सस्ते दर पर प्याज बेच रहा नोएडा प्रशासन

3rd Dec 2019
  • +0
Share on
close
  • +0
Share on
close
Share on
close

प्याज की नई उपज आने के बावजूद इसकी कीमतों में कमी नहीं आ रही है। उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में जमाखोरी के चलते प्याज की कीमत में शहर के फुटकर बाजार में 70 से 80 रुपये पर अटकी हैं, वहीं कनार्टक के मैसुरु में प्याज की कीमतें आसमान छू रही हैं।

k

फोटो: सोशल मीडिया

नोएडा, जिला प्रशासन ने प्याज की बढ़ी हुई कीमत से परेशान जनता को राहत देते हुए तीन मोबाइल वैन के जरिए जनपद के विभिन्न स्थानों पर सस्ते दर पर प्याज बेचने की व्यवस्था की है।


नगर मजिस्ट्रेट शैलेंद्र मिश्रा ने बताया कि फेस-2 स्थित फूल एवं सब्जी मंडी में तथा भंगेल गांव में दो स्थानों पर 35 से 38 रुपये किलो प्याज आम जनता को बेचा जा रहा है। उन्होंने बताया कि जनपद में तीन मोबाइल वैन में प्याज बेचा जा रहा है। दो वैन शहरी क्षेत्र में और एक वैन ग्रामीण क्षेत्र में चलाई जा रही है।


मिश्रा ने बताया कि जिले में प्याज की कमी नहीं है और जिला प्रशासन सभी लोगों को सस्ती दर पर प्याज उपलब्ध कराने का प्रयास कर रहा है।


गौरतलब है कि प्याज की नई उपज आने के बावजूद इसकी कीमतों में कमी नहीं आ रही है। उत्तर प्रदेश के प्रयागराज में जमाखोरी के चलते प्याज की कीमत में शहर के फुटकर बाजार में 70 से 80 रुपये पर अटकी हैं, वहीं कनार्टक के मैसुरु में प्याज की कीमतें आसमान छू रही हैं और अगर मैसूरु क्षेत्र में मौजूदा स्थिति जारी रहती है तो यह 150 रुपये प्रति किलो का आंकड़ा छू सकता है।


प्याज की बढ़ती कीमतों ने रसोईंघर के आंसू निकाल दिये हैं। दुकानों में प्याज की बिक्री में 50 से 60 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की जा रही है। कुछ व्यापारियों ने तो यहां तक कहा है कि अभी प्याज के सबसे बड़े उत्पादकों में से एक महाराष्ट्र से ताजा आपूर्ति के साथ ही इसकी कीमतें स्थिर होने की संभावना नहीं है।


ताजा आवक में कम से कम 15 से 20 दिन का समय लग सकता है और जब तक ताजा आपूर्ति बाजारों में नहीं आती है तब तक कीमतें ऊंची बनी रह सकती हैं।




  • +0
Share on
close
  • +0
Share on
close
Share on
close

Our Partner Events

Hustle across India