इंसेक्ट बायोटेक स्टार्टअप Loopworm ने Omnivore और WaterBridge से जुटाए 27 करोड़ रुपये

Loopworm के लिए यह सीड फंडिंग है. कंपनी की योजना नए लोगों को हायर करने, रिसर्च एंड डेवलपमेंट के लिए वर्ल्ड-क्लास लैब बनाने और प्रोडक्शन बढ़ाने के लिए अपना पहला कारखाना शुरू करने की है.

इंसेक्ट बायोटेक स्टार्टअप Loopworm ने Omnivore और WaterBridge से जुटाए 27 करोड़ रुपये

Wednesday August 24, 2022,

3 min Read

इंसेक्ट बायोटेक स्टार्टअप Loopwormने घोषणा की है कि उसने Omnivore और WaterBridge Ventures के सह-नेतृत्व में अपने सीड फंडिंग राउंड में 3.4 मिलियन डॉलर (करीब 27 करोड़ रुपये) जुटाए हैं. इस राउंड में Titan Capital और नादिर गोदरेज (Godrej Agrovet), संजीव रंगरास (ex-ITC), और अक्षय सिंघल (Log9 Materials) की भागीदारी भी देखी गई.

Loopworm B2B ग्राहकों के लिए मूल्य वर्धित पोषक तत्वों और अवयवों का उत्पादन करते हुए छोटे किसानों के लिए कीट खेती (insect farming) के रास्ते खोल रहा है. लूपवॉर्म OmniX Bio पहल के तहत ओमनीवोर का दूसरा निवेश है, जो प्रारंभिक चरण के एग्री-फूड लाइफसाइंस स्टार्टअप का समर्थन करता है.

बैंगलोर स्थित, Loopworm की स्थापना 2019 में IIT रुड़की (IIT Roorkee) से ग्रेजुएशन करने वाले अंकित आलोक बगरिया और अभि गवरी द्वारा की गई थी. दो युवा उद्यमी एक साथ भारत के खाद्य अपशिष्ट संकट को हल कर रहे हैं, छोटे किसानों की आय में वृद्धि कर रहे हैं, और पर्यावरणीय चुनौतियों का समाधान करने के लिए भारतीय बायोटेक्नोलॉजी की शक्ति का प्रदर्शन कर रहे हैं. बहु-प्रजाति इंसेक्ट बायोटेक्नोलॉजी का उपयोग करते हुए, लूपवॉर्म खाद्य अपशिष्ट को प्रोटीन युक्त पोषक तत्वों और मूल्य वर्धित अवयवों में बदल रहा है. यह सर्कुलर इकोनॉमी स्टार्टअप एक्वाकल्चर, पालतू भोजन और न्यूट्रास्यूटिकल्स सहित कई क्षेत्रों को बदलने में मदद करेगा.

भारत में पोल्ट्री इंटीग्रेशन को फॉलो करते हुए, लूपवॉर्म छोटे किसानों के साथ साझेदारी में डिसेंट्रलाइज्ड कीट पालन सुविधाओं का निर्माण कर रहा है. अगले 5 वर्षों में, स्टार्टअप का लक्ष्य प्रति वर्ष 300,000 मीट्रिक टन स्थायी कीट-आधारित प्रोटीन का उत्पादन करना है, जो 7.5 मिलियन मीट्रिक टन खाद्य अपशिष्ट और एग्रीकल्चरल बायप्रोडक्ट्स से मूल्य पैदा करता है. कंपनी की योजना नए लोगों को हायर करने, रिसर्च एंड डेवलपमेंट के लिए वर्ल्ड-क्लास लैब बनाने और प्रोडक्शन बढ़ाने के लिए अपना पहला कारखाना शुरू करने की है.

लूपवर्म के को-फाउंडर, अंकित आलोक बगरिया और अभि गवरी ने कहा, “हम Omnivore, Waterbridge, Titan Capital और नादिर गोदरेज सहित कई अनुभवी एंजल्स को लूपवर्म में निवेशकों के रूप में पाकर रोमांचित हैं. हम नॉर्थ बैंगलोर में अपनी पहली लूप फैक्ट्री शुरू करने, हैलेंट हायर करने और R&D में तेजी लाने के लिए ताजा फंडिंग का उपयोग करने की योजना बना रहे हैं.“

Omnivore के मैनेजिंग पार्टनर मार्क कान ने कहा, "Omnivore को हमारे OmniX Bio पहल के तहत लूपवॉर्म का समर्थन करने में खुशी हो रही है. लूपवॉर्म भारत में एग्री-फूड लाइफसाइंस के लिए रास्ते बनाने का प्रयास करता है. लूपवॉर्म खेती किए गए कीड़ों को मूल्य वर्धित पोषक तत्वों और अवयवों में बदलने में भारी संभावनाएं देखता है, और Omnivore का मानना है कि कंपनी जल्द ही भारत के अग्रणी बायोटेक स्टार्टअप में से एक बन जाएगी."

Waterbridge Ventures के पार्टनर आशीष जैन ने कहा, “हम अंकित और अभि को सस्टेनेबल और स्केलेबल फूड रिसॉर्सेज के लिए सॉल्व करते हुए देखकर उत्साहित हैं, जो कि ट्रेस करने योग्य हैं और इसलिए मुख्यधारा को अपनाने के लिए आसान हैं. लूपवॉर्म, क्लाइमेट-टेक्नोलॉजी और फूड-टेक्नोलॉजी के शिखर पर बैठे हुए, वैल्यू चेन को आगे बढ़ाना जारी रखने की क्षमता रखता है क्योंकि इसका प्रोडक्ट सूट बढ़ रहा है और वास्तव में स्केल किए गए खिलाड़ी के रूप में उभरता है."


Edited by रविकांत पारीक