हेल्थकेयर रिक्रूटमेंट प्लेटफॉर्म Jobizo ने सीड फंडिंग राउंड में जुटाए 5 लाख डॉलर

जॉबिज़ो एक उपयोग में आसान एप्लिकेशन है जहां हेल्थ प्रोफेशनल्स अपनी आवश्यकताओं के अनुसार नौकरी ढूंढ सकते हैं।

हेल्थकेयर रिक्रूटमेंट प्लेटफॉर्म Jobizo ने सीड फंडिंग राउंड में जुटाए 5 लाख डॉलर

Monday May 23, 2022,

3 min Read

हेल्थकेयर सेक्टर (Healthcare Sector) के लिए भारत के पहले डिजिटल वर्कफोर्स एग्रीगेटर प्लेटफॉर्म Jobizo ने सीड फंडिंग राउंड में 5 लाख डॉलर का फंड हासिल किया है. यह प्लेटफॉर्म हेल्थकेयर सेक्टर में ऑन-डिमांड/हाइपरलोकल रिक्रूटमेंट के अवसर प्रदान करता है. जॉबिज़ो के लिए इस फंडिंग राउंड का नेतृत्व Aroa Ventures ने किया था और इसमें अन्य एंजेल निवेशकों के साथ VeritasX की भागीदारी भी देखी गई। Jobizo की योजना इस फंड का इस्तेमाल भारत के अन्य शहरों में विस्तार, हायरिंग और मार्केटिंग के लिए करने की है। Jobizo अगले 4 से 6 महीनों में फंडिंग के एक और दौर से फंड जुटाने की योजना बना रहा है।

Jobizo एक उपयोग में आसान एप्लिकेशन है जहां हेल्थ प्रोफेशनल्स अपनी आवश्यकताओं के अनुसार नौकरी ढूंढ सकते हैं। प्लेटफ़ॉर्म अपने आवेदन के माध्यम से नौकरी खोजने के लिए वर्कफोर्स से कोई शुल्क नहीं लेता है। यह हेल्थकेयर सेक्टर में फ्लेक्सिबल भर्ती के लिए भारत का पहला एआई (आर्टिफीशियल इंटेलीजेंस) और एमएल (मशीन लर्निंग) संचालित एग्रीगेटर प्लेटफॉर्म है। फर्म एक डिजिटल वर्कफोर्स ऑगमेंटेशन प्लेटफॉर्म प्रदान करके हेल्थकेयर इकोसिस्टम को पोषित करने का लक्ष्य रखती है। अब तक, स्वास्थ्य सेवा भर्ती क्षेत्र मुख्य रूप से पारंपरिक भर्ती प्रक्रियाओं पर निर्भर है जिसके कारण इस खंड में वर्कफोर्स का भारी अंतर है। Jobizo अत्याधुनिक और इनोवेटिव तकनीक की मदद से इस व्यापक अंतर को पाटने की दिशा में काम कर रहा है।

क्या है Jobizo का मिशन

फंडिंग के बारे में बात करते हुए, जोबिज़ो के को-फाउंडर और चेयरमैन नवीन त्रेहन ने कहा, 'Jobizo हमारे हेल्थकेयर इकोसिस्टम में विशाल कार्यबल अंतर को कम करने के मिशन पर है। इस फंडिंग राशि के साथ, हम स्वास्थ्य सेवा उद्योग की बढ़ती मांगों का समर्थन करने के लिए जरूरी इंफ्रास्ट्रक्चर के निर्माण की योजना बना रहे हैं। हम कार्यबल के लिए एक स्वागत योग्य माहौल बनाने की कोशिश कर रहे हैं, जो हेल्थकेयर उद्योग में कौशल अंतर को कुशलतापूर्वक कम करने में मदद कर सके.'

Jobizo के को-फाउंडर और सीईओ अविषेक अग्रवाल के मुतातिक, 'हमारी कंपनी का इरादा देश में सभी हेल्थकेयर स्टाफिंग जरूरतों के लिए वन-स्टॉप सॉल्युशन बनना है. देश में हेल्थकेयर प्रोफेशनल्स की भारी कमी है और हमारा प्लेटफॉर्म इस अंतर को पाटने की दिशा में काम कर रहा है. Jobizo भारत के अन्य शहरों में अपनी सेवाओं का विस्तार करने के लिए फंडिंग कैपिटल का इस्तेमाल करेगा. इसके अलावा, राशि का उपयोग ब्रांड के लिए नई भर्ती और मार्केटिंग प्रैक्टिसेज में किया जाएगा. अपने पोर्टल के माध्यम से वर्कफोर्स के लिए सेल्फ-लर्निंग बेस्ड ट्रेनिंग प्रोग्राम्स उपलब्ध कराने के लिए पूंजी का निवेश भी किया जाएगा.'