अडानी ने सॉवरेन वेल्थ फंड से 3 अरब डॉलर जुटाने की ख़बरों को कहा 'झूठ', प्लान क्या है?

अडानी ने सॉवरेन वेल्थ फंड से 3 अरब डॉलर जुटाने की ख़बरों को कहा 'झूठ', प्लान क्या है?

Wednesday March 01, 2023,

3 min Read

सॉवरेन वेल्थ फंड (sovereign wealth fund) से 3 बिलियन डॉलर (करीब 2.5 खरब रुपये) जुटाने की रॉयटर्स की रिपोर्ट पर सफाई देते हुए, अडानी समूह (Adani Group) ने स्पष्ट किया कि यह झूठ है. रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के अनुसार, उद्योगपति गौतम अडानी (Gautam Adani) के अडानी समूह ने बुधवार को लेनदारों को सूचित किया कि समूह ने एक सॉवरेन वेल्थ फंड से 3 बिलियन डॉलर का ऋण जुटाया है.

कंपनी के मैनेजमेंट द्वारा बांडधारकों को सूचित किए जाने के एक दिन बाद कि मार्च के अंत तक 690 मिलियन डॉलर से 790 मिलियन डॉलर के शेयर-समर्थित ऋणों का पूर्व भुगतान या पुनर्भुगतान करने की उम्मीद है, अडानी द्वारा नया कर्ज हासिल करने की ख़बर आई. रॉयटर्स की एक रिपोर्ट के मुताबिक, सॉवरेन वेल्थ फंड की क्रेडिट लाइन को बढ़ाकर 5 अरब डॉलर किया जा सकता है.

घोषणा के बाद, एनएसई और बीएसई ने बुधवार को अडानी एंटरप्राइजेज (Adani Enterprises) से 1 मार्च 2023 को छपी ख़बर के संदर्भ में स्पष्टीकरण मांगा, जिसमें कहा गया था कि 'अडानी का कहना है कि उन्होंने सॉवरेन वेल्थ फंड से 3 बिलियन डॉलर जुटाए हैं,' हालांकि एक्सचेंजों को जवाब का इंतजार है.

24 जनवरी को हिंडनबर्ग रिसर्च रिपोर्ट में स्टॉक हेरफेर का आरोप लगाने के बाद से, अडानी समूह की सात सूचीबद्ध फर्मों को सामूहिक रूप से बाजार मूल्य में 145 बिलियन डॉलर से अधिक का नुकसान हुआ है. फिर भी, अरबपति गौतम अडानी के नेतृत्व वाले अडानी समूह ने दावों को खारिज कर दिया है और सभी आरोपों को खारिज कर दिया है.

अडानी समूह का संयुक्त रूप से बाजार पूंजीकरण मूल्य अब 6.81 लाख करोड़ रुपये रह गया है जो 24 जनवरी को 19.19 लाख करोड़ रुपये था.

जनवरी के अंत में अमेरिकी शॉर्ट-सेलर हिंडनबर्ग रिसर्च की धमाकेदार रिपोर्ट के बाद से, अडानी समूह की सभी 10 कंपनियों शेयर बुधवार को सकारात्मक नोट पर बंद हुए. प्रमुख अडानी एंटरप्राइजेज 15.78% पर बंद हुई, जबकि अडानी टोटल गैस बाजार में 5% बढ़ी जो बुधवार को 0.85% बढ़ी. रॉयटर्स की रिपोर्ट के बाद अडानी समूह की कंपनियों के शेयर बढ़ते रहे. अडानी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड, अडानी ट्रांसमिशन लिमिटेड और अडानी पावर लिमिटेड आज 5% अपर सर्किट सीमा पर बंद हुए. अरबपति गौतम अडानी के साम्राज्य को बनाने वाली दस कंपनियों का बाजार मूल्य पिछले दो कारोबारी सत्रों के दौरान लगभग 9 बिलियन डॉलर बढ़ गया.

मंगलवार से शुरू हुए फ्लैगशिप शेयरों में रिकवरी ने उस सत्र को एक तथाकथित "बुलिश एनगल्फिंग" पैटर्न के साथ समाप्त कर दिया. इसके अलावा, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज पर मंगलवार की मात्रा लगभग 34 मिलियन शेयरों पर रही, जो 20-दिन के औसत से लगभग 2.4 गुना अधिक थी.