आमदनी बढ़ाने के लिए रेलवे ट्रेनों में बेचेगी सामान, स्टेशन पर मिलेगी फुट मसाज की सुविधा

By yourstory हिन्दी
August 31, 2018, Updated on : Thu Sep 05 2019 07:15:18 GMT+0000
आमदनी बढ़ाने के लिए रेलवे ट्रेनों में बेचेगी सामान, स्टेशन पर मिलेगी फुट मसाज की सुविधा
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

रेलवे को फायदे में लाने के लिए भारतीय रेल विभाग तरह-तरह की योजनाओं पर काम करने की कोशिश कर रहा है। इस कड़ी में अब ट्रेनों में हवाई जहाज की तरह सामान बेचने और स्टेशनों पर फुट मसाज जैसी सुविधा देकर अतिरिक्त आय जुटाने की योजना बनी है।

image


हालांकि सामान बेचने का काम सिर्फ प्रीमियम ट्रेनों में होगा। यह योजना पश्चिमी और मध्य रेलवे की है जिसके तहत ट्रेन के डिब्बों में सफर करने वाले यात्री मोबाइल कवर, परफ्यूम, इयर फोन, पर्स, कंघी, पेन, डायरी जैसे सामान खरीद सकेंगे।

रेलवे को फायदे में लाने के लिए भारतीय रेल विभाग तरह-तरह की योजनाओं पर काम करने की कोशिश कर रहा है। इस कड़ी में अब ट्रेनों में हवाई जहाज की तरह सामान बेचने और स्टेशनों पर फुट मसाज जैसी सुविधा देकर अतिरिक्त आय जुटाने की योजना बनी है। हालांकि सामान बेचने का काम सिर्फ प्रीमियम ट्रेनों में होगा। यह योजना पश्चिमी और मध्य रेलवे की है जिसके तहत ट्रेन के डिब्बों में सफर करने वाले यात्री मोबाइल कवर, परफ्यूम, इयर फोन, पर्स, कंघी, पेन, डायरी जैसे सामान खरीद सकेंगे।

इस योजना को शुरू करने का फैसला लिया गया जब रेल मंत्रालय ने सभी जोनल रेलवे विभागों को टिकट बिक्री के अतिरिक्त 1,200 करोड़ रुपये का राजस्व जुटाने का आदेश जारी किया। पश्चिम रेलवे सितंबर में टेंडर जारी करेगा और इसे इसी साल दिसंबर से शताब्दी ट्रेनों में शुरू करने का फैसला लिया गया है। वहीं मध्य रेलवे ने कोणार्क एक्सप्रेस, चेन्नई एक्सप्रेस, एर्णाकुलम-हजजरत निजामुद्दीन दुरंतो जैसी ट्रेनों में अक्टूबर से ही इसे शुरू करने की योजना बनाई है।

इस कदम में कोई दिक्कत न आए इसके लिए रेलवे बोर्ड नीति तैयार कर रहा है। रेलवे के मुताबिक इस सुविधा से अतिरिक्त आय होगी। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक ट्रेन में बेचे गए सामान पर गारंटी भी मिलेगी। दरअसल लंबी दूरी की इन ट्रेनों का ठहराव कम होता है और यात्रियों को रास्ते में ट्रेन से उतरने का मौका भी नहीं मिलता है। इसलिए वे ट्रेन में ही शॉपिंग का मजा ले सकेंगे। दिवाली आने तक इसे दिल्ली-मुंबई रूट की शताब्दी और दुरंतो ट्रेनों में शुरू किया जाना है।

ठहराव कम होने के कारण प्रीमियम ट्रेनों के यात्री सामान लेने स्टेशन पर नहीं उतर पाते, इसलिए ऑन बोर्ड सेलिंग होगी। इससे यात्री डिब्बे में बैठकर मोबाइल कवर, परफ्यूम, इयर फोन, पर्स, पेन, डायरी आदि खरीद सकेंगे। पश्चिम रेलवे के डीआरएम संजय मिश्रा ने कहा, 'ट्रेनों में जरूरत के सामान से इसकी शुरुआत होगी। सितंबर में टेंडर निकाले जाएंगे और दिसंबर से सुविधा शुरू हो जाएगी।' वहीं मध्य रेलवे ने अभी से टेंडर जारी कर दिए हैं और आने वाले दो महीनों में यह सुविधा शुरू भी हो जाएगी। अगर रेलवे का यह पायलट प्रॉजेक्ट सफल हुआ तो इसे पूरी तरह से लागू कर दिया जाएगा।

वहीं रेल मंत्रालय ने अधिक आमदनी हासिल करने के लिए स्टेशनों पर रोबोटिक फुट मसाज की सुविधा शुरू करने की योजना बनाई है। इसके लिए एक ऐप भी डिजाइन किया जाएगा।

यह भी पढ़ें: बाढ़ प्रभावित केरल के स्कूलों और स्टूडेंट्स की मदद करेगी CBSE, मिलेंगी डिजिटल मार्कशीट

Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close