श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए मेले आयोजित करेगी मध्य प्रदेश सरकार

By भाषा पीटीआई
June 13, 2020, Updated on : Sat Jun 13 2020 08:31:30 GMT+0000
श्रमिकों को रोजगार उपलब्ध कराने के लिए मेले आयोजित करेगी मध्य प्रदेश सरकार
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

भोपाल, मध्यप्रदेश सरकार संबल योजना के तहत पंजीकृत श्रमिकों और कोरोना वायरस वैश्विक महामारी संकट के कारण अन्य राज्यों से लौटे श्रमिकों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिए जल्द ही विभिन्न जिलों में रोजगार मेलों का आयोजन करेगी।


l

प्रतीकात्मक चित्र (फोटो साभार: ShutterStock)


मध्यप्रदेश जनसंपर्क विभाग के एक अधिकारी ने शनिवार को बताया,

'संबल योजना में पंजीकृत श्रमिकों और अन्य प्रदेशों से लौटे मध्यप्रदेश के श्रमिकों को रोजगार के अवसर उपलब्ध कराने के लिये प्रथम चरण में चिह्नित जिलों में रोजगार मेलों का आयोजन किया जायेगा।'

उन्होंने कहा कि रोजगार मेलों का आयोजन जून माह के तीसरे सप्ताह में किया जाना है।


अधिकारी ने बताया कि जिन जिलों में अधिक श्रमिक पंजीकृत हैं, वहां प्राथमिकता के आधार पर रोजगार मेले आयोजित होंगे। प्रत्येक श्रमिक को एसएमएस के माध्यम से सूचना दी जायेगी।


उन्होंने कहा कि मेले तक श्रमिकों को लाने तथा वापस भेजने की व्यवस्था की जायेगी। मेला स्थल पर भोजन और पानी की व्यवस्था भी रहेगी।


अधिकारी ने बताया कि मेला स्थल में भारत सरकार और मध्यप्रदेश सरकार द्वारा कोरोना वायरस की रोकथाम के संबंध में जारी सभी दिशा-निर्देशों का कड़ाई से पालन किया जाना जरूरी होगा। मेला स्थल को सेनेटाइज (संक्रमण मुक्त) किया जायेगा। हाथ धोने और थर्मल जांच की भी व्यवस्था की जाएगी। सामाजिक दूरी का पालन सुनिश्चित करना होगा।



उन्होंने कहा कि रोजगार मेलों के आयोजन के लिये जिला स्तर पर जिलाधिकारी की अध्यक्षता में रोजगार मेला समिति गठित की गई हैं। समिति के समन्वयक मुख्य कार्यपालन आधिकारी (सीईओ) जिला पंचायत होंगे।


इसी बीच, मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा,

'राज्य सरकार द्वारा बनाये गया 'रोजगार सेतु पोर्टल' प्रवासी श्रमिकों एवं अन्य श्रमिकों को उनकी दक्षता एवं कौशल के अनुसार रोजगार दिलाने के लिए एक प्रभावी मंच का कार्य कर रहा है। पोर्टल के लॉन्च होने के तीन दिन के अंदर ही 302 प्रवासी श्रमिकों के लिए नियुक्ति आदेश जारी कर दिए गए हैं। इसके साथ ही 1,282 प्रवासी श्रमिकों को रोजगार दिलाने की प्रक्रिया जारी है।'

उन्होंने कहा कि रोजगार सेतु पोर्टल पर 10,000 से अधिक नियोक्ता पंजीकृत हो गए हैं। इनमें सूक्ष्म एवं लघु मध्यम उद्योग, कारखाना, व्यवसायिक प्रतिष्ठान, संस्थाएं, ठेकेदार, बिल्डर, भवन निर्माता, दुकानदार, प्लेसमेंट एजेंसी आदि शामिल है। नियोक्ता अपने उद्यम /व्यवसाय की आवश्यकता अनुसार पोर्टल से श्रमिकों का चयन कर उन्हें नियुक्ति पत्र ऑनलाइन प्रदान कर रहे हैं।


चौहान ने बताया कि रोजगार सेतु पोर्टल पर 7,30,311 प्रवासी श्रमिकों तथा उनके परिवार के 5,79,879 सदस्यों को मिलाकर कुल 13,10,186 लोगों का पंजीकरण किया जा चुका है।


पोर्टल में संबल योजना के 3,24,715 हितग्राही पंजीकृत हुए हैं। वहीं भवन एवं अन्य निर्माण कर्मकार मंडल के 15,722 श्रमिकों का पंजीयन किया गया है। आत्मनिर्भर भारत योजना के अंतर्गत लाभान्वित प्रवासी श्रमिक परिवारों के सदस्यों की संख्या 13,10,186 है। सभी को नि:शुल्क राशन प्रदाय किया जा रहा है।


Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close