Mushroom Farming: ये है 4-5 गुना मुनाफा देना वाला Business Idea, छोटे कमरे से करें शुरू!

By Anuj Maurya
November 14, 2022, Updated on : Mon Nov 14 2022 02:31:32 GMT+0000
Mushroom Farming: ये है 4-5 गुना मुनाफा देना वाला Business Idea, छोटे कमरे से करें शुरू!
अगर आप तगड़े मुनाफे वाला कोई बिजनेस करना चाहते हैं तो मशरूम की खेती कर सकते हैं. इसे आप छोटे से कमरे से भी शुरू कर सकते हैं. इस बिजनेस में आपको लागत का 4-5 गुना मुनाफा मिल सकता है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

आपने ये तो सुना ही होगा कि खेती-किसानी में तगड़ा मुनाफा कमाना है तो कुछ हटकर उगाना होगा. अगर आप भी ऐसा सोचते हैं तो आपको मशरूम की खेती ट्राई करनी चाहिए. ये ऐसी खेती है तो आपको तगड़ा मुनाफा देगी, बस आपको कुछ बातों का ध्यान रखना होगा. मशरूम ना सिर्फ जायके वाली चीज है, बल्कि इससे स्वास्थ्य को भी बहुत सारे फायदे (Benefits Of Mushroom To Health) होते हैं. सवाल ये है कि आखिर मशरूम की खेती कैसे की जाती है (How To Do Mushroom Farming) और इससे कितना फायदा (Profit In Mushroom Farming) कमाया जा सकता है.

कब और कैसे उगाया जाता है मशरूम?

वैसे तो मशरूम कई तरह के होते हैं, लेकिन सबसे अधिक मांग होती है बटन मशरूम की. अगर बात इसकी खेती की करें तो इसके लिए ठंड का मौसम बहुत ही अनुकूल होता है. इसके लिए सबसे पहले गेहूं या चावल के भूसे को कुछ रसायनों के साथ मिलाकर कंपोस्ट खाद तैयार की जाती है. इसे बनने में करीब महीने भर का समय लगता है. मशरूम की खेती के लिए आपके पास कोई शेड, झोपड़ी या कमरा होना चाहिए, जिसमें आप मशरूम उगा सकें. ध्यान रहे उसमें धूप ना आने पाए, क्योंकि उससे मशरूम बटन खराब हो सकते हैं.


कंपोस्ट तैयार हो जाने के बाद किसी तख्त जैसी समतल जगह पर इसकी 6-8 इंच मोटी परत बिछाई जाती है. इसी के ऊपर मशरूम के बीज डाले जाते हैं और इस प्रक्रिया को स्पॉनिंग कहते हैं. उसके बाद बीजों को फिर से कंपोस्ट की एक परत से ढक दिया जाता है. करीब 40-50 दिनों में मशरूम की हार्वेस्टिंग शुरू हो जाती है. आपको हर रोज ढेर सारे मशरूम मिलेंगे. आप चाह तो वर्टिकल फार्मिंग भी कर सकते हैं, क्योंकि मशरूम की ऊंचाई बहुत ही कम होती है. इस तरह आप कम जगह में अधिक उत्पादन हासिल कर सकते हैं.

कितनी लागत और कितना मुनाफा?

मशरूम की खेती अगर आपने सही से की और आपकी फसल में किसी तरह की कोई बीमारी नहीं लगती है तो आपको लागत का 4-5 गुना तक भी मुनाफा हो सकता है. प्रति किलो मशरूम उगाने पर आपका करीब 35-40 रुपये या अधिक से अधिक 50 रुपये खर्च आएगा. वहीं अगर खुले बाजार की बात करें तो वहां मशरूम आराम से 200-250 रुपये किलो बिकते हैं. यानी आपको 4-5 गुना तक मुनाफा हो सकता है. वहीं अगर आप मशरूम को बड़े होटलों या रेस्टोरेंट में सीधे सप्लाई करते हैं तो वहां आप इन्हें 500 रुपये तक भी बेच सकते हैं. हालांकि, उसके लिए आपको अपने स्टॉक में से बेस्ट मशरूम अलग करने होंगे, क्योंकि वह अधिक कीमत देंगे तो सिर्फ बेस्ट मशरूम ही लेंगे, ना कि सारा स्टॉक.

किसी भी मौसम में कैसे उगाएं मशरूम?

अगर आप किसी भी मौसम में मशरूम उगाना चाहते हैं तो उसके लिए आपको वातावरण को कंट्रोल करना होगा. मशरूम की खेती में बीज डालने के बाद 22-25 डिग्री तक का तापमान चाहिए होता है, लेकिन बाद में यह 15-20 डिग्री के बीच हो तो बेहतर रहता है. ठंडा का मौसम इसके लिए इसीलिए उपयुक्त होता है क्योंकि शुरुआत में ठंड कम होती है, जबकि बाद में बढ़ जाती है. किसी भी मौसम में मशरूम उगाने के लिए आपको किसी कमरे या ऐसे शेड के स्ट्रक्चर की जरूरत होगी, जिसमें हवा ना आ-जा सके. आपको कमरे के तापमान को एसी लगाकर कंट्रोल करना होगा और फिर आप आसानी से मशरूम उगा सकते हैं. कमरे की आद्रता को 80-90 फीसदी रखना चाहिए. हालांकि, इस तरीके से मशरूम उगाने पर प्रति किलो पर आपकी लागत अधिक आएगी, लेकिन अच्छी बात ये है कि ऑफ सीजन में मशरूम उगाने की वजह से आपको दाम अधिक मिलेंगे.

मशरूम से स्वास्थ्य को होते हैं खूब सारे फायदे

मशरूम से स्वास्थ्य को एक-दो नहीं, बल्कि बहुत सारे फायदे होते हैं. इसकी सब्जी का जायका तो आपको अंगुलियां चाटने पर मजबूर कर ही देगा, यह बहुत ही पाचनशील और ढेर सारे पोषक तत्वों से भरा होता है. इसके अलावा मशरूम में प्रोटीन, विटामिन बी, विटामिन सी, विटामिन डी और कई सारे खनिज लवण पाए जाते हैं. इतना ही नहीं, मशरूम में फॉलिक एसिड भी होता है. फॉलिक एसिड शरीर में खून बनाने में मददगार होता है. मशरूम खाने से दिल से जुड़ी तमाम बीमारियों में भी फायदा मिलता है. ब्लड प्रेशर (बीपी) के मरीजों के लिए भी बहुत ही फायदे वाली चीज है.