पेटीएम के विजय शेखर शर्मा रैश ड्राइविंग के आरोप में गिरफ्तार, जमानत पर रिहा: रिपोर्ट

पेटीएम के फाउंडर विजय शेखर शर्मा ने पिछले महीने दिल्ली में एक डीसीपी की कार को कथित तौर पर टक्कर मार दी थी और उनके खिलाफ FIR दर्ज की गई है। इस घटना में उन्हें जमानत मिल गई थी।

Tarutr Malhotra

रविकांत पारीक

पेटीएम के विजय शेखर शर्मा रैश ड्राइविंग के आरोप में गिरफ्तार, जमानत पर रिहा: रिपोर्ट

Sunday March 13, 2022,

2 min Read

Paytm, फिनटेक यूनिकॉर्न और सार्वजनिक रूप से सूचीबद्ध कंपनी, के फाउंडर और सीईओ विजय शेखर शर्मा को पिछले महीने दिल्ली में डीसीपी (दक्षिण जिला) की कार को कथित तौर पर टक्कर मारने के आरोप में गिरफ्तार किया गया था। इस घटना में उन्हें जमानत मिल गई थी।

ख़बर इंडियन एक्सप्रेस द्वारा सबसे पहले रिपोर्ट की गई, विजय शेखर शर्मा को दिल्ली पुलिस द्वारा पिछले महीने आईपीसी की धारा 279 (तेज या लापरवाही से ड्राइविंग करने) के तहत गिरफ्तार किया गया था और जमानत पर रिहा कर दिया गया था। दिल्ली पुलिस की प्रवक्ता सुमन नलवा ने पुष्टि की कि उन्होंने "शर्मा को गिरफ्तार कर लिया और उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया।"

मामले के संबंध में दर्ज एक FIR के अनुसार, दिल्ली के अरबिंदो मार्ग में मदर्स इंटरनेशनल स्कूल के बाहर 22 फरवरी को एक जगुआर लैंड रोवर कार, जिसे विजय शेखर शर्मा चला रहे थे, ने डीसीपी (दक्षिण) बेनिता मैरी जैकर की कार को टक्कर मार दी।

डीसीपी की कार को उस समय कॉन्स्टेबल दीपक कुमार चला रहे थे, जिन्हें डीसीपी ने लोकेशन पर तैनात किया था और गाड़ी को एक पेट्रोल पंप पर ले गए थे।

कुमार के अनुसार, वह कार की ड्राइविंग सीट पर थे और इलाके में यातायात साफ करने के लिए अपने एक सहयोगी का इंतजार कर रहे थे, तभी लैंड रोवर कार तेजी से आयी और उनकी कार को टक्कर मार दी। कार का ड्राइवर नहीं रुका, लेकिन कॉन्स्टेबल कुमार उस पर एक नजर डालने में कामयाब हो गए और साथ ही कार का नंबर भी देख लिया।

FIR में, कांस्टेबल कुमार ने कहा कि वह "चालक की पहचान कर सकते हैं।"

कार परिवहन विभाग के जरिए पता चला कि यह कार गुरुग्राम में पंजीकृत एक कंपनी की है, जिसने उन्हें सूचित किया कि यह कार शर्मा को उनके उपयोग के लिए दी थी। FIR दिल्ली के मालवीय नगर स्टेशन में दर्ज की गई थी, जहां शर्मा को गिरफ्तार किया गया था और पिछले महीने जमानत पर रिहा किया गया था।