Amazon ने इंडिया में शुरू की अपनी कार्गो सर्विस, इन चार शहरों में और जल्दी पहुंचेगी डिलीवरी

By yourstory हिन्दी
January 24, 2023, Updated on : Tue Jan 24 2023 06:46:55 GMT+0000
Amazon ने इंडिया में शुरू की अपनी कार्गो सर्विस, इन चार शहरों में और जल्दी पहुंचेगी डिलीवरी
ऐमजॉन इंडिया ने इस सर्विस के लिए दो बोइंग 737-800 एयरक्राफ्ट लीज पर लिए हैं जिनके ऑपरेशन का काम क्विकजेट ऐमजॉन एयर के अंतर्गत देखेगी. एक एयरक्राफ्ट 20,000 शिपमेंट्स को कैरी ले जाएगा, जिन्हें स्पीड के आधार प्राथमिकता दी जाएगी.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

ईकॉमर्स कंपनी Amazon इंडिया ने फास्ट डिलीवरी सर्विस सुनिश्चित करने के लिए कार्गो फ्लाइट सर्विस ऐमजॉन एयर की शुरुआत की है. कंपनी के मुताबिक इस सर्विस से हैदराबाद, दिल्ली, मुंबई और बेंगलुरु में फास्ट डिलीवरी की जाएगी.


ऐमजॉन इंडिया ने बेंगलुरु में बसे क्विकजेट कार्गो एयरलाइन्स के साथ पार्टनरशिप की है, जिसके प्रमोटर्स में एएफएल शामिल है और आयरलैंड की एएसएल एविएशन ग्रुप का हिस्सा है.


ऐमजॉन इंडिया ने इस सर्विस के लिए दो बोइंग 737-800 एयरक्राफ्ट लीज पर लिए हैं जिनके ऑपरेशन का काम क्विकजेट ऐमजॉन एयर के अंतर्गत देखेगी. एक एयरक्राफ्ट 20,000 शिपमेंट्स को कैरी ले जाएगा, जिन्हें स्पीड के आधार प्राथमिकता दी जाएगी.

कैसे करेगी काम

सामानों को फुलफिलमेंट सेंटर्स से सॉर्टिंग सेंटर भेजा जाएगा. जहां ये फैसला होगा कि ऑर्डर्स को रोड के जरिए भेजना है या ट्रेन से या हवाई मार्ग से.


कस्टमर्स ने ऑर्डर की डिलीवरी के लिए जैसी स्पीड की मांग की है उस आधार पर ट्रांसपोर्टेशन का माध्यम चुना जाएगा. ये kस्टमर्स प्राइम मेंबरशिप वाले हो सकते हैं या फिर जिन लोगों ने वन-डे डिलीवरी सर्विस को चुना है.


सेंटर टावर के अनुसार सितंबर 2022 तक भारत में 50 लाख के आसपास प्राइम मेंबर्स हैं. प्राइम मेंबर्स को ओटीटी कटेंट, म्यूजिक, फास्टर डिलीवरी स्पीड और स्पेशल सेल प्रीव्यू जैसी सुविधाएँ मिलती हैं.


कस्टमर फुलफिलमेंट के डायरेक्टर सप्लाई चेन और ऐमजॉन ट्रांसपोर्टेशन सर्विसेज अभिनव सिंह ने कहा, ऐमजॉन इंडिया को इस सर्विस से हाई डिमांड वाले फेस्टिव सीजन के दौरान डिलीवरी जल्द पहुंचाने में काफी मदद मिलेगी.और सेल्स में भी इसका फायदा नजर आएगा.


सीनियर एग्जिक्यूटिव्स ने कहा, वैसे को ऐमजॉन इंडिया पहले से भारत में कमर्शल एयरलाइन्स के साथ काम कर रहा है लेकिन अपना खुद का फ्लीट आ जाने से उसके लिए कई चीजें आसान हो जाएंगी. फ्लेक्सिबिलिटी मिलने के साथ कंपनी अपने कस्टमर्स को अच्छा बाइंग एक्सपीरियंस दे पाएगी.


ऐमजॉन ग्लोबल एयर के वाइस प्रेजिडेंट ने सारा रोड्स ने योरस्टोरी को बताया, डिलीवरी के लिए कंपनी के पास खुद का एयरक्राफ्ट होने से हम अपनी जरूरत के हिसाब से विमान के उड़ान भरने का समय तय कर सकते हैं.


कट ऑफ टाइम से ज्यादा काम करके भी दो दिन में कस्टमर्स को डिलीवरी सुनिश्चित कर सकेगी. अपने एयरक्राफ्ट के साथ हम कैरिएज कंट्रोल शेड्यूल खुद तय करेंगे इसके लिए किसी और द्वारा तय टाइमिंग पर निर्भर नहीं होना होगा.


ऐमजॉन एयर सर्विसेज को भारत में इंडियन और ग्लोबल टीम्स दोनों के जरिए मैनेज किया जाएगा. हालांकि इस वर्टिकल पर कितने लोग काम करेंगे अभी इसकी संख्या की जानकारी नहीं दी गई है.


कस्टमर फुलफिलमेंट के वाइस प्रेजिडेंट अखिल सक्सेना (APAC, MENA और LATAM) और WW कस्टमर सर्विस ने कहा, ग्लोबल टीम 2016 से ये सर्विस चला रही है. इंडियन टीम जमीनी स्तर पर ऑपरेशन में मजबूत है.


यहां पर नेटवर्क मॉनिटरिंग और नेटवर्क डिजाइन को सेंट्रल रखा जाएगा. ये बेहद करीबी पार्टनरशिप है और कौन क्या काम करेगा इसे लेकर बहुत ज्यादा काम वगैरह नहीं बांटे जाएंगे. टीम के पूरे लोग इसमें लगे रहेंगे. 


उन्होंने आगे कहा कि ऐमजॉन एयर पर काम करने वाली इंडिया टीम एमजॉन के ट्रांसपोर्ट टीम के मिड-माइल सलूशंस का हिस्सा है. इस नए सर्विस के लॉन्चिंग में कितना खर्च या निवेश किया गया इस बारे में सीनियर्स ने कोई टिप्पणी नहीं की.


Edited by Upasana

Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close