फिनटेक स्टार्टअप KreditBee ने 650 करोड़ रुपये की फंडिंग हासिल की

इस फंड का उपयोग KreditBee के उत्पाद पोर्टफोलियो में विविधता लाने और इसके प्लेटफॉर्म पर 40 करोड़ से अधिक मध्य भारत की आबादी को निर्बाध रूप से सेवा देने के लिए इसके तकनीकी स्टैक को मजबूत करने के लिए किया जाएगा.

फिनटेक स्टार्टअप KreditBee ने 650 करोड़ रुपये की फंडिंग हासिल की

Friday December 02, 2022,

2 min Read

देश के प्रमुख फिनटेक प्लेटफार्मों में से एक KreditBeeने सीरीज-D फंडिंग राउंड में 80 मिलियन अमरीकी डॉलर की फंडिंग जुटाई है. मौजूदा निवेश में मौजूदा निवेशकों अजीम प्रेमजी के प्रेमजी इन्वेस्ट, मोतीलाल ओसवाल अल्टरनेट्स, टीपीजी समर्थित न्यूक्वेस्ट कैपिटल पार्टनर्स और मिराए एसेट वेंचर्स की सक्रिय भागीदारी देखी गई. इस दौर में दुनियाभर के सबसे बड़े वित्तीय संस्थानों में से एक, MUFG बैंक की भागीदारी भी देखी गई.

इस फंड का उपयोग KreditBee के उत्पाद पोर्टफोलियो में विविधता लाने और इसके प्लेटफॉर्म पर 40 करोड़ से अधिक मध्य भारत की आबादी को निर्बाध रूप से सेवा देने के लिए इसके तकनीकी स्टैक को मजबूत करने के लिए किया जाएगा.

कंपनी 10+ प्रसिद्ध वित्तीय संस्थानों के साथ साझेदारी के साथ अपने इन-हाउस RBI रजिस्टर्ड NBFC - Krazybee Services Private Limited के माध्यम से क्रेडिट और अन्य व्यक्तिगत वित्त आवश्यकताओं की पेशकश करती है. यह प्लेटफॉर्म अगले 6 से 9 महीनों में 1 बिलियन अमेरिकी डॉलर से अधिक के AUM को पार करने के लिए अच्छी स्थिति में है.

KreditBee वर्तमान में कई प्रकार के पर्सनल लोन, ऑनलाइन/ऑफ़लाइन चेकआउट फाइनेंशियल और डिजिटल गोल्ड प्रदान करता है. कंपनी आगे डिजिटल रूप से सक्षम सुरक्षित ऋण, गृह ऋण और क्रेडिट लाइनों में प्रवेश करके अपने उत्पाद की पेशकश में विविधता लाने की योजना बना रही है. इसमें बीमा, क्रेडिट स्कोर रिपोर्ट, और मर्चेंट-साइड ऑफ़र जैसी वित्तीय सेवाओं की शुरुआत करके अपने उधार पोर्टफोलियो का विस्तार करना शामिल है.

बता दें कि, KreditBee एक फिनटेक प्लेटफॉर्म है जो प्रोफेशनल्स को तत्काल पर्सनल लोन की सुविधा देता है, जहां वे अपनी आवश्यकताओं के अनुसार 4 लाख रुपये तक का लोन प्राप्त कर सकते हैं. ऑनलाइन तकनीक-आधारित और डेटा-केंद्रित केवाईसी पर जोर देने के साथ, क्रेडिटबी देश के विभिन्न जनसांख्यिकीय क्षेत्रों में वित्तीय समावेशन अंतर को हल करता है.

यह भी पढ़ें
सतत विकास लक्ष्य क्या है? इसकी जरूरत क्यों है?


Edited by Vishal Jaiswal