दूरदराज इलाकों में जहां एटीएम की नहीं है सुविधा, वहां 'पे-वर्ल्ड' करेगा नकद भुगतान

By योरस्टोरी टीम हिन्दी
November 18, 2015, Updated on : Thu Sep 05 2019 07:19:24 GMT+0000
दूरदराज इलाकों में जहां एटीएम की नहीं है सुविधा, वहां 'पे-वर्ल्ड' करेगा नकद भुगतान
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

पीटीआई


image


देश के दूरदराज इलाकों में जहां एटीएम सुविधा नहीं है, लोगों को नकद राशि प्राप्त करने में परेशानी होती है, वहां पे-वर्ल्ड ने समस्या का निदान करने के लिये भारतीय स्टेट बैंक के साथ गठबंधन कर भुगतान सुविधा की पहल की है। इससे प्रधानमंत्री की जनधन योजना के तहत रूप डेबिट कार्ड रखने वाले खाताधारकों को भी सुविधा मिलेगी।

पे-वर्ल्ड ने ऐसे दूरदराज इलाके जहां एटीएम नहीं हैं वहां किराना और दवा की दुकान चलाने वाले खुदरा विक्रेताओं के जरिये भुगतान की सुविधा की है। इसके लिये कोई अतिरिक्त जगह अथवा भारी भरकम मशीन की जरूरत नहीं है। दुकानदार को अपने स्मार्ट फोन में केवल पे-वर्ल्ड की एप लोड करनी है और कार्ड रीडर को फोन के साथ जोड़ना है। दुकानदार को ग्राहक के डेबिट कार्ड को स्वैप कर बैंक से मंजूरी मिलने के बाद ग्राहक को नकदी उपलब्ध करानी है।

पे-वर्ल्ड की यहां जारी विज्ञप्ति के अनुसार डेबिट कार्ड रखना वाला कोई भी व्यक्ति इस योजना के तहत दूरदराज इलाकों में 2,000 रपये तक नकद राशि प्राप्त कर सकता है। पे-वर्ल्ड के मुख्य संचालन अधिकारी प्रवीण धबाई ने कहा, ‘‘हमारी शुरू में 500 दुकानदारों को इसमें शामिल करने की योजना है और उसके बाद मार्च 2016 तक देशभर में 5,000 खुदरा विक्रेताओं को इस योजना से जोड़ा जायेगा।’’ पे-वर्ल्ड 2 अरब डालर की चेन्नई की सुगल एण्ड दमाणी समूह का हिस्सा है।

धबाई ने कहा कि प्रधानमंत्री जनधन योजना के तहत कई लोग बैंकों से जुड़े हैं। उनके पास रूपे कार्ड भी है लेकिन ग्रामीण इलाकों में एटीएम नहीं होने की वजह से वह कार्ड का इस्तेमाल नहीं कर पाते हैं। पे-वर्ल्ड की इस योजना से उन्हें नकदी पाने में सुविधा होगी। इस योजना में ग्राहक किसी भी बैंक के डेबिट कार्ड का इस्तेमाल करते हुये पैसा प्राप्त कर सकते हैं।