कोरोना वायरस के खिलाफ सेना चलाएगी ‘ऑपरेशन नमस्ते’, अब तक बनाए हैं आठ क्वारंटाइन सेंटर

By yourstory हिन्दी
March 28, 2020, Updated on : Sat Mar 28 2020 10:31:30 GMT+0000
कोरोना वायरस के खिलाफ सेना चलाएगी ‘ऑपरेशन नमस्ते’, अब तक बनाए हैं आठ क्वारंटाइन सेंटर
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

देश की सेवा में सबसे आगे रहने वाली सेना ने एक बार फिर अपनी कमर कस ली है। अब सेना कोरोना वायरस से मुक़ाबला करने के लिए ‘ऑपरेशन नमस्ते’ चलाएगी।

कोरोना वायरस के खिलाफ सेना ‘ऑपरेशन नमस्ते’ चलाएगी।

कोरोना वायरस के खिलाफ सेना ‘ऑपरेशन नमस्ते’ चलाएगी।



देश में कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग को जीतने के लिए अब सेना ने भी अपने कदम आगे बढ़ा दिये हैं। भारतीय सेना कोरोना वायरस से मुक़ाबला करने के लिए ‘ऑपरेशन नमस्ते’ शुरू करने जा रही है। कोरोना वायरस को खत्म करने के उद्देश्य से सेना ने देश भर में आठ क्वारंटाइन सेंटर स्थापित किए हैं।


सेना के ‘ऑपरेशन नमस्ते’ का ऐलान खुद सेनाध्यक्ष एमएम नरवणे ने किया है। सेनाध्यक्ष ने कहा है कि कोरोना वायरस के खिलाफ जारी जंग में सरकार की मदद करना सेना का कर्तव्य है।


आर्मी चीफ ने इसी के साथ कहा कि सेनाध्यक्ष होने के नाते उनकी भी यह ज़िम्मेदारी है कि इस लड़ाई में सेना के जवान स्वस्थ और फिट रहें। सेना ने देश के लिए अब तक शुरू किए गए सभी अभियानों को सफलतापूर्वक अंजाम दिया है और ऑपरेशन नमस्ते को भी सफलतापूर्वक अंजाम तक पहुंचाया जाएगा।


गौरतलब है कि साल 2001-2002 के दौरान जब ऑपरेशन पराक्रम चला था तब सेना के जवानों को आठ महीने तक कोई छुट्टी नहीं मिली थी। सेना प्रमुख ने जवानों को भी यह आश्वासन दिया है कि ऐसे समय में उनके करीबी लोगों की देखभाल सेना अच्छे से कर रही है।


कोरोना वायरस के बढ़ते प्रकोप के बीच देश भर में 14 अप्रैल तक लॉक डाउन की घोषणा की गई है। प्रधानमंत्री मोदी ने इस घोषणा के साथ ही देश की जनता को सोशल डिस्टेन्सिंग को प्राथमिकता से अपनाने की अपील है।


देश में कोरोना वायरस संक्रमण के 803 मामले सामने आए हैं, जबकि 19 लोग इसकी चपेट में आकर दम तोड़ चुके हैं, इससे 73 लोग अब तक इससे रिकवर कर चुके हैं।


Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Clap Icon0 Shares
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close