40 करोड़ के बाद, अब फिर लीक हुआ 20 करोड़ Twitter यूजर का डेटा

40 करोड़ के बाद, अब फिर लीक हुआ 20 करोड़ Twitter यूजर का डेटा

Friday January 06, 2023,

3 min Read

एक रिपोर्ट के मुताबिक Twitter के करीब 200 मिलियन (20 करोड़) यूजर्स का डाटा लीक हुआ है. इस डाटा लीक में Twitter यूजर्स की ई-मेल आईडी शामिल है. इससे पहले, पिछले महीने 40 करोड़ ट्विटर यूजर्स के डाटा लीक की ख़बर सामने आई थी. Twitter यूजर्स के इस डाटा ऑनलाइन हैकर फोरम पर पब्लिश किया गया है. ट्विटर यूजर के इस डाटा को ऑनलाइन हैकर फोरम पर पब्लिश किए जाने की वजह से इसके दुरुपयोग की आशंका बढ़ गई है.

न्यूज एजेंसी रॉयटर्स का दावा है कि हैकर्स ने ट्विटर यूजर्स के अकाउंट में सेंधमारी कर उन्हें एक ऑनलाइन फॉरम में पोस्ट तक कर दिया.

इस ख़बर के सामने आने के बाद ट्विटर यूजर परेशान हैं. इजरायल की साइबर सिक्योरिटी हडसन रॉक के को-फाउंडर अलोन गैल ने कहा, "दुर्भाग्य से इस घटना से बहुत सारी हैकिंग, टारगेट फिशिंग और डॉक्सिंग को बढ़ावा मिल सकता है. यह बहुत बड़े डेटा लीक का मामला है."

गैल ने पहली बार 24 दिसंबर को सोशल मीडिया पर इस बात का खुलासा करते हुए एक पोस्ट शेयर किया था. उन्होंने यह भी लिखा था कि अब तक यह साफ नहीं है कि ट्विटर ने डाटा लीक मामले की जांच करने या इसका समाधान निकालने के लिए क्या कार्यवाही की है.

हालांकि, ट्विटर ने अभी तक इस डाटा लीक के बारे में आधिकारिक तौर पर कुछ नहीं कहा है.

हैकर ने डेटा के वास्तविक होने के लिए सबूत के तौर पर यूजर्स के नाम, ईमेल, फॉलोअर्स की संख्या और कुछ यूजर्स के फोन नंबर भी दिए हैं.

आपको बता दें कि जब पिछली बार डाटा लीक हुआ था, तब मिनिस्ट्री ऑफ इनफॉर्मेशन एंड ब्राडकॉस्टिंग और बॉलीवुड एक्टर सलमान खान का डेटा भी लीक हुआ था. एक मीडिया रिपोर्ट के अनुसार हैकर ने अमेरिकी स्पेस एजेंसी NASA और वर्ल्ड हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (WHO) का डाटा भी चुरा लिया था.

इससे पहले ट्विटर के करीब 5.4 मिलियन यानी 54 लाख यूजर्स का निजी डाटा लीक होने के बाद बिक्री के लिए उपलब्ध किया गया था. री-स्टोर प्राइवेसी की एक रिपोर्ट के मुताबिक, यूजर्स की डाटा की हैकिंग इसी साल 2022 में हुई थी. आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह डाटा लीक उसी बग के कारण हुआ था जिसके लिए बग बाउंट प्रोग्राम के तहत zhirinovskiy नाम के हैकर को ट्विटर ने 5,040 डॉलर यानी 4,02,386 रुपये दिए थे. हैकर ने डाटा को बिक्री के लिए हैकर्स फोरम पर उपलब्ध करा दिया था. इस डाटा लीक में यूजर्स के पासवर्ड शामिल नहीं थे.