कोरोना से जंग में इस देश के प्रधानमंत्री डॉक्टर बनकर करेंगे मरीजों का इलाज, लोगों ने कहा- लीडर हो तो ऐसा

By yourstory हिन्दी
April 07, 2020, Updated on : Tue Apr 07 2020 08:31:30 GMT+0000
कोरोना से जंग में इस देश के प्रधानमंत्री डॉक्टर बनकर करेंगे मरीजों का इलाज, लोगों ने कहा- लीडर हो तो ऐसा
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

पिछले 4 महीनों से कोरोना महामारी (COVID-19) का कहर पूरी दुनिया में जारी है। हर देश अपने स्तर पर इस संकट से उबरने के लिए भरसक प्रयास कर रहा है। डॉक्टर्स दिन-रात लोगों को बचाने के लिए अपनी जान जोखिम में डाल रहे हैं। अलग-अलग देशों की सरकारें कड़े कदम उठाकर अपने देशवासियों की सुरक्षा सुनिश्चित कर रही हैं। यही ऐसा समय है जब देश के प्रमुख लीडर को कई फैसले करने होते हैं।


k

आयरलैंड के प्रधानमंत्री लियो वराडकर (फोटो क्रेडिट: deccan chronicle)



ऐसा ही एक फैसला आयरलैंड के प्रधानमंत्री ने किया है जिसकी सोशल मीडिया पर जमकर तारीफ हो रही है। आयरिश पीएम लियो वराडकर (Leo Varadkar) ने फिर से चिकित्सा की दुनिया में उतरने का फैसला किया है। उन्होंने फिर से खुद को डॉक्टर के रूप में रजिस्टर करवाया है। वह अगले एक हफ्ते तक कोरोना मरीजों का इलाज करेंगे। मालूम हो, 41 साल के लियो वराडकर पीएम बनने से पहले डॉक्टर थे। 


उन्होंने 7 साल तक डॉक्टर के तौर पर काम किया है। इस दौरान उन्होंने राजधानी डबलिन स्थित सेंट जेम्स हॉस्पिटल और कोलोनी हॉस्पिटल में एक जूनियर डॉक्टर के पद पर काम किया।


साल 2013 में उन्होंने मेडिकल लाइन छोड़ दी थी और राजनीति में आ गए थे। इसके बाद साल 2014 में उन्हें देश का स्वास्थ्य मंत्री बनाया गया। हाल ही में आयरलैंड के हेल्थ सर्विस एग्जिक्युटिव ने पूर्व डॉक्टरों और चिकित्साकर्मियों से दोबारा रजिस्ट्रेशन करवाने की अपील की थी। इसी कारण पीएम वराडकर ने यह कदम उठाया है।


आयरिश टाइम्स की एक खबर के मुताबिक, पीएम वराडकर को कोरोना संक्रमित लोगों को फोन पर सलाह देने का काम सौंपा जा सकता है। आयरलैंड में कोरोना केसों में तेजी से बढ़ोतरी हो रही है। इसे देखते हुए वहां के स्वास्थ्य विभाग ने यह फैसला किया था।


बात करें कोरोना संकट की तो सोमवार दोपहर 2 बजे तक आयरलैंड में कोरोना के 5 हजार मामले सामने आए हैं। इनमें 158 लोगों की मौत हो चुकी है और 4811 ऐक्टिव केस हैं। दुनिया की अगर बात करें तो दुनिया में कोरोना मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ते हुए 13 लाख के करीब पहुंच गई है। साथ ही मरने वालों की संख्या 264000 से अधिक है।


भारत में भी ये संख्या तेजी से बढ़ रही है। सोमवार दोपहर 2 बजे तक देश में कोरोना मरीजों की संख्या 3462 हो गई। इनमें से 121 की मौत हो चुकी है और 3912 ऐक्टिव केस हैं। 329 लोग ऐसे भी हैं जो कोरोना को मात देकर वापस एकदम स्वस्थ हो गए हैं।


Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close