दिल्ली सरकार जरूरतमंदों के बीच बांटने के लिए सांसदों और विधायकों को देगी 2,000 खाद्य कूपन

By भाषा पीटीआई
April 22, 2020, Updated on : Wed Apr 22 2020 09:06:31 GMT+0000
दिल्ली सरकार जरूरतमंदों के बीच बांटने के लिए सांसदों और विधायकों को देगी 2,000 खाद्य कूपन
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

नयी दिल्ली, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को कहा कि दिल्ली सरकार लॉकडाउन के मद्देनजर शहर में सभी विधायकों और सांसदों को अपने-अपने निर्वाचन क्षेत्र में जरूरतमंदों के बीच बांटने के लिए दो-दो हजार खाद्य कूपन देगी।


k

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (फाइल फोटो क्रेडिट: ANI)


ऑनलाइन तरीके से मीडिया को संबोधित करते हुए केजरीवाल ने कहा कि संक्रमण से अब तक 47 लोगों की मौत यहां हो चुकी है। उन्होंने कहा कि 83 प्रतिशत लोग ऐसे थे, जो किसी और बीमारी से भी ग्रस्त थे।


केजरीवाल ने कहा कि सरकार बुधवार से मीडियाकर्मियों के लिए कोरोना वायरस जांच की शुरुआत करेगी।


केजरीवाल ने कहा,

‘‘हमने एक सेंटर बनाया है। सभी मीडिया संस्थानों और पत्रकारों को इस बारे में अवगत कराया जाएगा। जो मीडियाकर्मी जांच कराना चाहते हैं वो कल सुबह से इस सेंटर में जांच करा सकते हैं।’’

उन्होंने कहा कि उनकी सरकार ने उन 30 लाख लोगों को भी मुफ्त में राशन उपलब्ध कराने का फैसला किया है जिनके पास राशन-कार्ड नहीं है। उन्होंने कहा कि अभी करीब 71 लाख लोग सार्वजनिक वितरण प्रणाली के लाभार्थी हैं जिन्हें सरकार द्वारा मुफ्त राशन उपलब्ध कराया जा रहा है।


उन्होंने कहा कि उनकी सरकार मई महीने के लिये राशन के साथ दैनिक उपभोग की वस्तुओं का किट भी वितरित करेगी जिसमें साबुन, तेल, चीनी, हल्दी और नमक होगा। उन्होंने कहा कि यह 27 या 28 अप्रैल से शुरू हो जाएगा।



केजरीवाल ने कहा,

“दिल्ली सरकार ने जरूरतमंदों के लिये खाद्य सुरक्षा की योजना तैयार की है। हम करीब एक करोड़ लोगों को मुफ्त राशन उपलब्ध कराएंगे और इसका मतलब है हम दिल्ली की आधी आबादी को राशन उपलब्ध कराएंगे।”

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार ने हर विधायक और सांसद को अपने-अपने क्षेत्र में जरूरतमंदों में वितरण के लिये 2000 खाद्य कूपन देने का भी फैसला किया है।


उन्होंने कहा,

“हर विधायक और सांसद उन लोगों को खाद्य कूपन वितरित करेगा जिनके पास राशन कार्ड नहीं है और इसके लिये ऑनलाइन अप्लाई भी नहीं कर सके हैं। जिन लोगों को ई-कूपन मिल रहे हैं, उन्हें भी दैनिक उपभोग के सामानों का किट दिया जाएगा।”

केजरीवाल ने कहा कि दिल्ली में कोरोना वायरस संक्रमण के 1603 मरीजों का इलाज चल रहा है जबकि 47 लोगों की इससे मौत हो चुकी है। उन्होंने कहा कि 83 प्रतिशत मामलों में मरने वाले अन्य बीमारियों से भी ग्रस्त थे।


मुख्यमंत्री ने कहा कि बढ़ते मामलों को देखते हुए दिल्ली सरकार 60 नई एंबुलेंस खरीदेगी और इसके लिए आदेश जारी किया जा चुका है।


उन्होंने कहा कि सोमवार को लिए गए 1,397 नमूनों में 78 में संक्रमण की पुष्टि हुई।


सोमवार को संक्रमण के 78 नए मामले और दो लोगों की मौत के साथ कोरोना वायरस संक्रमण के कुल 2,081 मामले हो गए।



Edited by रविकांत पारीक