सब्सक्राइबर्स की रेस में Reliance Jio से बहुत पीछे छूटा Airtel, Vodafone-idea और BSNL में भारी गिरावट

By yourstory हिन्दी
September 16, 2022, Updated on : Fri Sep 16 2022 09:06:54 GMT+0000
सब्सक्राइबर्स की रेस में Reliance Jio से बहुत पीछे छूटा Airtel, Vodafone-idea और BSNL में भारी गिरावट
ट्राई के आंकड़ो की तुलना करने पर पता चलता है कि इस दौरान भारती एयरटेल के वायरलेस सब्सक्राइबर्स के आंकड़ों में 5 लाख की बढ़ोतरी हुई जिसके साथ उसके कुल सब्सक्राइबर्स की संख्या बढ़कर 3.63 करोड़ पहुंच गई.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

रिलायंस जियो अपने प्रतिद्वंदी टेलीकॉम प्रोवाइडरों को पीछे छोड़ते हुए जुलाई में 29.4 लाख सब्सक्राइबर्स जोड़ने में कामयाब रहा औऱ इसके साथ ही उसके कुल सब्सक्राइबर्स की संख्या बढ़कर 4.15 करोड़ पहुंच गई है. यह जानकारी टेलीकॉम रेगुलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (ट्राई) द्वारा जुटाए गए सब्सक्राइबर आंकड़ों से आई है.


ट्राई के आंकड़ो की तुलना करने पर पता चलता है कि इस दौरान भारती एयरटेल के वायरलेस सब्सक्राइबर्स के आंकड़ों में 5 लाख की बढ़ोतरी हुई जिसके साथ उसके कुल सब्सक्राइबर्स की संख्या बढ़कर 3.63 करोड़ पहुंच गई.


वहीं, वोडाफोन-आइडिया (Vi) के कस्टमर्स लगातार उससे दूर जा रहे हैं. नकदी संकट का सामना कर रही Vi ने जुलाई में अपेन 15.4 लाख कस्टमर्स खो दिए. इसके साथ ही उसके कस्टमर्स की संख्या सिमटकर 25.51 लाख रह गई. यह दिखाता है कि 4G ऑपरेशंस को लेकर Vi का संघर्ष खत्म नहीं हो रहा है.


वहीं, जियो और एयरटेल का मार्केट शेयर भी पिछले महीने की तुलना में बढ़ गया है. पिछले महीने जियो का मार्केट शेयर 36 फीसदी था जो कि अब बढ़कर 36.23 फीसदी हो गया है. वहीं, एयरटेल का मार्केट शेयर पिछले महीने 31.63 फीसदी था जो कि इस महीने बढ़कर 31.66 फीसदी हो गया. जबकि Vi का मार्केट शेयर 22.37 फीसदी से घटकर 22.22 फीसदी रह गया. इसके साथ ही इस बीच, सरकारी स्वामित्व वाली बीएसएनएल और एमटीएनएल ने क्रमशः 1,327,999 और 3,038 वायरलेस ग्राहकों को खो दिया.


ट्राई द्वारा जुटाए गए आंकड़ों से पता चलता है कि देश में मोबाइल यूजर की संख्या में भी मामूली बढ़ोतरी हुई है जो कि जुलाई में 0.06 फीसदी बढ़कर 1.148 अरब पहुंच गई है. इससे पहले जून महीने में यह संख्या 1.147 अरब थी. शहरी इलाकों में जुलाई के अंत तक सब्सक्राइबर्स की संख्या में 65 लाख से अधिक का इजाफा हुआ जबकि जून में सब्सक्राइबर्स की संख्या 64.9 लाख बढ़ी थी.


ट्राई के आंकड़ों से पता चलता है कि ग्रामीण इलाकों में सब्सक्राइबर्स की संख्या में गिरावट आई है. ग्रामीण इलाकों में जून में सब्सक्राइबर्स की संख्या 52.38 लाख थी जो कि जुलाई में घटकर 52.32 लाख रह गई. इसका मतलब है कि ग्रामीण इलाकों में सब्सक्राइबर्स की संख्या 60 लाख घट गई.


जुलाई में 1.23 करोड़ सब्सक्राइबर्स ने मोबाइल नंबर पोर्टेबिलिटी के आवेदन किया जबकि जुलाई के अंत तक यह संख्या 72.47 लाख थी.

वहीं, जुलाई में कुल टेलीफोन सब्सक्राइबर्स की संख्या 70 लाख बढ़कर 31 जुलाई के अंत तक 1.17 अरब पहुंच गई. जून में नए सब्सक्राइबर्स की संख्या 22 लाख से अधिक बढ़ी थी.


Edited by Vishal Jaiswal