इस वित्त वर्ष में IPO लाने की तैयारी में NTPC Green Energy

केंद्र के स्वामित्व वाली बिजली कंपनी एनटीपीसी (NTPC) की शाखा एनटीपीसी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड (NTPC Green Energy Ltd - NGEL) इस वित्तीय वर्ष में IPO के जरिए पैसे जुटाने की योजना बना रही है. मीडिया रिपोर्ट्स में सूत्रों के हवाले से इसकी जानकारी दी गई है. इससे पहले सरकार ने NGEL में NTPC की 20 फीसदी हिस्सेदारी रणनीतिक निवेशक को 3,000 करोड़ रुपये में बेचने की योजना बनाई थी.

सूत्रों ने लिस्टिंग के माध्यम से जुटाई जाने वाली धनराशि का खुलासा नहीं किया. सूत्र ने कहा कि एसबीआई कैपिटल मार्केट्स NGEL की लिस्टिंग के लिए सलाहकार होगा. इससे पहले, तीन बोलीदाताओं ने हिस्सेदारी बिक्री प्रस्ताव में दिलचस्पी दिखाई थी, लेकिन बाद में यह अमल में नहीं आ सका.

इस साल मार्च में, केंद्रीय मंत्रिमंडल ने एनटीपीसी को NGEL में अपने निवल मूल्य के 30 प्रतिशत की सीमा से अधिक निवेश करने की अनुमति दी थी. वित्तीय वर्ष 2021-22 की वार्षिक रिपोर्ट के अनुसार, एनटीपीसी की कुल संपत्ति 1.28 लाख करोड़ रुपये थी. एनटीपीसी का 2032 तक 60 गीगावॉट अक्षय ऊर्जा हासिल करने का महत्वाकांक्षी लक्ष्य है.

केंद्रीय मंत्रिमंडल ने एनटीपीसी रिन्यूएबल एनर्जी लिमिटेड और इसके अन्य संयुक्त उपक्रमों/सहायक कंपनियों में एनजीईएल के निवेश को भी छूट दी, जो इसके निवल मूल्य के 15 प्रतिशत की सीमा के अधीन 5,000 करोड़ रुपये की मौद्रिक सीमा से परे 7,500 करोड़ रुपये तक के लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए है.

NTPC को एनटीपीसी ग्रीन एनर्जी लिमिटेड में निवेश की छूट मिलने से भारत की ग्रीन इकोनॉमी वाली इमेज मजबूत होगी. रिन्यूएबल एनर्जी के विकास से कोयले पर निर्भरता घटेगी. देश का कोल इंपोर्ट घटेगा. इन तमाम फायदों के अलावा रोजगार के नए अवसर खुलेंगे.

यह भी पढ़ें
मुद्रा योजना के तहत 41 करोड़ लाभार्थियों को दिया 23.2 लाख करोड़ रुपये का लोन: सरकार