमेंट की सुविधा को बढ़ावा दिया जा रहा है और इसके लिए ग्राहकों को छूट भी दी जा रही है। अब रेलवे इस अपने यात्रियों को टिकट के लिए डिजिटल भुगतान के प्रयासों पर जोर दे रहा है। रेलवे ने एक योजना बनाई है जिसके तहत सिर्फ उन यात्रियों के टिकट अपडेट किए जाएंगे जिन्होंने डिजिटल पेमेंट के जरिए टिकट लिए होंगे। रेलवे में टिकट के ऑटो अपग्रेडेशन का सिस्टम होता है जिसके तहत अगर किसी उच्च श्रेणी के कोच में सीट खाली होती है तो उससे नीचे वाली श्रेणी के टिकट वालों को उसमें भेज दिया जाता है।

डिजिटल पेमेंट करके टिकट खरीदने के लिए प्रोत्साहित करने के लिए इस पर विचार कर हो रहा है कि अब उन यात्रियों के टिकट ही अपग्रेड किए जाएं, जिन्होंने डिजिटल पेमेंट करके टिकट खरीदे होंगे। हालांकि टिकट तभी अपग्रेड होगा, जबकि यात्री की टिकट से अगली श्रेणी के कोच में कोई सीट खाली हो। इंडियन रेलवे के सूत्रों का कहना है कि अभी यह प्रस्ताव ही है और इस पर रेलवे में विभिन्न स्तरों पर विचार किया जा रहा है। अगर इसे उच्चस्तर से सहमति मिलती है तो उसके बाद औपचारिक तौर पर इस बारे में आदेश जारी किया जाएगा। रेलवे सूत्रों का कहना है कि दरअसल, अभी भी टिकट अपग्रेड करने की सुविधा है लेकिन अब यह सिर्फ डिजिटल पेमेंट वालों के लिए सीमित करने पर विचार हो रहा है ताकि अधिक से अधिक लोग डिजिटल पेमेंट करके ही अपना रेल यात्रा टिकट खरीदें।

रेलवे अधिकारियों का कहना है कि मोदी सरकार डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए प्रयास कर रही है। रेलवे भी चाहता है कि डिजिटल पेमेंट हो ताकि उसके खर्चों में कमी आ सके। रेलवे सूत्रों के मुताबिक अगर डिजिटल पेमेंट वालों के टिकट ही अपग्रेड करने के प्रस्ताव को मंजूरी मिलती है तो उस स्थिति में अगर किसी यात्री ने डिजिटल पेमेंट करके थर्ड एसी का टिकट लिया है लेकिन अगर सेकंड एसी में जगह खाली है तो ऐसे यात्रियों को टिकट अपग्रेड करने में प्राथमिकता दी जा सकेगी। इसी तरह से सेकंड एसी वाले यात्रियों की भी सीट ऐसी स्थिति में अपग्रेड हो सकती है।

पिछले साल हुई नोटबंदी के बाद रेलवे ने पेमेंट स्वीकार करने के लिए यूपीआई, यूएसएसडी, ई-वॉलेट आधार से संबंद्ध भुगतान प्रणाली की सुविधा प्रदान कर रहा है। रिजर्वेशन काउंटर से भी टिकट कराने पर भी वहां डिजिटल तौर पर भुगतान स्वीकार करने की सुविधा है। इसके अलावा डिजिटल तरीकों जैसे कि डेबिट/क्रेडिट कार्डो के उपयोग के जरिए रेस्ट रूम की बुकिंग पर पांच फीसदी डिस्काउंट दिया जाता है। डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने के लिए रेलवे कैटरिंग सर्विस पर भी छूट प्रदान करता है।

यह भी पढ़ें: कार चलाने के अधिकार के बाद सऊदी में महिला ड्राइविंग स्कूल की घोषणा