मुझे ‘मिस्टर परफेक्शनिस्ट’ नहीं ‘मिस्टर पैशनेट’ कहें

फिल्मों के रचनात्मक क्षेत्र में बहुत सी राय होती हैं और ‘परफेक्शन’ हासिल कर पाना कभी संभव नहीं है : आमिर खान

मुझे ‘मिस्टर परफेक्शनिस्ट’ नहीं ‘मिस्टर पैशनेट’ कहें

Friday December 09, 2016,

3 min Read

फिल्मों के चयन में बेहद सावधानी बरतने और एक-एक बारीकी पर ध्यान देने के कारण सुपरस्टार आमिर खान को ‘मिस्टर परफेक्शनिस्ट’ कहकर पुकारा जाता है लेकिन खुद आमिर का मानना है, कि यह उनके लिए सही नाम नहीं है। उनका कहना है कि उन्हें दरअसल ‘मिस्टर परफेक्शनिस्ट’ के बजाय ‘मिस्टर पैशनेट’ कहकर पुकारा जाना चाहिए।

आमिर खान का लेटेस्ट दंगल लुक

आमिर खान का लेटेस्ट दंगल लुक


मैं कभी भी ‘परफेक्शनिस्ट’ कहे जाने का बोझ महसूस नहीं करता, क्योंकि मुझे इस तमगे में यकीन ही नहीं है।

सुपर स्टार आमिर खान कहते हैं, कि 'परफेक्शनिस्ट शब्द कभी मेरे ऊपर दबाव नहीं बनाता और न ही मैं उसे कभी अपने ऊपर हावी होने देता हूं। असल में मैं इस तमगे में यकीन ही नहीं रखता। यह तमगा दरअसल गलत है। मुझपर जो तमगा सही बैठता है, वह ‘मिस्टर परफेक्शनिस्ट’ नहीं बल्कि ‘मिस्टर पैशनेट’ है। मैं यही हूं।’ 

गौरतलब है, कि आमिर खान नीतीश तिवारी की खेल आधारित नाट्य फिल्म ‘दंगल’ में जल्दी ही नज़र आने वाले हैं। इस फिल्म के चलते आमिर इन दिनों चर्चा में भी हैं। आमिर एक ऐसे कलाकार हैं, जो अपने हर फिल्मी किरदार को डूब कर निभाने में यकीन रखते हैं और जिसके चलते वे अपनी प्रत्येक फिल्म में एक नये अवतार में नज़र आते हैं और उनका लुक उनके चाहनेवालों के दिलों में उत्सुकता भर देता है। लोगों का मानना है, कि आमिर खान बेहद चूज़ी मिजाज़ के अभिनेता हैं और उनके लिए सबसे ऊपर परफेक्शन है, लेकिन आमिर का कहना है, कि फिल्मों के रचनात्मक क्षेत्र में बहुत सी राय होती हैं और ‘परफेक्शन’ हासिल कर पाना संभव नहीं है। 

मेरे हिसाब से परफेक्शन कुछ होता ही नहीं है। रचनात्मक क्षेत्र में तो बिल्कुल नहीं। यहां बहुत से अलग-अलग मत होते हैं, ऐसे में कोई भी एक विचार एकदम सटीक कैसे हो सकता है : आमिर खान

आमिर खान का कहना है, कि किसी एक शॉट में उनके लिए ‘परफेक्शन’ का मतलब तकनीकी रूप से त्रुटिहीन होना नहीं है, बल्कि उनके लिए यहां परफेक्शन का मतलब उस दृश्य की जान को फिल्मा लेना है। आगे उन्होंने कहा, ‘जब मैं किसी दृश्य में होता हूं, तो कई चीजों में सटीकता की जरूरत होती है। बहुत सी तकनीकी समस्याएं होती हैं, जिनके कारण किसी शॉट को दोबारा करना पड़ता है। मैं तकनीकी सटीकता पर गौर नहीं करता।’ आमिर का कहना है, कि ‘एक दृश्य में मेरा ध्यान इस बात पर होता है, कि उस क्षण का जो मूल है, जो उसकी जान है, उसे फिल्माया जा सका है या नहीं। फिर जब आप दृश्य को देखते हैं तो आपको लगता है कि यह हो गया और सबकुछ ठीक रहा।’

आमिर खान की आनेवाली फिल्म ‘दंगल’ का इंतज़ार उनके प्रशंसक बेसब्री से कर रहे हैं। इस फिल्म में उनके साथ चर्चित टीवी कलाकार साक्षी तंवर भी नज़र आयेंगी, जो फिल्म में उनकी पत्नी का किरदार निभा रही हैं। फिल्म में फातिमा सना शेख और सान्या मल्होत्रा भी हैं। यह फिल्म 23 दिसंबर को प्रदर्शित हो रही हैं।

Montage of TechSparks Mumbai Sponsors
Share on
close