भाषा पर है अच्छी पकड़! आपके लिए ये हैं बेहतर करियर ऑप्शन

भाषा पर है अच्छी पकड़! आपके लिए ये हैं बेहतर करियर ऑप्शन

Sunday September 04, 2022,

3 min Read

 अगर आपको अपनी भाषा को अच्छे से लिखना और बोलना आता है तो आपको आसानी से अच्छी नौकरी मिल सकती है. आप अपनी भाषा पर अच्छी पकड़ के चलते लैंग्वेज एक्सपर्ट बन सकते हैं. अलग-अलग देशों के बीच बढ़ते व्यापार को देखकर अलग-अलग भाषाएं सीखने का चलन तेजी से बढ़ रहा है. केवल भारत ही नहीं, बल्कि दूसरे देशों में भी भाषा के क्षेत्र में हजारों नौकरी के इश्तेहार आए दिन देखने को मिल जाते हैं. सरकारी विभागों से लेकर प्राइवेट सेक्टर तक, सबको लैंग्वेज एक्सपर्ट की जरूरत है. अगर आपको एक से अधिक भाषाओं का ज्ञान है तो आपके लिए नौकरी लेना और भी आसान हो जाता है.

ये कोर्स कर सकते हैं  

अगर आप भाषा के क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते हैं तो आप अपनी रूचि की भाषा में बीए ऑनर्स इन फॉरेन लैंग्वेज, डिप्लोमा और इसके बाद एडवांस डिप्लोमा इन फॉरेन लैंग्वेज भी कर सकते हैं. ये कोर्स जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय, दिल्ली विश्वविद्यालय, जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी समेत अन्य गैर सरकारी संस्थानों से किए जा सकते हैं. दिल्ली सरकार ने भी दिल्ली स्किल एंड ऑन्त्रप्रेन्योरशिप यूनिवर्सिटी शुरू की है, जहां स्पेनिश भाषा सीखने से शुरुआत कर सकते हैं. इसके साथ-साथ अलग-अलग दूतावास से जुड़े संस्थान भी हैं, जो लैंग्वेज में कोर्स करवाते हैं.

कोर्स की फ़ीस है बेहद कम

अगर आप ये सोचकर परेशान हैं कि इन कोर्स की फ़ीस बहुत ज्यादा होगी, तो ये गलत है. आपको बता दें कि अगर आप किसी सरकारी संस्थान जैसे - जवाहरलाल नेहरु विश्वविद्यालय, दिल्ली विश्वविद्यालय, जामिया मिल्लिया इस्लामिया यूनिवर्सिटी से कोर्स कर रहे हैं तो कोर्स की फ़ीस 3 हज़ार से 10 हज़ार रुपए तक होगी, जो अलग-अलग यूनिवर्सिटी में अलग-अलग है. अगर आप किसी गैर-सरकारी संस्थान से कर रहे हैं, तो फ़ीस लगभग 25 से 30 हज़ार रुपए तक होगी.

कोर्स में क्या पढ़ाया जाएगा 

कोर्स के दौरान आपको भाषा को समझना, बोलना, लिखना और खुद के विचारों को उस भाषा में व्यक्त करना सिखाया जाता है. इसके साथ-साथ आपको उस भाषा से जुडी सभ्यता, मान्यताएं और उस भाषा के इतिहास और भूगोल के बारे में भी बताया जाता है. कोर्स के दौरान आपको नए-नए लोगों से उस भाषा में अपने विचारों को व्यक्त करने का मौका मिलता है.

कहां मिलेगी नौकरी

भाषा को अच्छे से सीखने के बाद आपके लिए कई रास्ते खुल जाते है. गवर्नमेंट सेक्टर से लेकर कॉर्पोरेट, टूरिज्म सेक्टर हर जगह अप्लाई कर सकते हैं. विज्ञापन जगत अपार संभावनाओं से भरा है. किसी प्रोजेक्ट में आप ट्रांसलेटर और इंटरप्रेटर के लिए अप्लाई कर सकते हैं. भारत में टूरिज्म सेक्टर बहुत तेजी से बढ़ रहा है और ये सेक्टर आपके लिए नौकरी के बेहतर अवसर लेकर आएगा. आप फॉरेन लैंग्वेज टूरिस्ट गाइड बन सकते हैं. गवर्मेंट या प्राइवेट डेलीगेशन जब भी किसी दूसरे देश जाता है, तब उनकी टीम में लैंग्वेज एक्सपर्ट जरुर होता है, आप उसके लिए भी अप्लाई कर सकते हैं. अगर आपने लैंग्वेज में पीएचडी करली तो किसी यूनिवर्सिटी में असिस्टेंट प्रोफेसर की पोस्ट के लिए भी अप्लाई कर सकते हैं. किसी भी जॉब के लिए अप्लाई करते वक्त अगर आपके रिज्यूमे में फॉरेन का ज्ञान भी मेंशन रहता है तो जॉब के लिए आपकी दावेदारी और मजबूत हो जाती है.