पंकज त्रिपाठी समर्थित एग्रीटेक स्टार्टअप Krishi Network ने 1 करोड़ किसानों से जुड़ने के लिए उठाया ये खास कदम

By रविकांत पारीक
June 07, 2022, Updated on : Sat Aug 13 2022 13:30:20 GMT+0000
पंकज त्रिपाठी समर्थित एग्रीटेक स्टार्टअप Krishi Network ने 1 करोड़ किसानों से जुड़ने के लिए उठाया ये खास कदम
स्टार्टअप ने गुजराती, मराठी, पंजाबी, तमिल, तेलुगु और कन्नड़ भाषा को अपने प्लेटफॉर्म में जोड़ा है. इन भाषाओं के जुड़ने के बाद अब Krishi Network ऐप पर आठ भाषाएं है, जिससे इन राज्यों के किसानों तक Krishi Network की पहुंच बढ़गी.
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
  • +0
    Clap Icon
Share on
close
Share on
close

किसानों तक ताजा जानकारी पहुंचाने और उनके बिजनेस को बढ़ाने में मदद करने के प्रयासों से अभिनेता पंकज त्रिपाठी द्वारा समर्थन प्राप्त एग्रीटेक प्लेटफॉर्म Krishi Network ने हाल ही में घोषणा की है कि उसने छः भाषाओं — गुजराती, तमिल, तेलुगु, मराठी, पंजाबी और कन्नड़ को अपने एग्रीटेक प्लेटफॉर्म में जोड़ा है. प्लेटफॉर्म की क्षेत्रीय क्षमताओं का विस्तार करने से कंपनी द्वारा जानकारी पहुंचाने में आने वाली बाधाओं को कम करने और कर्नाटक, महाराष्ट्र, पंजाब, तेलंगाना, गुजरात व आंध्र प्रदेश तक नेटवर्क बढ़ाने में मदद मिलेगी.

बाएं से दाएं - करण चावला, आशीष मिश्रा, पंकज त्रिपाठी, सिद्धांत भोमिया

बाएं से दाएं - करण चावला, आशीष मिश्रा, पंकज त्रिपाठी, सिद्धांत भोमिया

35 लाख Krishi Network ऐप के उपयोगकर्ता किसानों के एक मजबूत आधार के साथ, Krishi Network देश भर के किसानों और कृषि-व्यवसायियों को ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों प्रकार का सहयोग प्रदान करता है. ऑनलाइन कंसल्टेंसी से लेकर ऑफलाइन सहायता तक, यह प्लेटफॉर्म किसानों को मूल भाषा में सहयोग प्रदान करने के लिए भाषाओं के अनुवाद का उपयोग करेगा. किसान अब अपनी मूल भाषा में एप्लिकेशन का उपयोग करने में सक्षम होंगे, जिससे उनकी सूचना तक पहुंच आसान हो जाएगी. यह पहल किसानों के साथ ज़मीनी स्तर पर अधिक जुड़ने और किसान भाइयों को उनकी जमीन से सर्वाधिक लाभ अर्जित करने में सक्षम बनाने के, कंपनी के दृष्टिकोण के अनुरूप है.


Krishi Network के फाउंडर और सीईओ आशीष मिश्रा ने घोषणा पर टिप्पणी करते हुए कहा, "जब हमने Krishi Network के साथ शुरुआत की, तो हमने महसूस किया कि किसानों द्वारा आधुनिक तकनीकी पद्धतियों को अपनाने में भाषा एक बड़ी बाधा बन रही थी. हम हमेशा किसान भाइयों की समस्याओं के समाधान देने के लिए तत्पर रहते है इस कारण हमें किसानों की विशेष प्रतिक्रिया भी प्राप्त होती है. इन अतिरिक्त भाषाओं को जोड़ने से यह सुनिश्चित होगा कि लाखों देशी भाषा बोलने वाले किसान आसानी से जानकारी प्राप्त कर सकेंगे और बिना किसी परेशानी के शानदार अनुभव प्राप्त कर सकेंगे.”


2019 में अपनी स्थापना के बाद से आज तक Krishi Network किसानों को भविष्य में अधिक आय कमाने के लिए आधुनिक तकनीकी पद्धतियों को सीखने में मदद करता रहा है. कंपनी AI/ML एल्गोरिदम का उपयोग करती है. Krishi Network द्वारा किसानों के ज्ञानवर्धन एवं मार्गदर्शन हेतु एक विशेषज्ञ पैनल बनाया गया है जो 15 मिनट से भी कम समय में आपके द्वारा पूछे गए प्रश्नों के उत्तर प्रदान करता है.


बीते माह, Krishi Network ने किसानों को तकनीकी सहायता प्रदान करने के लिए Krishi+ नामक एक सब्सक्रिप्शन-बेस्ड प्रोडक्ट भी लॉन्च किया है, जिसमें तीन महीने के लिए 801/- रुपये के मामूली शुल्क के भुगतान पर 2 बार प्रति माह खेतों के निरीक्षण की सुविधा दी गई है. कंपनी ने हाल ही में एक एडटेक प्लेटफॉर्म 'Rocket Skills' का भी अधिग्रहण किया है, जो किसानों को बिजनेस शुरू करने के लिए विशेषज्ञों द्वारा ऑनलाइन सहायता और सुनियोजित ऑनलाइन पाठ्यक्रमों के आजीवन उपयोग की सुविधा प्रदान करता है.


आपको बता दें कि बॉलीवुड के मशहूर अभिनेता पंकज त्रिपाठी इसी साल फरवरी महीने में एग्रीटेक प्‍लेटफार्म Krishi Network में निवेशक और ब्रांड एंबेसडर बने थे.