ऑनलाइन प्रतियोगिता ने कैंसर पीड़ित निशानेबाज के चेहरे पर मुस्कान बिखेरी

ऑनलाइन प्रतियोगिता ने कैंसर पीड़ित निशानेबाज के चेहरे पर मुस्कान बिखेरी

Tuesday April 28, 2020,

2 min Read

नयी दिल्ली, कोलकाता के अस्पताल में कैंसर का इलाज करा रही राष्ट्रीय स्तर की युवा निशानेबाज के चहरे पर ऑनलाइन शूटिंग टूर्नामेंट ने मुस्कान बिखेर दी।


k

सांकेतिक चित्र (फोटो क्रेडिट: india tv)


इस खिलाड़ी ने अस्पताल के अपने बिस्तर से जूम ऐप के जरिये दूसरी अंतरराष्ट्रीय ऑनलाइन निशानेबाजी चैम्पियनशिप में भाग लिया। उन्होंने इस पहल पर खुशी भी जताई और मैच के बाद आभासी संवाददाता सम्मेलन का हिस्सा भी बनी।


उन्होंने कहा,

‘‘मैं इस मंच पर आकर बहुत खुश हूं। मुझे निशानेबाजी की बहुत याद आ रही है।’’


कीमोथेरेपी से गुजर रही निशानेबाज ने कहा,

‘‘आप सब के साथ होना शानदार है। आप सब को देखकर मुझे काफी खुशी हुई।’’


इस पहल का श्रेय भारत के पूर्व निशानेबाज शिमोन शरीफ को जाता है जिन्होंने ओलंपियन जॉयदीप करमाकर के साथ इस निशानेबाज का स्वागत किया।


जॉयदीप और शरीफ दोनों इस टूर्नामेंट के लिए कमेंट्री टीम का हिस्सा थे। टूर्नामेंट का मकसद कोविड-19 महामारी से बचाव के लिए लागू किये गये लॉकडाउन के बीच निशानेबाजों के बीच प्रतिस्पर्धा बनाये रखने का था।


लंदन ओलंपिक में मामूली अंतर से पदक चूकने वाले जॉयदीप ने कहा,

‘‘वह काफी समय से निशानेबाजी नहीं कर पा रही है। हमारे लिय यह बड़ी बात है कि वह अस्पताल के बिस्तर से हमारे साथ ऑनलाइन प्रतियोगिता में शामिल हुई। यह निश्चित रूप से हमारे लिए सुखद क्षण है।’’


Edited by रविकांत पारीक