आईफोन से ट्विटर ब्लू के लिए पेमेंट करना पड़ सकता है महंगा

By yourstory हिन्दी
December 08, 2022, Updated on : Thu Dec 08 2022 12:26:40 GMT+0000
आईफोन से ट्विटर ब्लू के लिए पेमेंट करना पड़ सकता है महंगा
रॉयटर्स की रिपोर्ट के मुताबिक आईफोन से ट्विटर ब्लू के लिए पेमेंट करने पर 11 डॉलर देने पड़ सकते हैं, जबकि ट्विटर की वेबसाइट से पेमेंट करने पर 7 डॉलर ही देने होंगे. ट्विटर की तरफ से इस संभावित कदम को एपल के 30 फीसदी कमिशन लेने के फैसले के खिलाफ जवाबी कार्रवाई माना जा रहा है.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

अगर आप आईफोन यूजर हैं और ट्विटर ब्लू का सब्सक्रिप्शन वर्जन लेना चाहते हैं तो ये आपके लिए महंगा सौदा हो सकता है. दरअसल रॉयटर्स ने सूत्रों का हवाला देते हुए बताया है कि एपल ट्विटर ऐप के जरिए सब्सक्रिप्शन मॉडल का भुगतान करने वालों से ज्यादा चार्ज करने की योजना बना रहा है.


ऐप के जरिए पेमेंट करने पर 7.99 डॉलर की बजाय यूजर्स को 11 डॉलर देने पड़ सकते हैं. जबकि यूजर अगर ट्विटर की वेबसाइट पर जाकर सब्सक्रिप्शन के लिए भुगतान करता है तो उसे सात डॉलर ही देने होंगे.


रिपोर्ट में यह भी अंदाजा लगाया गया है कि इस कदम से कंपनी वेबसाइट पर ट्रैफिक बढ़ाने में कामयाब हो सकती है. हालांकि अभी यह नहीं बताया कि एंड्रॉइड यूजर्स के लिए भी ट्विटर ब्लू के सब्सक्रिप्शन शुल्क में बदलाव होगा या नहीं.


बता दें, टेस्ला के सीईओ एलन मस्क ने इस साल अक्टूबर में ट्विटर को 44 अरब डॉलर में खरीदा था. उन्होंने ब्लू टिक जो कि वेरिफाइड अकाउंट को दर्शाता है उसे लेने के नियमों में बदलाव कर दिया.


जिसका फायदा उठाते हुए कई फेक यूजर्स ने बड़ी बड़ी कंपनियों और सेलेब्रिटीज के अकाउंट की नकल करने लगे. ट्विटर पर एक दम से शिकायतों की बाढ़ सी आ गई.


इससे निपटने के लिए उन्होंने एक रंग के बजाय सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सेलेब्रिटी, कंपनी और सरकारी संस्थाओं के लिए तीन अलग-अलग रंग में वेरिफाइड बैज पेश करने का ऐलान किया था. ट्विटर, एपल और गूगल की तरफ से इस बारे में पूछे गए सवाल को लेकर कोई जवाब नहीं मिला.


कुछ समय पहले एपल ने कहा था कि अगर उसके ऑपरेटिंग सिस्टम पर मौजूद ऐप्स से पेमेंट करने पर वह 30 फीसदी कमीशन लेगी. रिपोर्ट के मुताबिक ट्विटर का यह कदम एपल के इसी घोषणा के खिलाफ है.


मस्क ने पिछले कुछ समय में Apple को लेकर कई ट्वीट किए जिसमें उन्होंने Apple की कई नीतियों के बारे में शिकायत की. इसमें 30 फीसदी का कमीशन चार्ज शामिल है, जो Apple सॉफ्टवेयर डेवलपर्स से लेता है.


उन्होंने इस दौरान कुछ ऐसे मीम भी शेयर किए जो ये इशारा कर रहे थे कि मस्क एपल को कमीशन देने की बजाए उसके साथ लड़ाई करना पसंद करेंगे. 


इसके कुछ ही दिन बाद मस्क के एपल चीफ एग्जिक्यूटिव टिम कुक से मुलाकात की खबर आई थी. मीटिंग के बाद एपल की तरफ से ट्वीट कर जानकारी दी गई कि एपल के प्ले स्टोर से ट्विटर को हटाने संबंधी गलतफहमी को सुलझा लिया गया है.


Edited by Upasana

Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close