गेमिंग स्टार्टअप फैंटेसी अखाड़ा में हिस्सेदारी लेने जा रही है GMR स्पोर्ट्स

By Upasana
January 05, 2023, Updated on : Thu Jan 05 2023 10:35:00 GMT+0000
गेमिंग स्टार्टअप फैंटेसी अखाड़ा में हिस्सेदारी लेने जा रही है GMR स्पोर्ट्स
मिंट की एक रिपोर्ट के मुताबिक यह डील 160-170 मिलियन डॉलर की वैल्यूएशन पर और किस्तों में हो सकती हैं. GMR पुराने इनवेस्टर्स से हिस्सेदारी खरीदने के साथ डील की शुरुआत कर सकता है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

फैंटेसी गेमिंग स्टार्टअप फैंटेसी अखाड़ा जीएमआर स्पोर्ट्स को कुछ हिस्सा बेचने की तैयारी कर रही है. मिंट की एक रिपोर्ट के मुताबिक यह डील 160-170 मिलियन डॉलर की वैल्यूएशन पर और किस्तों में हो सकती हैं. GMR पुराने इनवेस्टर्स से हिस्सेदारी खरीदने के साथ डील की शुरुआत कर सकता है.


रिपोर्ट की मानें तो कंपनी 50 से 60 मिलियन डॉलर के नए शेयर बेचेगी. फैंटेसी अखाड़ा से जुड़े एक शख्स ने मिंट को बताया, इंडिया में गेमिंग इंडस्ट्री आने वाले सालों में कई गुना रफ्तार से बढ़ने वाली है. इस लिहाज से कंपनी अब बोर्ड में लॉन्ग टर्म इनवेस्टर को शामिल करने की स्ट्रैटजी पर काम कर रही है.


फैंटेसी अखाड़ा को क्रिकेट कमेंटेटर हर्षा भोगले जैसे सेलेब्रिटी भी एन्डॉर्स कर चुके हैं. इस डील के जरिए गेमिंग कंपनी के कुछ शुरुआती इनवेस्टर्स, एंजल इनवेस्टर्स और अन्य इस डील के जरिए एक्जिट ले सकते हैं.  


यह डील प्राइमरी और थोड़ी सेकेंड्री शेयर बिक्री है. यानी इस डील में कुछ पुराने इनवेस्टर तो अपनी हिस्सेदारी बेचेंगी ही लेकिन उससे ज्यादा नए शेयरों की भी बिक्री होगी. सूत्र की मानें तो आने वाले राउंड्स में वैल्यूशन भी डबल हो जाएगी.


फैंटेसी अखाड़ा में फिलहाल प्राइम सिक्योरिटीज टीम इंडिया मैनेजर्स जैसे निवेशकों ने पैसे लगाए हैं. इस गेमिंग स्टार्टअप ने अब तक 15 मिलियन डॉलर जुटाए हैं. फाउंडर्स के पास कंपनी में 44.1 पर्सेंट हिस्सेदारी है जबकि 34.48 पर्सेंट हिस्सा एंजल इनवेस्टर्स के पास है.


फैंटेसी अखाड़ा पर यूजर्स असली प्रोफेशनल स्पोर्ट्स प्लेयर्स की एक वर्चुअल टीम बना सकते हैं. इसकी शुरुआत 2020 में अमित भारद्वाज, अंकित उपरेती, अमित पुरोहित, सुमित झा, प्रतीक गोसर और साहिल आहूजा ने शुरू किया था. गेमिंग कंपनी यूजर्स को क्रिकेट, फुटबॉल, कबड्डी, जैसे अन्य गेम्स में फैंटेसी गेमिंग का एक्सपीरियंस देती है.


वहीं GMR स्पोर्ट्स, जो जीएमआर ग्रुप का स्पोर्ट्स डिविजन है उसकी शुरुआत 2008 में हुई थी. उसी समय इंडियन प्रीमियर लीग की भी शुरुआत हुई थी. GMR स्पोर्ट्स के पास नई दिल्ली से आईपीएल फ्रेंचाइजी, प्रो कबड्डी लीग का उत्तर प्रदेश फ्रैंचाइजी यूपी योद्धा और मिडिल ईस्ट स्पोर्ट्स प्रॉपर्टीज भी हैं.


फैंटेसी अखाड़ा में हिस्सेदारी लेकर कंपनी फैंटेसी गेमिंग में अपनी मौजूदगी बढ़ाने पर काम कर रही है. अगर यह डील होती है तो जीएमआर के पास कंपनी में एक बड़ी हिस्सेदारी आ जाएगी. फिलहाल डील वैल्यूएशन को लेकर चर्चा वाले स्तर पर है.


आपको बता दें कि मार्केट डिसाइफर की रिपोर्ट के मुताबिक इंडिया दुनिया का सबसे बड़ा फैंटेसी स्पोर्ट्स मार्केट है जिसमें 130 मिलियन से ज्यादा यूजर्स हैं. 2021 में इसका मार्केट 34,600 करोड़ रुपये आंका गया था. 2022 से 2032 के बीच इसके 32 पर्सेंट की दर से बढ़ने का अनुमान है.


Edited by Upasana

Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close