मेडिकल इमर्जेंसी से लेकर सपनों की शादी तक: पर्सनल लोन लेने के 7 कारण

पर्सनल लोन ज़रूरत के समय जीवन प्रदान करता है, परंतु यह समझना आवश्यक है कि लोग यह लोन कब और क्यों लेते हैं. गृह या कार जैसे सुरक्षित लोन के विपरीत, पर्सनल लोन के लिए कोलैटरल की आवश्यकता नहीं होती है.

मेडिकल इमर्जेंसी से लेकर सपनों की शादी तक: पर्सनल लोन लेने के 7 कारण

Wednesday December 27, 2023,

5 min Read

पर्सनल लोन उपभोक्ताओं के लिए उनकी तात्कालिक जरूरतों को पूरा करने का एक ज़रूरी वित्तीय उपकरण बन गया है. पर्सनल लोन बैंकों या गैर-बैंकिंग वित्तीय कंपनियों (एनबीएफसी) द्वारा प्रदान किया गया असुरक्षित लोन है जिसे लोगों ने अपने विभिन्न वित्तीय उद्देश्यों को पूरा करने के लिए आवश्यक धन राशि प्राप्त करने का एक विश्वसनीय स्रोत मानते हैं.

पर्सनल लोन ज़रूरत के समय जीवन प्रदान करता है, परंतु यह समझना आवश्यक है कि लोग यह लोन कब और क्यों लेते हैं. गृह या कार जैसे सुरक्षित लोन के विपरीत, पर्सनल लोन के लिए कोलैटरल की आवश्यकता नहीं होती है. कोलैटरल फ्री होना पर्सनल लोन को उन लोगों के लिए एक अच्छा विकल्प बनाता है जिन्हें अपनी किसी भी संपत्ति को जोखिम में डाले बिना तत्काल धन की आवश्यकता होती है. पर्सनल लोन के साथ, आप एकमुश्त धनराशि प्राप्त करते हैं और इसे निश्चित मासिक किस्तों में चुकाते हैं.

भारतीय रिज़र्व बैंक (RBI) के आंकड़ों के अनुसार, 2023 में बकाया पर्सनल लोन राशि ₹40 लाख करोड़ थी जो कि 2022 की तुलना में 20.4% ज़्यादा है. इतना ही नहीं, रेपो दर भी पिछले एक साल में, 4.4% से 6.5% हुई है. पर्सनल लोन के लिए कुछ पात्रता मानदंड होते हैं जिन्हें 21-60 वर्ष की आयु सीमा के भीतर भारत का नागरिक होने के नाते पूरा करना होता है. व्यक्ति के पास कम से कम 600 सिबिल स्कोर के साथ आय का नियमित स्रोत होना भी आवश्यक है.

पर्सनल लोन पर कब लें?

मेडिकल इमरजेंसी: स्वास्थ्य संबंधी समस्याएँ अप्रत्याशित रूप से सामने आ सकती हैं जिसके ख़र्चे बहुत अधिक होते हैं. ऐसी स्थिति में अगर आपके पास स्वास्थ्य बीमा है, उसके बाद भी, आपकी अपनी जमा-पूंजी और उससे भी अधिक पैसे निकल सकते हैं. एक पर्सनल लोन चिकित्सा से जुड़े बिलों को कवर करने और वित्तीय तनाव को कम करने के लिए त्वरित धन प्रदान करता है. कुछ महीनों से शुरू होकर 5 साल तक की अवधि के लिए 15,000 से 5 लाख के बीच की राशि आसानी से प्राप्त की जा सकती है जिससे चिकित्सा लोन को खत्म करने और वित्तीय तनाव से राहत पाने में मदद मिलती है.

शादी के खर्च: शादी हर किसी की ज़िन्दगी का एक महत्वपूर्ण दिन है, लेकिन साथ ही ख़र्चीला भी. खान-पान से लेकर सजावट और दुल्हन की पोशाक तक, खर्च तेजी से बढ़ती ही है. परंतु, पर्सनल लोन, बिना इस बात पर प्रतिबंध लगाए कि आप पैसे का उपयोग कैसे करते हैं, आपके सपनों की शादी को पूरा करने की सुविधा प्रदान करता है.

