संस्करणों
वुमनिया

अपने 'डेलीडंप' स्टार्टअप से इस तरह पर्यावरण को बचा रही हैं 'कंपोस्टवाली' पूनम बीर कस्तूरी

yourstory हिन्दी
14th Jun 2019
11+ Shares
  • Share Icon
  • Facebook Icon
  • Twitter Icon
  • LinkedIn Icon
  • Reddit Icon
  • WhatsApp Icon
Share on
Poonam Bir Kasturi

पूनम बीर कस्तूरी


हर दिन, लैंडफिल्स में इतना कचरा डाला जाता है जिसे सड़ने में हजारों साल लगते हैं। फैक्ट्री से निकलने वाले कचरे से जल निकाय ओवरफ्लो हो जाते हैं और वाहनों से निकलने वाले धुएं से हवा में बादल छा जाते हैं। पृथ्वी कयामत की ओर बढ़ती दिख रही है, लेकिन सब हांथ पर हांथ रखे बैठे हैं इस उम्मीद में कि कोई और इसके बारे में कुछ करेगा, लेकिन इससे चीजें बदलने वाली नहीं हैं।


हरस्टोरी वूमेन ओन मिशन फेसबुक पेज (HerStory Women on A Mission Facebook page) पर सामुदायिक चैट में, डेली डंप की संस्थापक पूनम बीर कस्तूरी ने उन छोटी-छोटी चीजों के बारे में अपनी अंतर्दृष्टि साझा की, जिससे हम अपने प्लानेट को बचाने के लिए प्रयास कर सकते हैं। 


चर्चा के कुछ अंश इस प्रकार हैं:


दैनिक जीवन में कौने से छोटे बदलाव ला कर पर्यावरण में सकारात्मक योगदान दिया जा सकता है?

पूनम बीर कस्तूरी:

1. हम कहीं भी हों, गैर-प्लास्टिक प्रोडक्ट्स का उपयोग करें।

2. अपने घर और शरीर को रीफ्रेश रखें, प्राकृतिक रहें और सभी रासायनिक क्लीनर, गंध, और सैनिटाइजर से मुक्त रखें।

3. जहाँ संभव हो जैविक भोजन (organic food) चुनें, इसके लिए किसानों का पता लगाएं। लंबे समय के लिए, जैविक भोजन अधिक महंगा नहीं है।

4. कम दूरी चलें; यह सड़क पर वाहनों से प्रदूषण को कम करने में मदद करता है, अक्सर देखा जाता है कि चार-सीटर कार में केवल एक व्यक्ति होता है।

5. घर और ऑफिस में एयर कंडीशनर का उपयोग कम करें; इसके बजाय एक खिड़की खोलें या पंखे का उपयोग करें। आप छोटा रेफ्रिजरेटर भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

6. पृथ्वी के साथ अपने खुद के रिश्ते को परिभाषित करें; इसे व्यक्तिगत बनाएं और यात्रा का आनंद लें।



घर पर लगे पौधों को पोषण देने के लिए रसोई के कचरे का उपयोग कैसे किया जा सकता है?

पूनम बीर कस्तूरी: लोगों को डर रहता है कि खाद से दुर्गंध आएगी और गंदे कीड़े होंगे, लेकिन यह काफी परेशानी मुक्त प्रक्रिया है। डेली डंप में ऐसे कई प्रोडक्ट हैं जो आपको यह यात्रा शुरू करने में आपकी मदद कर सकते हैं।


घरेलू कचरा बाहर फेंकते समय हमें किन-किन बातों का ध्यान रखना चाहिए?

पूनम बीर कस्तूरी: पहली चीज जो होगी वो ये कि आपको इसे अलग-अलग करना होगा। अपने किचन के कचरे को सूखे, खतरनाक और सैनिटरी कचरे से अलग रखें।

आप अपनी कम्युनिटी में व्यक्तिगत रूप से या एक साथ मिलकर रसोई के कचरे को खाद बना सकते हैं।

सूखा कचरा आइडियली बेच दिया जाता है या रिसाइकलर्स को दे दिया जाता है।

खतरनाक कचरे (तार, बल्ब, बैटरी, गैजेट्स) को इकट्ठा किया जाना चाहिए और फिर उचित और सुरक्षित निपटान के लिए जमा किया जाना चाहिए। पूरे शहर में इसके लिए कई संग्रह केंद्र होते हैं।

सैनिटरी कचरे को आइडियली एक सैनिटरी वास्ट डिस्पोजल फैसिलिटी के लिए भेजा जाता है, और कुछ वेंडर्स हैं जो आपके लिए इस प्रक्रिया में मदद कर सकते हैं।

अन्य सभी अस्वीकार्य कचरे को 10 प्रतिशत तक कम करने और इसे नगरपालिका द्वारा लैंडफिल में ले जाने की आवश्यकता होती है।


बायो-डिग्रेडेबल सेनेटरी नैपकिन से खाद बनाई जाती है?

पूनम बीर कस्तूरी: उन्हें अखबार में लपेटें और अलग-अलग कैंची से कम्पोस्टर में काटकर डाल दें। यदि आप इसे रसोई के कचरे के साथ मिश्रण करने के बारे में असहज हैं, तो इसके लिए एक अलग कम्पोस्टर बनाएं, और इसमें थोड़ा रसोई का कचरा रोज डालें। इसमें कार्बन न जोड़ें - जैसे कोकोपीट ब्लॉक या पाउडर, इसे केवल नाइट्रोजन की जरूरत होती है- जो कि सिर्फ रसोई का कचरा या बाग की कतरनी में होता है।





11+ Shares
  • Share Icon
  • Facebook Icon
  • Twitter Icon
  • LinkedIn Icon
  • Reddit Icon
  • WhatsApp Icon
Share on
Report an issue
Authors

Related Tags