गूगल ने 33,737 करोड़ रुपये में खरीदी जियो में 7.7 प्रतिशत की हिस्सेदारी, AGM में मुकेश अंबानी ने की घोषणा

Clap Icon0 claps
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 claps
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

इस निवेश के साथ, गूगल, फेसबुक, सिल्वरलेक, केकेआर, टीपीजी, इंटेल और क्वालकॉम जैसे भागीदारों की सूची में शामिल हो जाएगी।

jio-mukesh

रिलायंस ने अपनी 43वीं वार्षिक आम बैठक (AGM) में गूगल के अपने साथ बतौर निवेशक जुड़ने की घोषणा की है। कंपनी ने घोषणा की है कि गूगल 33,737 करोड़ रुपये के निवेश के साथ जियो प्लेटफॉर्म में 7.7 प्रतिशत की हिस्सेदारी खरीदेगी।


इस निवेश के साथ, गूगल, फेसबुक, सिल्वरलेक, केकेआर, टीपीजी, इंटेल और क्वालकॉम जैसे भागीदारों की सूची में शामिल हो जाएगी।


हाल ही में की गई एक घोषणा में गूगल ने कहा था कि वह भारत में आने वाले 5 से 7 सालों में 10 अरब डॉलर के निवेश करेगी। इस निवेश के साथ कंपनी का उद्देश्य देश के डिजिटल इकोसिस्टम में अपनी स्थिति को मजबूत करना है।


गूगल के इस निवेश के साथ ही रिलायंस में निवेश का आंकड़ा 1.52 लाख करोड़ रुपये तक पहुँच चुका है, जिसमें अब तक 14 कंपनियों ने जियो में निवेश किया है।


RIL के अध्यक्ष और प्रबंध निदेशक मुकेश अंबानी ने घोषणा की है कि गूगल के निवेश के साथ अब रिलायंस पूरी तरह से ऋण मुक्त हो गई है और अब से यह केवल रणनीतिक निवेश ही स्वीकार करेगी।


रिलायंस की डिजिटल इकाई जियो प्लेटफ़ॉर्म में यूं तो संगीत और मूवी ऐप्स भी हैं, लेकिन इसका मुख्य आधार टेलीकॉम फर्म जियो इन्फोकॉम है, जिसमें 38.7 करोड़ से अधिक सक्रिय उपयोगकर्ता जुड़े हुए हैं।


Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close