स्थानांतरण: नए घर में जाना रोमांचक होता है, लेकिन इसमें अक्सर अप्रत्याशित खर्च शामिल होते हैं. चाहे यह नौकरी बदलने के लिए हो या व्यक्तिगत कारणों से, पर पर्सनल लोन स्थानांतरण से जुड़ी अप्रत्याशित लागतों को कवर करने में भी मदद करता है.

छुट्टियाँ: हर कोई छुट्टी का आनंद लेता है, लेकिन अनायास यात्राएं आपके बजट पर दबाव डाल सकती हैं. न्यूनतम दस्तावेज़ीकरण के साथ पर्सनल लोन, अधिकतम 5 वर्ष की लोन चुकाने की अवधि के साथ, आपकी अंतिम-मिनट की छुट्टियों की योजनाओं को पूरा करता है, जिससे आप अपने वित्त के बारे में चिंता छोड़ खुल के आराम कर सकते हैं.

शैक्षिक उद्देश्य: अपने बच्चों को सर्वोत्तम शिक्षा प्रदान करने में कोई कमी नहीं करना चाहते हैं. पर्सनल लोन आपके बच्चे की पढ़ाई में कोई कमी ना आ पाए इसका ध्यान रखते हुए उनके ट्यूशन फीस, किताबें और अन्य शैक्षिक खर्चों को सँभालने में आपका साथ देता है और आपके बच्चे का भविष्य सुरक्षित करने में आपकी मदद करता है.

गैजेट्स और इलेक्ट्रॉनिक उपकरण: आज की तेज़ रफ़्तार वाली दुनिया में, नयी तकनीक के साथ अपग्रेड करना चुनौतीपूर्ण हो सकता है. स्मार्टफोन से लेकर स्मार्ट घरेलू उपकरणों तक, पर्सनल लोन आपके बैंक खाते को खाली किए बिना आपको अपडेट रहने का एक तरीका प्रदान करता है. इसके अलावा, कभी-कभी आपको बड़ी वस्तुएं जैसे, कंप्यूटर या अन्य मशीनी उपकरण खरीदने की ज़रूरत होती है, और आपके पास तुरंत में पैसे नहीं होते हैं, इस वक़्त पर एक पर्सनल लोन आपको आपकी खरीदारी करने से लेकर प्रबंधनीय किश्तों में इसका भुगतान करने तक में मदद करता है.

पर्सनल लोन एक वित्तीय संसाधन के रूप में कार्य करता है जो व्यक्तियों को कई वित्तीय चुनौतियों से निपटने के लिए सशक्त बनाता है. वे जीवन को आसानी से चलाने के लिए आवश्यक छूट और गति प्रदान करता है और जब भी हमें इसकी आवश्यकता होती है तब वित्तीय सहायता प्रदान करता है. वर्तमान में भारत, वित्तीय वर्ष 2022-2023 में 7.2% के साथ सबसे तेजी से बढ़ने वाला प्रमुख अर्थव्यवस्थाओं में से एक है और नई रिपोर्ट के अनुसार, वित्तीय वर्ष 2023-24 की पहली तिमाही में इसकी बैंक क्रेडिट वृद्धि बढ़कर 15.8% हो गई है जो 2022-23 की पहली तिमाही में 13.3% थी. निरंतर आर्थिक बदलावों और वैश्विक चुनौतियों के युग में, पर्सनल लोन नागरिकों के लिए एक महत्वपूर्ण वित्तीय उपकरण साबित होगा.

(लेखक Manipal Business Solutions समर्थित 'SahiBnk' के सीईओ हैं. आलेख में व्यक्त विचार लेखक के हैं. YourStory का उनसे सहमत होना अनिवार्य नहीं है.)


Edited by रविकांत पारीक